तुर्की ने सीरिया के तीसरे लड़ाकू विमान को गिराया, इदलिब के हवाई क्षेत्र पर लगाई रोक

Highlight

  • वायु सीमा का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्ती बरतेगा सीरिया।
  • इससे पहले रविवार को तुर्की ने सीरिया के दो विमान मार गिराए थे।
  • तुर्की ने कहा है कि रूस समर्थित सैन्य हमलों का वह करारा जवाब देगा।

By: Mohit Saxena

Updated: 04 Mar 2020, 05:53 PM IST

बेरुत। तुर्की और सीरिया के बीच हालात खराब होते जा रहे हैं। सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स वॉर मॉनिटर के अनुसार तुर्की के लड़ाकू जेट ने मंगलवार को उत्तर-पश्चिमी इदलिब प्रांत में सीरिया के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया। इससे पहले रविवार को तुर्की ने सीरिया के दो विमान मार गिराए थे। तुर्की के अनुसार रूस समर्थित सैन्य हमलों के खिलाफ यह अपना अभियान चला रहा है।

हॉलीवुड स्टार किर्क डगलस ने दान की 444 करोड़ की संपत्ति, बेट के नाम नहीं की एक पाई

सीरियाई की स्थानीय मीडिया के अनुसार तुर्की ने L-39 जेट को मार गिराने की पुष्टि की गई है। तुर्की के रक्षा मंत्रालय ने भी ऑपरेशन को जारी रखने की बात कही है। साथ ही लड़ाकू जेट L-39 को मार गिराने की बात स्वीकारी है।

सीरिया ने कहा है कि वायुसीमा का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ वह सख्ती से पेश आएगा। सीरियाई सैन्य हाई कमान ने उत्तर पश्चिमी और विशेष रूप से इदलिब क्षेत्र से किसी भी विमान को उड़ने की इजाजत नहीं दी है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हवाई क्षेत्र में घुसने वाले विमान को दुश्मन का विमान समझा जाएगा,जिसे मार गिराए जाने और उसे रोकने की जरूरत है। इस दौरान तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयब एर्दोगन और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पांच मार्च को मास्को में मिलने वाले हैं। गौरतलब है कि सीरिया के उत्तर पश्चिमी प्रांत इदलिब पर हुए हमले में 34 तुर्की के सैनिकों की जान चली गई थी। इसके जवाब में तुर्की ने 27 फरवरी से हमले तेज कर दिए हैं।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned