गुना से गायब 414 बच्चे, अस्सी दिन बाद ढूंढऩे से भी नहीं मिले


-पुलिस ने बनाई थानावार सूची
-सबसे ज्यादा गायब हैं कैंट से, गायब होने वालों में 18 साल से कम आयु की बालिकाएं

By: Mohar Singh Lodhi

Published: 19 Mar 2020, 12:57 PM IST

गुना. जिले से हर महीने 10 से 15 बच्चे गायब हो रहे हैं। थानों में गुमशुदगी और किडनैपिंग की धाराओं में मामला दर्ज किया गया, लेकिन उनका सुराग नहीं पा रहा है। ढ़ाई महीने से400 से अधिक बच्चे गायब है। लेकिन इनमें से मंगलवार को दो बच्चे ही बरामद हो पाए हैं। इन बच्चों में सबसे ज्यादा किशोरी बालिकाएं हैं और उनकी उम्र 15 से 18 साल के बीच है।
१५ से २० प्रतिशत लड़कों की भी संख्या है। पुलिस ने इन गुमशुदा इंसानों की थानावार सूची तैयार की है। सबसे ज्यादा कैंट थाना क्षेत्र से ८४ और चांचौड़ा से ८२ इंसान गायब हैं। हर थाने में गुमशुदा के नाम दर्ज हैं। लेकिन ढूंढऩे से भी बरामद नहीं हो रहे। कैंट थाना क्षेत्र के सकतपुर में गुम होने के बाद युवक का शव मिलने से लोगों की चिंताएं बढ़ गई हैं। इसी थाना क्षेत्र के रमगढ़ा गांव से एक बालक २५ दिन से गायब है। उसका कहीं कोई सुराग नहीं लग पाया है। जिले के १६ थानों में से ४१४ बच्चे गायब हुए, लेकिन ६ थानों में सबसे कम गुमशुदगी दर्ज हैं। इनमें सिरसी में ४, फतेहगढ़ में ७, बमोरी में एक, विजयपुर और जामने में पांच-पांच और मृगवास थाना क्षेत्र से ६ नाबालिग बच्चे गायब हैं। इनमें से एक दिन पहले कोतवाली ने एक और धरनावदा पुलिस ने एक गुम इंसान को दस्तयाव किया है।

किस थाने से कितने बच्चे हो गए गायब
थाना गुमशुदगी
कैंट ८४
चांचौड़ा ८२
कोतवाली ५२
आरोन ४९
राघौगढ़ ४०
कुंभराज २३
धरनावदा २२
मधुसूदनगढ़ १३
बजरंगगढ़ ११
म्याना १०

Mohar Singh Lodhi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned