सख्त हुए सीरिया के तेवर, गोलन मुद्दे पर UNSC की तत्काल बैठक बुलाने की मांग

सख्त हुए सीरिया के तेवर, गोलन मुद्दे पर UNSC की तत्काल बैठक बुलाने की मांग

Siddharth Priyadarshi | Updated: 28 Mar 2019, 01:05:15 PM (IST) गल्फ

  • अमरीका ने गोलन पहाड़ियों पर दी है इजराइल को मान्यता
  • सोमवार को ट्रंप ने किया था इस घोषणा पर हस्ताक्षर
  • संयुक्त राष्ट्र का प्रस्ताव सीरिया के दावे का समर्थन करता है

दमिश्क। सीरिया का कहना है कि गोलन हाइट्स को इजरायल के क्षेत्र के रूप में मान्यता देने का अमरीकी निर्णय अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन करता है। सीरिया ने गोलन हाइट्स को इजरायल के क्षेत्र के रूप में मान्यता देने के अमरीकी फैसले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की तत्काल बैठक बुलाने की मांग की है। आपको बता दें कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को एक उद्घोषणा पर हस्ताक्षर किए जिसमें USA ने रणनीतिक पठार के रूप में गोलन पहाड़ियों पर इजरायल की अधिकार को मान्यता दी।

संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों को अमरीका ने किया नजरअंदाज

सीरिया का आरोप है कि अमरीका ने गोलन पहाड़ियों पर संयुक्र राष्ट्र के चार्टर का उल्लंघन किया है। बता दें कि 1967 के अरब-इजरायल युद्ध के दौरान इजरायल ने गोलन हाइट्स पर कब्जा कर लिया था। 1981 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा सर्वसम्मति से खारिज किये जाने की बावजूद भी इजराइल ने औपचारिक रूप से इस क्षेत्र पर कब्जा कर लिया। संयुक्त राष्ट्र में सीरियाई मिशन ने फ्रांस की अध्यक्षता वाली काउंसिल प्रेसीडेंसी से कहा है कि गोलन की स्थिति पर चर्चा करने और सुरक्षा परिषद के हालिया प्रस्ताव के उल्लंघन के संबंध में एक तत्काल बैठक आयोजित किए जाने की जरुरत है।

सख्त हुए सीरिया के तेवर

यूएनएससी की इस बैठक का तुरंत बैठक का समय निर्धारित नहीं किया गया है। उधर परिषद के वर्तमान अध्यक्ष फ्रांस ने कहा है कि सीरिया के अनुरोध पर परिषद में चर्चा होगी। परिषद ने गोलन पहाड़ियों की संकट पर चर्चा करने के लिए गुरुवार का समय निर्धारित किया है। उधर हिजबुल्ला प्रमुख हसन नसरल्लाह ने कहा कि सीरिया के पास अपनी जमीन वापस लेने के लिए एकमात्र विकल्प बचा है और वह है लड़ाई।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned