दस दिन पहले जहां से हटाया था कब्जा वहीं फिर जम गए दुकानदार, जाम और हादसे की आशंका

अतिक्रमण हटाओ मुहिम: प्रशासन भी नहीं कर पाया सड़कों को अतिक्रमण से मुक्त

By: Manoj vishwakarma

Published: 08 Dec 2019, 02:03 AM IST

गुना. स्वच्छता सर्वेक्षण में गुना को टॉप टेन में शामिल कराने प्रशासन और नपा द्वारा अभियान चलाया जा रहा है। १० दिन पहले एबी रोड, हाट रोड से अतिक्रमण हटाया गया, ताकि नियमित सफाई हो सके। लेकिन लोग प्रशासन की इस कार्रवाई को ही आंख दिखाते नजर आए। प्रशासन ने जहां से अतिक्रमण हटाया था, वहां लोग फिर से जम गए हैं। पत्रिका टीम ने शनिवार को कार्रवाई के बाद स्थिति देखी तो काफी नाजुक मिली।

एबी रोड पर दुकानों के अलावा वाहनों की पार्किंग की जा रही है और हाट रोड पर दुकानों के काउंटर पर सड़क तक पहुंच गए। इससे न केवल सड़कों का आकार सिमट गया, बल्कि वाहनों के आवागमन में भी बाधित होने लगा है। उधर, स्थाई अतिक्रमण पर प्रशासन की कार्रवाई का असर नहीं दिख रहा है। उनके द्वारा किए गए अवैध रूप से कब्जे को नहीं हटाया है। मुख्य मार्गों के अलावा लोगों ने कॉलोनियों में भी अतिक्रमण कर रखा है। जहां राहगीरों के रास्ते को रोककर अपने वाहन खड़ा करने शेड बना दिए हैं। उन पर कार्रवाई नहीं की गई।

शोपीस बनी पेड पार्किंग

शहर में वाहनों का दबाव कम करने बापू और पुराने आरटीओ ऑफिस में पेड पार्किंग शुरू की है। इसके बाद भी बैंकों के आगे वाहनों की कतार लग रही हैं। बाजार में दुकानों के आगे वाहन खड़े किए जा रहे हैं, इससे जाम के हालात निर्मित हो रहे हैं। बेसमेंट पर भी अब तक कोई सख्ती नहीं दिखाई गई।

नियमित फॉलोअप नहीं

नपा और प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने के लिए मई से लेकर नवंबर तक तीन बार कार्रवाई की हैं, लेकिन आगे अतिक्रमण हटता है और पीछे फिर से होने लगता है। नियमित फालोअप नहीं किया जाता। एबी रोड के अलावा बाजार में दुकानों से ज्यादा रोड पर सामान है। ग्राहकों को खड़े रहने जगह नहीं है।

जद तय नहीं
बाजार में भी दुकानों के आगे वाहनों और दुकानों की जद तय नहीं है। इस वजह से लोग बीच रोड पर वाहन और दुकान का सामान रख देते हैं। इससे दूसरे लोगों को निकलने में असुविधा होती है। इसके अलावा बड़े लोगों पर कार्रवाई नहीं होती। पक्षपात करने के आरोप लगते हैं। फिर भी ध्यान नहीं देते।

हम समझा चुके, अब कार्रवाई की जाएगी
&हमने दुकानदारों को एक बार समझा दिया है। चेतावनी भी दी, लेकिन उनके द्वारा बार-बार अतिक्रमण किया जा रहा है। एक-दो दिन में जब्ती की कार्रवाई की जाएगी। साथ ही न्यालयीन कार्रवाई भी की जाएगी।
-संजय श्रीवास्तव, सीएमओ नपा गुना

Manoj vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned