तालाब पर श्रमदान करने के लिए उमड़ पड़ा पूरा शहर

तालाब पर श्रमदान करने के लिए उमड़ पड़ा पूरा शहर

Satish More | Publish: May, 18 2018 12:26:17 PM (IST) Guna, Madhya Pradesh, India

जल है तो कल है, जल संरक्षण के उद्देश्य से पत्रिका ने अमृत जलम् अभियान की गुना शहर में शुरूआत की

गुना. जल है तो कल है, जल संरक्षण के उद्देश्य से पत्रिका ने अमृत जलम् अभियान की गुना शहर में शुरूआत की है। इसके तहत गुरुवार को शहर की समाजसेवी, कॉलेज छात्र-छात्राओं, धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधि समेत शहर के कई लोग गोपालपुरा तालाब पहुंचे, वहां श्रमदान कर तालाब की सफाई की और गहरीकरण के लिए खुदाई भी की।

शहर के बीचों-बीच बसा गोपालपुरा तालाब वर्तमान में बारिश न होने से सूखा पड़ा हुआ है। इस तालाब का गहरीकरण करने और आसपास के क्षेत्रों के जल स्त्रोतों को रिचार्ज करने का बीड़ा पत्रिका ने अमृत जलम् अभियान के तहत उठाया है।

गुरुवार को सुबह साढ़े सात बजे करीब कॉलेज छात्र-छात्राओं, धार्मिक व समाजसेवी संगठनों के अलावा अन्य लोगों ने वंदेमातरम् के जयघोषों के साथ गहरीकरण के लिए गेंती चलाई, फावड़े चलाए और वहां की मिट्टी फेंकी। खास बात ये रही कि गोपालपुरा तालाब भारत माता की जय से गूंजता रहा।

जेसीबी से अलग चल रही है खुदाई
गोपालपुरा तालाब पर पत्रिका का अमृत जलम् अभियान 13 मई को भव्य कार्यक्रम के साथ शुरू हुआ था, जिसका शुभारंभ नगर पालिका अध्यक्ष राजेन्द्र सलूजा ने किया था। वहां एक जेसीबी लगातार खुदाई कर रही है। ताकि तालाब जल्द गहरा हो सके।

जल है तो कल है। लेकिन समाज और संगठन ध्यान नहीं देते। जल के बिना जीवन शून्य है, सभी विकास को रोककर जल पर ध्यान देना चाहिए। इसके लिए प्रेरित करें। बारिश के पानी को संग्रहित करने प्रयास अच्छा है।
-पंडि़त लखन शास्त्री, आचार्य

अमृतमं जलम अभियान समाज के लिए महत्वपूर्ण है। यह पुनीत कार्य है, इससे लोगों में पानी को लेकर चेतना पैदा होगी। समाज में चेतना का विकास होगा। पत्रिका ऐसे कार्य करती रहे, हम पत्रिका के अभियान के साथ हैं।
-प्रदीप सेन, संचालक ओमकार

पत्रिका द्वारा गहरीकरण को लेकर आरंभ की गई मुहिम सराहनीय है। निश्चित रूप से यह मुहिम कारगर साबित होगी। गुना शहर को फायदेमंद होगी, पिछले साल भी मुहिम चलाई थी। पानी संरक्षण हम सबकी जबावदारी है। सभी आगे आना चाहिए।
-महेंद्र सिंह किरार, जयश्रीराम संस्था

गोपालपुरा तालाब में पत्रिका द्वारा गहरीकरण अभियान शुरू किया गया है। इस पर प्रशासन भी जोर दे तो काम और भी बेहतर किया जा सकता है। जमीन का जल स्तर नीचे नहीं जाएगा। सभी समाज के लोगों को भी इस कार्य के लिए आगे आना चाहिए।
-कल्याण सिंह लोधा, लोधा समाज

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned