कोरोना की बढ़ी पाबंदियां, बाजार और डेयरियां आज से होंगी आठ बजे से बंद, आंगनबाडिय़ां भी रहेंगी बंद

-बाहर जाने की वजाय गुना में ही मिल सकेगा कोरोना का इलाज
-रात में कफ्र्यू नहीं, तफरी करने वालों पर होगी रोक-टोक, जल्द बंद हो सकते हैं धार्मिक स्थल
ऑन लाइन दर्शन कराने की लागू हो सकती है व्यवस्था, क्राइसिस समिति की बैठक में निर्णय

By: Narendra Kushwah

Updated: 06 Apr 2021, 11:59 PM IST

गुना। यदि आप कोरोना से पीडि़त हैं तो आपको इलाज के लिए बाहर जाने की जरूरत नहीं हैं। कोरोना से संबंधित इलाज आपको गुना जिला अस्पताल के अलावा यहां के चिन्हित निजी अस्पतालों में भी मिल सकेगा। इसके अलावा निजी अस्पतालों में भी आइसोलेशन वार्ड बनाए जाएंगे। बढ़ते कोरोना के प्रभाव को देखते हुए लोग इलाज के लिए इंदौर-भोपाल न जाएं, इसके लिए जिला क्राइसिस समिति की बैठक में यहां के निजी अस्पतालों में इलाज उपलब्ध कराने का निर्णय लिया। इसके पीछे उद्देश्य ये है कि इंदौर-भोपाल के शासकीय व निजी अस्पतालों में कोरोना के मरीजों की संख्या बढऩे से वहां भी जगह कम पडऩे लगी है। इसके साथ ही वहां जाने और आने वालों की वजह से गुना को भी कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है, आवाजाही बंद होती है तो गुना में कोरोना को काबू किया जा सकता है। इसके अलावा बाजार बंद को रात्रि 9 बजे की जगह आठ बजे से बंद करने का निर्णय लिया गया, इस पर 7 अप्रैल से अमल शुरू हो जाएगा। चर्चा के अनुसार यह संभावना जताई जा रही है कि कोरोना के मरीज कम नहीं हुए तो शनिवार से सोमवार को सुबह तक का गुना में भी लॉक डाउन हो सकता है।


गुना में बढ़ते कोरोना के प्रभाव को देखते हुए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी कुमार पुरुषोत्तम ने जिला क्राइसिस समिति की बैठक बुलाई थी। उसमें प्रदेश के पंचायत मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया को आना था लेकिन उनके निज कर्मचारी के एक बच्चे के कोरोना संक्रमित हो जाने से वे शामिल नहीं हो पाए। यह बैठक मंगलवार को दोपहर पौने बारह बजे शुरू हुई जो लगभग आधे घंटे से अधिक समय चली। बैठक में कलेक्टर के अलावा एसपी राजीव कुमार मिश्रा, गुना विधायक गोपीलाल जाटव, भाजपा जिलाध्यक्ष गजेन्द्र सिकरवार और सांसद प्रतिनिधि सचिन शर्मा मुख्य रूप से उपस्थित रहे।
बैठक में अलग-अलग बात रखी
इस बैठक में जिला क्राइसिस समिति के सदस्यों ने अपनी बात अलग-अलग रखी, किसी ने वैक्सीन लगवाने के लिए स्थान बढ़ाने की बात कही तो किसी ने सुरक्षा बतौर बाजार रात्रि 9 बजे की जगह आठ बजे समय किए जाने की बात रखी। कलेक्टर ने इस बैठक में बताया कि गुना में कोरोना पॉजीटिव के केसों की संख्या बढ़ती जा रही है, इसके लिए सख्ती किया जाना आवश्यक है। इंदौर और भोपाल की यात्रा आमजन कम करे। उन्होंने कहा कि कोरोना का बचाव मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंस का पालन करना ही है, आम जन इसका पूरी तरह पालन कर लें तो कोरोना संक्रमण से गुना को बचाया जा सकता है।
धार्मिक स्थलों को बंद करने का भी आया सुझाव
इस बैठक में कुछ सदस्यों का कहना था कि इस माह नवरात्रि और हनुमान जयंती के अलावा अन्य त्यौहार हैं, इसको देखते हुए धार्मिक स्थल दर्शनार्थियों के लिए बंद कर दिए जाना चाहिए, जिससे कोरोना कम हो सके।इस सुझाव के बाद कलेक्टर ने कहा कि धार्मिक स्थल बंद किए जा सकते हैं।इंदौर-भोपाल की तर्ज पर धार्मिक स्थलों के दर्शन ऑन लाइन कराए जा सकते हैं, जिससे उन धार्मिक स्थलों पर दर्शनार्थियों की कम भीड़ हो सके।

जिला क्राइसिस समिति की बैठक में ये हुए निर्णय
जिला क्राइसिस समिति की बैठक में लिए गए निर्णयानुसार बुधवार सात अप्रैल से रात्रि आठ बजे से ही बाजार बंद होंगे। डेयरियों को भी रात्रि आठ बजे बंद करने का कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने आदेश जारी कर दिया है। जिस गली में पंाच पेंशेंट निकलेंगे वहां कन्टेनमेन्ट जोन बनाया जाएगा।ग्रामीण क्षेत्रों में भी क्वारन्टीन सेन्टर बनाए जाएंगे। इसके साथ ही बैंक में होने वाली भीड़ को नियंत्रित करने का जिम्मा बैंक प्रबंधन का होगा, इस पर प्रशासनिक अफसर भी नजर रखेंगे। इंदौर-भोपाल या अन्य जगह से आने-जाने से हर व्यक्ति बचे। इसके साथ ही शादियों में भी 5० से अधिक लोग एकत्रित नहीं हो पाएंगे। बाजार बंद तो रहेंगे लेकिन चाय की दुकान, मेडिकल व पेट्रोल पम्पों रात्रि आठ बजे के बाद भी खुले रहेंगे।
ये भी आए सुझाव
- भुल्लनपुरा और श्रीराम कॉलोनी में भी वैक्सीनेशन कराने के लिए वहां सेन्टर बनाए जाएं।
- शहर में वैक्सीनेशन सेन्टर बढ़ाए जाएं।
- कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला अस्पताल में पलंगों की संख्या बढ़ाई जाए।
- मास्क न लगाने और सोशल डिस्टेंस का पालन न करने वालोंं पर और सख्त कार्रवाई हो।
-जन जागरण अभियान तेजी से चलाया जाए। इसमें समाजसेवी संस्थाओं को आगे लाया जाए।
ये रहे उपस्थित
जिला संकट समूह की बैठक में कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम, एसपी राजीव कुमार मिश्रा, एडीएम विवेक रघुवंशी, एसडीएम अंकिता जैन, आरटीओ रवि बरेलिया, गुना विधायक गोपीलाल जाटव, भाजपा जिलाध्यक्ष गजेंद्र सिंह सिकरवार, कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरिशंकर विजयवर्गीय, गुलशन डाबर, अमित सोगानी, राजेश अग्रवाल, सुनील शुभम, सुरेश रघुवंशी रोटरी क्लब अध्यक्ष, नूर उल्ला युसूफ जही, कमल घाघ, मिन्टू आदि उपस्थित थे।

Narendra Kushwah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned