scriptEnergy Minister is in charge of the district, yet the power officers a | ऊर्जा मंत्री जिले के प्रभारी, फिर भी विद्युत अफसरों की जमकर मनमानी | Patrika News

ऊर्जा मंत्री जिले के प्रभारी, फिर भी विद्युत अफसरों की जमकर मनमानी

नहीं रोक पा रहे चोरी, ईमानदार उपभोक्ताओंं को बता रहे बिजली चोर
-टारगेट पूरा करने के लिए थमा रहे मनमाने बिजली बिल,बगैर बुलाए ही हो जाती है विद्युत मीटर की जांच, बिल जमा न करने पर काटी जा रही है बिजली

गुना

Published: March 26, 2022 12:42:18 pm

गुना। गुना जिले के प्रभारी प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्र सिंह तोमर हैं। इसके बाद भी यहां के विद्युत अधिकारियों को न प्रभारी मंत्री का डर है और न प्रशासनिक वरिष्ठ अधिकारी का। ऊर्जा मंत्री का साफ कहना है कि मनमाना बिल किसी भी उपभोक्ता को न दिया जाए, आकलित खपत वाला बिल न दें और मीटर में यदि कोई खराबी है तो उपभोक्ता के सामने ही उसका मीटर खोलें और उसे बताएं कि कैसे उसके मीटर में बिजली चोरी हो रही थी। लेकिन ऊर्जा मंत्री के इन आदेशों का पालन करने को गुना जिले में पदस्थ किसी भी सूरत में तैयार नहीं हैं। जिसके चलते यहां का उपभोक्ता बेहद परेशान है। कोरोना काल के बाद से बिजली कंपनी का रवैया आम जनता के प्रति काफी खराब रहा है। यही नहीं बिजली वितरण से लेकर बिल की राशि देने में मनमानी की जा रही है। कंपनी का मनमाना यह रवैया यहां तक सीमित नहीं है। विभाग ने बिल वसूली के लिए जिस टीम को लगाया है उसके कर्मचारी आम उपभोक्ता से न सिर्फ अभद्रता करने में जरा भी डर महसूस नहीं कर रहे बल्कि उपभोक्ताओं को जानकारी दिए बिना ही चोरी छुपे कनेक्शन काट रहे हैं। इस तरह ईमानदार और नियमित बिल जमा करने वाले उपभोक्ताओं को कथित रूप से मीटर में विद्युत चोरी करना बताकर विद्युत चोर बनाया जा रहा है। यही नहीं उपभोक्ताओं की सुनवाई आला अधिकारी भी नहीं कर रहे हैं। ऐसे में गर्मी के मौसम में उपभोक्ता परिवार को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जबकि बीते समय मनमाने बिल दिए जाने के लिए प्रद्युम्र सिंह तोमर को खुद कुछ उपभोक्ताओं से मिलकर खेद भी व्यक्त करना पड़ा है। बिजली कंपनी के अफसरों की मनमानी से त्रस्त जनता का गुस्सा जल्द सड़क पर देखने को मिल सकता है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक यह बात किसी से छुपी नहीं है कि कोरोना काल में एक दौर ऐसा आया था जब सभी लोगों के काम धंधे पूरी तरह से ठप हो गए थे। कई महीनों तो क्या दो साल बाद भी आम आदमी और मध्यम वर्गीय परिवार की आर्थिक स्थिति नहीं सुधर सकी है। कोरोना काल में सरकार ने संवेदनशीलता दिखाते हुए बिल जमा करने में राहत दी थी। लेकिन जैसे ही कोरोना संक्रमण का असर कम हुआ तो बिजली कंपनी ने अपनी असली चेहरा दिखा दिया। आर्थिक रूप से कमजोर और सामान्य दिनों में नियमित रूप से बिल जमा करने वाले उपभोक्ताओं को मनमाने ढंग से दो से तीन गुना राशि बढ़ाकर बिल थमा दिए। जिन्हें देखकर उपभोक्ता के होश उड़ गए। क्योंकि बिल में जितनी राशि दी गई है वह तो उपभोक्ता की एक महीने की आमदनी भी नहीं है। ऐसे में वह पूरा बिल कैसे जमा कर पाएगा।
-
ऊर्जा मंत्री जिले के प्रभारी, फिर भी विद्युत अफसरों की जमकर मनमानी
ऊर्जा मंत्री जिले के प्रभारी, फिर भी विद्युत अफसरों की जमकर मनमानी

इन क्षेत्रों में हो रही बिजली चोरी
शहर सहित जिले भर में ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है जहां अलग-अलग तरीके से बिजली चोरी की जा रही है। जिसे पकडऩे में बिजली कंपनी अब तक नाकाम रही है। हां इतना जरूर है कि जो ईमानदार और सामान्य व्यक्ति है उससे कंपनी जबरन बिल भी वसूल लेती है और उसका कनेक्शन भी काट देती है लेकिन जो धनाढ्य वर्ग है और दबंग है उसका कुछ नहीं बिगाड़ पा रही है। ऐसे बड़े बकायदारों की लंबी लिस्ट बिजली कंपनी के पास है। जिसे वह बीते साल सार्वजनिक स्थानों पर चस्पा भी कर चुकी है। इसके बावजूद बिजली कंपनी न तो कनेक्शन काट पाई और न ही बकाया वसूल पाई। जहां तक जिला मुख्यालय पर बिजली चोरी का सवाल है तो शहर के कुछ इलाके ऐसे हैं जो बिजली चोरी के लिए जाने जाते हैं। इनमें शहर की श्रीराम कॉलोनी हड्डी मिल, बूढ़ेबालाजी, हरिपुर रोड,आरोन, चांचौड़ा के अलावा कई गांव ऐसे हैं जहां खुले आम बिजली चोरी हो रही है, जिनको पकडऩे तक का साहस बिजली अधिकारी नहीं कर पा रहे हैं। इसके अलावा लाइन लॉसेस भी दूसरे शहरों की अपेक्षा यहां कम नहीं हैं।
-
ऐसे बताती है बिजली चोर
गुना शहर के आधा दर्जन से अधिक लोगों ने बताया कि पहले बिजली का बिल आने की बिजली कंपनी में शिकायत की, जिसकी शिकायत पर एक टीम विद्युत मीटर ले गई। नियमानुसार ये है कि उपभोक्ता के यहां से लिए गए विद्युत मीटर की जांच बिजली कंपनी के अधिकारी संबंधित उपभोक्ता के यहां करेंगे, लेकिन बिजली कंपनी के अधिकारी बगैर उपभोक्ता बुलाए मीटर की जांच कर उसमें चोरी करना नहीं बता रहे बल्कि इस चोरी का बिल भी जो एक मनमानी राशि का होता है, वह थमाया जा रहा है। बिजली कंपनी के एक अधिकारी का कहना था कि यदि हम ऐसा नहीं करें तो कहां से राजस्व वसूली का टारगेट पूरा करेंगे।
-
शिकायत तक नहीं सुनते अफसर
कई उपभोक्ताओं ने बताया कि बिजली कंपनी में मीटर निकालकर ले जाने के बाद उस मीटर में क्या खराबी है इस बारे में पूछा जाता है तो वहां इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी जाती है उनसे कहा जाता है कि आपके मीटर में चोरी होना पाया गया है, बिजली का बिल भेज दिया है, उसे जमा करा दीजिए। खास बात य है कि जिनके यहां पति-पत्नी केवल हैं किरायेदार रहते भी नहीं हैं इसके बाद भी उनके यहां बिजली चोरी करना बता दिया जाता है।
इनका कहना है
-नियमानुसार ही काम होना चाहिए, उपभोक्ताओं की बगैर अनुपस्थिति में मीटर चोरी करना बताया जा रहा है, उस पर रोक लगवाएंगे। रीडिंग के बिल भेजे जाएं, कोई उपभोक्ता के यहां बिजली चोरी मिली है या हो रही है तो उस पर कार्रवाई भी होना चाहिए। जिन पर बकाया राशि है वे बिल की राशि का भुगतान करें जिससे बिजली आपूर्ति नियमित मिलती रहे।
प्रद्युम्न सिंह तोमर ऊर्जा मंत्री मप्र

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.