scriptFraud of Electricity company in madhya pradesh | बिजली कंपनी का कारनामा: 2800 रीडिंग का बिल 2.67 लाख थमाया | Patrika News

बिजली कंपनी का कारनामा: 2800 रीडिंग का बिल 2.67 लाख थमाया

2800 थी रीडिंग, दर्ज कर ली 28000

- आरोप: शिकायत करने पर अधिकारी कह रहे हैं पहले पूरा बिल जमा करो, फिर बिल सुधारा जाएगा।

गुना

Published: June 14, 2022 04:25:53 pm

गुना। बिजली विभाग पर जहां हमेशा कभी अधिभार लगाने या कुछ और गड़बड़ी के हमेशा आरोप लगते रहते हैं। वहीं अबकि बार इसकी ओर से एक ऐसी गलती की गई है,जिसके चलते एक उपभोक्ता को भारी परेशानी का न केवल सामना करना पड़ रहा है। बल्कि शिकायत करने पर भी अधिकारी इस ओर ध्यान न देते हुए 2 लाख 67 हजार रुपए जमा करने की नसीहत दे रहे हैं।

electricity_fraud.jpg

दरअसल बिजली कंपनी के रीडर की गलती का दंश एक उपभोक्ता को भुगतना पड़ रहा है। वह बीते एक साल से बिजली कंपनी के चक्कर लगा रहा है, लेकिन आज तक उसकी समस्या का निराकरण नहीं हो सका है। इससे वह स्वयं ही नहीं बल्कि पूरा परिवार परेशान है।

पीड़ित उपभोक्ता ओमप्रकाश ओझा ने बताया कि वह हमेशा से नियमित रूप से बिल जमा करता आया है। इसी तरह 13 महीने पहले उसने कुल 5200 रुपए बिल जमा कर निल कर दिया था। इसके बाद जो नया मीटर रीडर आया तो उसने मीटर में से देखकर 2800 रीडिंग की जगह 28 हजार दर्ज कर ली।

इसका परिणाम यह हुआ है कि अगले महीने बिल 2 लाख 67 हजार रुपए की राशि का आया। इसे पहली बार देखकर वह चौंक गया। परिवार के अन्य सदस्यों ने भी बिल देखा तो सभी चिंतित हो गए।

अब सभी सोच रहे हैं कि इतना बिल कैसेे जमा होगा। प्रारंभ में मुझे लगा कि बिजली में जो गलत राशि आई है, वह संशोधित हो जाएगी, तो वह बिल जमा कर देगा। यह सोचकर वह बिजली कंपनी कार्यालय गया। लिखित में बिल सुधारने आवेदन भी दिया लेकिन अधिकारियों ने समस्या को गंभीरता से न लेते हुए समय पर बिल संशोधित नहीं किया।

कई बार चक्कर लगाने के बाद बिल जमा करने की तारीख भी निकल गई। इसके बाद वह गया तो अधिकारियों ने कहा कि पहले तुम पूरा बिल जमा करो, उसके बाद ही बिल में सुधार हो पाएगा।

बकौल ओमप्रकाश, अधिकारियाें से बहुत गुहार लगाई कि इतनी बड़ी राशि का बिल वह जमा नहीं कर सकता, लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी। इसके बाद हर माह बिल की कुल राशि में 10 हजार रुपए बढ़कर आने लगे।

इस तरह उसके बिल की वर्तमान कुल राशि 3 लाख 45 हजार 879 रुपए हो गई है। अधिकारियों के सनुवाई नहीं करने से वह बेहद चिंतित है। उसे समझ नहीं आ रहा है कि वह आखिर इस समस्या को लेकर कहां जाए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमारCoronavirus News Live Updates in India : राजस्थान में एक्टिव मरीज 4 हजार के पारडिप्टी सीएम बनने के बाद आज पहली बार लालू यादव से मिलेंगे तेजस्वी यादव, मंत्रालयों के बंटवारे पर होगी चर्चाRajasthan BSP : 6 विधायकों के 'झटके' से उबरने की कवायद, सुप्रीमो Mayawati की 'हिदायत' पर हो रहा कामJammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 'बिहार वृक्ष सुरक्षा दिवस' कार्यक्रम में हुए शामिल, पेड़ को बांधी राखी, कहा - वृक्ष की भी होनी चाहिए रक्षाअमरीका: गर्भपात के मामले में फेसबुक ने पुलिस से शेयर की माँ-बेटी की चैट हिस्ट्री, अमरीका से लेकर भारत तक रोष, निजता के अधिकार पर उठे सवालLegends league के लिए पाकिस्तानी क्रिकेटरों को वीजा देगा भारत?, BCCI अधिकारी ने कही ये बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.