script27 lakh fraud in the name of tablet phone, accused arrested from Delhi | टेबलेट फोन के नाम पर 27 लाख की धोखाधड़ी, आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार | Patrika News

टेबलेट फोन के नाम पर 27 लाख की धोखाधड़ी, आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार

-बच्चोंं की पढ़ाई के लिए ऑन लाइन मंगाया गया था टेबलेट

गुना

Published: December 27, 2021 12:35:53 am

गुना। ऑनलाईन पढ़ाई के लिए टेबलेट फोन के नाम पर करीब 27 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को दिल्ली से गिरफ्तार किया है। आरोपी द्वारा बच्चों की ऑनलाइन पढाई के लिए कंपनी से टेबलेट फोन लेकर इसमें अधिक मुनाफा मिलने का प्रलोभन दिया जा रहा था। धोखाधड़ी के उक्त मामले में आरोपी डेढ साल से फरार था।
प्राप्त जानकारी के अनुसार 10 जुलाई 20 को फरियादी महेन्द्र सिंह निवासी शिव कॉलोनी हीराबाग गुना द्वारा गुना कोतवाली पुलिस को रिपोर्ट की गई थी कि बेसिक फस्र्ट लर्निंग ओपीसी प्रायवेट लिमिटेड रांची झारखंड कंपनी के गुना ब्रांच के मैनेजर हेमन्त आचार्य द्वारा उससे बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए टेबलेट फोन बेचकर ज्यादा मुनाफा कमाने की बात की गई थी। इसके लिये उसने कंपनी के भोपाल ब्रांच मैनेजेर प्रवेश दुबे, दिल्ली ऑफिस के प्रेसीडेंट अरुण नारंग एवं कंपनी के एमडी रंधीर कुमार प्रियदर्शी से बात कराई गई। इन सभी के द्वारा टेबलेट फोन बेचकर कम समय मे ज्यादा मुनाफा होने की बात कहते हुए टेबलेट फोन बेचने का अनुबंध किया गया और उसे टेबलट फोन भेजने के एवज मे उनके द्वारा बीच बीच में उससे राशि जमा करवाई गई। उसके द्वारा कंपनी को अभी तक कुल 26,71,495 रुपए की राशि जमा कर दी गई। लेकिन उसे कोई टेबलेट फोन नहीं दिया गया। जब उनके नंबरों पर संपर्क किया तो किसी से संपर्क नहीं हो पा रहा है।
अपने साथ हुई धोखाधड़ी के मामले में फरियादी द्वारा सिटी कोतवाली में शिकायत की गई। जिस पर कोतवाली में धारा 420, 34 भादवि के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। उक्त प्रकरण के मुख्य आरोपी रणधीर कुमार प्रियदर्शी को माह सितंबर 21 में गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं प्रकरण के शेष आरोपियों की सरगर्मी से तलाश जारी रखी गई। इस दौरान प्रकरण के एक और आरोपी अरुण नारंग के दिल्ली मे होने की जानकारी प्राप्त होने पर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु जिले से पुलिस की एक विशेष टीम दिल्ली के लिए रवाना की गई। इस टीम की यहां से गुना पुलिस अधीक्षक द्वारा लगातार स्वयं मानीटरिंग की गई। टीम द्वारा दिल्ली मे कठिन परिस्थितियों का सामना करते हुए जगह-जगह आरोपी की तलाश की गई और अंतत: प्रकरण के दूसरे आरोपी अरुण नारंग निवासी मयूर बिहार नई दिल्ली दिल्ली दबोच लिया गया। जिसे गुना लाकर गत दिवस प्रकरण में गिरफ्तार किया एवं जिससे प्रकरण व शेष आरोपियों के संबंध में पूछताछ कर वैधानिक कार्यवाही की गई। उक्त कार्रवाई में कोतवाली टीआई मदन मोहन मालवीय, मसीह खान, प्रभात कटारे, रविनंदन शर्मा, संजय जाट, मनोज रघुवंशी, विजय रावत, आदित्य कौरव, कुलदीप भदौरिया एवं माखन चौधरी की विशेष भूमिका रही है ।
टेबलेट फोन के नाम पर 27 लाख की धोखाधड़ी, आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार
टेबलेट फोन के नाम पर 27 लाख की धोखाधड़ी, आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.