प्रभारी सीएमओ पीएचई कार्यालय पहुंची, पंप ऑपरेटर्स का किया वेरिफिकेशन

नपा जल प्रकोष्ठ की समीक्षा बैठक ली, दिए आवश्यक दिशा निर्देश

By: Narendra Kushwah

Updated: 01 Mar 2020, 11:58 AM IST

गुना. डिप्टी कलेक्टर सोनम जैन को नगर पालिका सीएमओ का प्रभार मिलने के बाद शनिवार को वे अचानक पीएचई कार्यालय पहुंच गई। यहां सबसे पहले उन्होंने पंप ऑपरेटर्स, टैंकर चालक व अन्य टेक्नीशियनों का वेरिफिकेशन किया। करीब एक घंटे तक प्रभारी सीएमओ ने पीएचई कार्यालय में बैठ नपा जल प्रकोष्ठ की समीक्षा बैठक ली। साथ ही जल वितरण व्यवस्था को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने जल प्रकोष्ठ प्रभारी जीके अग्रवाल से स्टाफ से संबंधित जानकारी ली तथा कई फाइलें व दस्तावेज भी चैक किए। बताया जाता है कि शेष कर्मचारियों का वेरिफिकेशन सोमवार को किया जाएगा।
जानकारी के मुताबिक नगर पालिका सीएमओ संजय श्रीवास्तव पर कार्रवाई होने के बाद कलेक्टर भास्कार लाक्षाकार ने डिप्टी कलेक्टर सोनम जैन को सीएमओ का प्रभार दे दिया है। यह जिम्मेदारी मिलने के बाद सोनम जैन पहली बार पीएचई कार्यालय पहुंची। यहां पहले से ही बड़ी संख्या में पंप ऑपरेटर, टैंकर ड्राइवर व टेक्नीशियन मौजूद थे, जिन्हें सूचना देकर ही बुलाया गया था। सभी कर्मचारी लाइन में लगने के बाद एक एककर प्रभारी सीएमओ के समक्ष उपस्थित हुए और सभी ने अपने आधार कार्ड दिखाए। जिसके बाद सोनम जैन ने एक एक कर्मचारी के आधार नंबर लिखते हुए उनका वेरिफिकेशन किया। साथ उनसे कार्यक्षेत्र व कब से काम कर रहे हैं, की जानकारी ली। पहले दिन करीब 70 से 80 कर्मचारियों का वेरिफिकेशन किया गया। बताया जाता है कि कर्मचारियों के यहां आने से फील्ड में कार्य प्रभावित न हो, इसे ध्यान मेें रखते हुए सभी कर्मचारियों को एक साथ नहीं बुलाया गया था। शेष कर्मचारियों को सोमवार को बुलाया गया है।
-
समीक्षा बैठक में यह दिए निर्देश
- ग्रीष्मकाल में पेयजल संकट उत्पन्न न हो, इसके लिए समस्त पाइप लाइन, टंकी आदि के लीकेज तत्काल ठीक कराए जाएं।
- जल उपभोक्ताओं को जागरुक करने मुनादी कराएं। जिससे वह हर माह जलकर समय पर जमा कराए। बकाया जल कर की राशि तत्काल वसूली जाए।
- अवैध नल कनेक्शनधारी उपभोक्ताओं के कनेक्शन वैध कराएं।
- अवैध कनेक्शनधारी अपने कनेक्शन माह मार्च 2020 तक 3 हजार रुपए जमा कराकर वैध कराएं। क्योंकि इसके बाद दो हजार रुपए समझौता शुल्क अलग से लिया जाएगा।
- वर्तमान में जो नलकूप बंद हैं या टंकी से पेयजल प्रदाय के कारण उपयोग में नहीं आ रहे, उनके विद्युत कनेक्शन अलग करने की कार्यवाही की जाए।

Narendra Kushwah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned