scriptHave been freed from the shackles of Corona, not from Corona, just tak | पत्रिका अलर्ट : कोरोना के बंधनों से मुक्त हुए हैं कोरोना से नहीं, अभी नहीं संभले तो हो जाएगी देर | Patrika News

पत्रिका अलर्ट : कोरोना के बंधनों से मुक्त हुए हैं कोरोना से नहीं, अभी नहीं संभले तो हो जाएगी देर

- हर दिन निकल रहे नए संक्रमित मरीज, जिले में एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 25 पर पहुंची
- पाबंदी हटते ही मास्क लगाना तक भूले नागरिक, प्रशासन भी हुआ लापरवाह

गुना

Updated: May 13, 2022 01:54:44 am

गुना. मई माह स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद अहम है। भीषण गर्मी के दौर में हर दिन निकल रहे कोरोना के नए केस आमजन सहित प्रशासन को चिंता में डाल रहे हैंं। क्योंकि इसी तरह यदि केस बढ़ते गए तो फिर कंट्रोल करना मुश्किल हो सकता है। इसलिए अभी से ही एहतियात बरतना जरूरी हो गया है। लेकिन स्वास्थ्य महकमा व प्रशासन अभी तक इस ओर गंभीर नजर नहीं आ रहा है। स्थिति यह है कि अस्पताल सहित भीड़ वाले इलाकों में कोई भी मास्क लगाए नजर नहीं आ रहा है। चिंता की बात तो यह है कि इन दिनों विवाह समारोह सहित सामूहिक आयोजन बड़ी संख्या में हो रहे हैं। जहां लोग छोटे बच्चों के साथ परिवार सहित पहुंच रहे हैं। कुल मिलाकर वर्तमान हालात अलर्ट कर रहे हैं कि अभी से ही संभलना जरूरी है ताकि बाद में ज्यादा परेशानी का सामना न करना पड़े। कोरोना के बढ़ते केसों के बीच राहत की बात यह है कि अभी तक जो भी मरीज मिले हैं उनके लक्षण गंभीर नहीं है इसलिए वे होम आइसोलेशन में ही हैं।
जानकारी के मुताबिक जिले में इस समय कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 25 तक पहुंच गई है। गौर करने वाली बात है कि बीते 8 दिनों में कोरोना केस की संख्या दहाई के अंकों तक पहुंच गई है, जो चिंता का विषय है। शासन ने कोरोना के नए वैरिएंट सार्स ओसीवी-2 को लेकर स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट करते हुए नए दिशा निर्देश जारी किए हैं। लेकिन इनके पालन को लेकर विभाग गंभीर नजर नहीं आ रहा है। सैंपलिंग की संख्या नहीं बढ़ाई गई है। जबकि जिला अस्पताल में ओपीडी 500 से बढ़कर 800 से ऊपर पहुंच चुकी है। इन दिनों बुखार और डायरिया के मरीज काफी संख्या में आ रहे हैं। वर्तमान में जिला अस्पताल का कोविड सैंपल कलेक्शन सेंटर बंद है। महकमे द्वारा टारगेट पूरा करने के लिए अस्पताल सहित अन्य सार्वजनिक स्थानों पर सैंपल लिए जा रहे हैं।
-
सार्वजनिक कार्यक्रमों में मास्क की अनदेखी
सरकार ने कोरोना के केस कम होने के बाद सभी पाबंदियां हटा ली। जिसके बाद इस बार बड़ी संख्या में शादी समारोह व अन्य सामूहिक कार्यक्रम हो रहे हैं। जिनमें शामिल होने बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। अप्रेल माह में जिले मेंं भले ही कोरोना के केस जीरो हो गए थे। लेकिन थोड़े दिन बाद ही फिर से कोरोना के केस आना शुरू हो गए। मई माह में तो यह सिलसिला लगातार जारी है। ऐसे में हर नागरिक को सार्वजनिक स्थानों व भीड़ वाले क्षेत्र में मास्क लगाना जरूरी है। लेकिन पाबंदियां हटते ही नागरिक लापरवाह हो गए हैं। यह अनदेखी कोरोना के केस बढ़ा सकती है। ऐेसे में कम से कम विवाह समारोह में लोग मास्क जरूर लगाएं।
-
नए निर्देश में किन मरीजों की जांच जरूरी
यहां बता दें कि शासन ने सार्स ओसीवी-2 के नए वैरिएंट को लेकर जो दिशा निर्देश दिए हैं। उसमें कहा गया है कि गंभीर सांस रोगी, बुखार, खांसी, जुखाम वाले सभी मरीज जो अस्पताल में आ रहे हैं उनकी कोरोना जांच कराई जाए। यही नहीं पॉजिटिव आने वाले मरीजों की डब्ल्यूजीएस टेस्ट कराया जाए ताकि वैरियंट का पता चल सके।
-
3 मई तक एक्टिव केस की संख्या 7 थी
कोविड के मामले धीरे-धीरे कैसे बढ़ते चले गए। यह आंकड़े बयां कर रहे हैं। 3 मई को तीन नए पॉजिटिव केस आए। जिसे मिलाकर कुल एक्टिव केस की संख्या 7 हो गईर्। संक्रमित मरीज की यह संख्या मार्च माह के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा थी। यह सभी केस बीते एक हफ्ते के दौरान ही आए। गौर करने वाली बात है कि 3 पॉजिटिव केस 300 सैंपल जांच में सामने आए। इसके बाद 4 मई को फिर 3 पॉजिटिव केस रिकार्ड हुए। 8 मई को एक्टिव केस की संख्या 11 जबकि 10 मई को एक साथ 7 फिर 12 मई को 7 पॉजिटिव निकलने से कुल एक्टिव केस 25 हो गए हैं।
पत्रिका अलर्ट : कोरोना के बंधनों से मुक्त हुए हैं कोरोना से नहीं, अभी नहीं संभले तो हो जाएगी देर
पत्रिका अलर्ट : कोरोना के बंधनों से मुक्त हुए हैं कोरोना से नहीं, अभी नहीं संभले तो हो जाएगी देर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

कांग्रेस के चिंतन शिविर को प्रशांत किशोर ने बताया फेल, कहा- कुछ हासिल नहीं होगाउड़ान भरते ही बीच हवा में बंद हो गया Air India प्लेन का इंजन, पायलट को करानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगBJP राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: PM नरेंद्र मोदी ने दिया 'जीत का मंत्र', जानें प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातेंबिहार में बारिश व वज्रपात से 37 लोगों की मौत, जानिए बिहार में क्यों गिरती है इतनी आकाशीय बिजली?Pegasus Spyware Case: सुप्रीम कोर्ट ने जांच समिति का कार्यकाल 4 हफ्ते बढ़ाया, अब जुलाई में होगी सुनवाईबताओ सरकार : होटल वाले कैसे कर लेते हैं बाघ दिखाने का प्रबंध, High Court का सवालएक फोन कॉल से खत्म हो गया 13 साल पुराना रिश्ता, छत्तीसगढ़ में ट्रिपल तलाक का मामलाबिहार कोर्ट में Amitabh Bachchan, Shah Rukh और Ajay Devgan के खिलाफ याचिका दायर, जानें क्या है माजरा?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.