MP में 1 नंबर एसपी कार्यालय गुना का बना, आईएसओ अवार्ड मिला

- पूर्व में दो थानों को मिल चुका है आईएसओ अवार्ड, नवागत एसपी बोले-कोई भी हो, अपराधी की श्रेणी में आता है तो उस पर होगी कार्रवाई

गुना। जिले के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक राहुल लोढ़ा के कार्यकाल में जिले की सिटी कोतवाली, अजाक पुलिस थाने के बाद पुलिस अधीक्षक कार्यालय को भी आईएसओ अवार्ड मिल गया। इसका प्रमाण पत्र एक कार्यक्रम में निवर्तमान पुलिस अधीक्षक राहुल लोढ़ा और नवागत पुलिस अधीक्षक तरुण नायक ने ग्रहण किया।

कार्यक्रम में राहुल लोढ़ा ने विभाग के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा जो मेहनत की, उसे अंजाम तक पहुंचाया। वहीं नवागत एसपी तरुण नायक ने कहा कि प्रदेश का पहला पुलिस अधीक्षक कार्यालय गुना है, जिसे आईएसओ अवार्ड मिला। इसके लिए राहुल लोढ़ा और उनकी टीम बधाई के पात्र है।

इस प्लान को आगे जारी रखा जाएगा, जिससे दूसरे थाने भी आईएसओ हो जाएं। इससे थाना भी एक नया रूप ले लेता है और रिकार्ड भी व्यवस्थित हो जाता है। उन्होंने राहुल लोढ़ा के कार्यकाल की प्रशंसा करते हुए इस अच्छे कार्य को आगे भी जारी रखने का वायदा किया।

एसपी कार्यालय को मिलने वाले आईएसओ अवार्ड के लिए एसपी ऑफिस में आयोजित कार्यक्रम के प्रारंभ में स्वागत भाषण अजाक डीएसपी विवेक शर्मा ने दिया। उन्होंने पुलिस अधीक्षक कार्यालय को गंगोत्री, इससे पूर्व मिले आईएसओ अवार्ड वाले कोतवाली को हर की पौड़ी और अजाक पुलिस थाने को विठुर जैसा बताया।

MP में 1 नंबर एसपी कार्यालय गुना का बना, आईएसओ अवार्ड मिला

इसमें पूर्व में आईएसओ अवार्ड में सहयोग करने वाली टीम को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक टीएस बघेल ने भी लोढ़ा के कार्यकाल की प्रशंसा की। इससे पहले राहुल लोढ़ा को विदाई दी और तरुण नायक का स्वागत किया।

...मैं दूसरी बार सौंप रहा हूं कार्यभार
निर्वतमान पुलिस अधीक्षक राहुल लोढ़ा ने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि मैं दूसरी बार तरुण नायक को कार्यभार सौंप रहा हूं। पूर्व में मैंने मंडला में उनको काम सौंपा था, दूसरी बार मौका गुना में आया। उन्होंने नायक के कार्य करने के तरीके की तारीफ भी की।

SP तरुण ने गिनाई प्राथमिकताएं
नवागत पुलिस अधीक्षक तरुण नायक ने जिले की सभी पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को अपनी प्राथमिकताएं बताने के साथ-साथ काम के तौर-तरीके भी बताए। उनका कहना था कि मेरी प्राथमिकता जनता को बेहतर सेवा देने की है, जिससे जनता में सुरक्षा का भाव पैदा हो।

उन्होंने कम्युनिटी पुलिसिंग पर जोर देने की बात कहते हुए कहा कि पुलिस के साथ-साथ नगर व ग्राम रक्षा समितियों का सहयोग लिया जाएगा। टेक्नोलॉजी का भी उपयोग करेंगे। नवागत पुलिस अधीक्षक ने अपने साफ लहजे में कहा कि मेरी प्राथमिकता नियमानुसार काम होने की और निष्पक्ष कार्रवाई की है।

कानूनी प्रक्रिया होनी चाहिए, अपराध की श्रेणी में कोई आता है या लिप्त है उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई कराई जाएगी। गुना पुलिस का जनता के प्रति जो रिस्पॉन्स है उसका स्तर और बनाए रखना है।

कार्यक्रम में नवागत सीएसपी नेहा ने आभार व्यक्त करते हुए आईएसओ को परिभाषित किया। संचालन एसपी के स्टेनो टू अनिल साहू ने किया। इस दौरान एसडीओपी बीपी तिवारी, बीपी समाधिया, राजेन्द्र रघुवंशी,डीएसपी ट्रेफिक मुकेश दीक्षित, टीआई कोतवाली अवनीत शर्मा, कैंट टीआई एमएल मालवीय आदि उपस्थित थे।

संभाला कार्यभार
नवांगत पुलिस अधीक्षक तरुण नायक शनिवार को दोपहर गुना आए उन्होंने यहां आकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एसपी का कार्यभार संभाला। जिले के पुलिस अधिकारियों से परिचय प्राप्त किया।

दीपेश तिवारी
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned