OIC ने भारत पर साधा निशाना, कश्‍मीर में मानवाधिकार हनन पर जताई चिंता

  • इस्‍लामिक देशों के संगठन ने पाकिस्‍तान का समर्थन किया
  • भारतीय सेना की तैनाती को गलत माना
  • शांति के लिए आतंकी शिविरों का खत्‍म करना होगा

By: Dhirendra

Updated: 03 Mar 2019, 02:48 PM IST

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) की बैठक में पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए आतंकवाद पर हमला बोला था। इसके एक दिन बाद ओआईसी के सदस्य राष्ट्रों ने एक प्रस्‍ताव पास कर कहा कि जम्मू-कश्मीर पाकिस्तान और भारत के बीच विवाद का अहम मसला है। दक्षिण एशिया में अमन के लिए इसका हल होना जरूरी है। इसके साथ ओआईसी ने कश्मीर में कथित मानवाधिकार हनन पर भी गहरी चिंता जताई।

पाक में लोग मांग रहे हैं शांति का नोबेल, फिर इमरान परेशान क्‍यों?

पाकिस्‍तान का समर्थन

ओआईसी के इस प्रस्‍ताव के बाद पाकिस्तान के विदेश विभाग ने भी भारत पर तंज कसते हुए कहा है कि ओआईसी देशों ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का समर्थन किया है। ओआईसी ने भारत पर कश्मीर में मिलिट्री फोर्स की तैनाती को गलत करार दिया है।

टेरर फंडिंग: सऊदी अरब को काली सूची में डालने वाले EC के प्रस्ताव को EU ने किया खारिज

आत्‍मरक्षा के अधिकार की पुष्टि
ओआईसी के प्रस्ताव में अंतरराष्ट्रीय समुदाय को कश्मीर विवाद पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के लागू करने के लिए उनके दायित्व को भी याद दिलाया है। पाक विदेश विभाग के अधिकारियों ने कहा कि ओआईसी के सदस्यों देशों ने पाकिस्तान की ओर से लाए गए नए प्रस्ताव को स्वीकार किया जिसमें भारत द्वारा पाकिस्तान हवाई क्षेत्र के उल्लंघन पर गहरी चिंता जताई गई है। इस्‍लामिक संगठन ने पाकिस्तान के आत्मरक्षा के अधिकार की पुष्टि की है और भारत से धमकाने या ताकत के इस्तेमाल पर संयम बरतने का अनुरोध किया है।

महबूबा मुफ्ती ने की इमरान की तारीपफ, इस फैसले पर जताई खुशी

 

आतंकी पनाहगाहों को समाप्‍त करना जरूरी
आपको बता दें कि भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ओआईसी को संबोधित करते हुए कहा था कि जो देश आतंकवादियों का वित्तपोषण करता है और उसे पनाह देता है, उसे निश्चित ही उसकी धरती से आतंकी शिविरों को समाप्त करने के लिए कहा जाना चाहिए। अगर मानवता को बचाना है तो हमें आतंकवादियों का वित्तपोषण करने वाले और उन्हें पनाह देने वाले देशों से उनकी धरती पर आतंकी शिविरों के ढांचों को समाप्त करने और पनाहगाहों को समाप्त करने के लिए कहना चाहिए।

ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा का सुराग बताने पर अमरीका ने किया करीब 7 करोड़ इनाम देने का ऐलान

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned