scriptLand game - Government in Haripur and Gunia river land in Cantt was ca | जमीन का खेल -हरिपुर में शासकीय और कैंट में गुनिया नदी की जमीन पर रातों-रात सत्ता से जुड़े नेताओं का कब्जा | Patrika News

जमीन का खेल -हरिपुर में शासकीय और कैंट में गुनिया नदी की जमीन पर रातों-रात सत्ता से जुड़े नेताओं का कब्जा

  • सरकारी भूमियों के साथ-साथ बिक रही है पार्कों के लिए आरक्षित भूमियां
  • -अब एवन कॉलोनी के बाद जब्बार कॉलोनी में पार्क की भूमि बेचने का आया मामला सामने
  • -एवन कॉलोनी की जांच रिपोर्ट कलेक्टर को पेश
  • बमौरी बुजुर्ग के एक हजार लोगों का कॉलोनाइजर कर रहे हैं रास्ता बंद, कलेक्टर से शिकायत

गुना

Published: January 19, 2022 01:10:48 am

गुना। जहां एक ओर भुजरिया तालाब, गुनिया नदी, जगनपुर तालाब समेत सरकारी भूमि पर कब्जा कर प्लाटिंग करने वाले भूमाफियाओं की संख्या दिनों-दिन बिकती जा रही है। वर्धमान कॉलोनी और एवन कॉलोनी में पार्क की भूमि बेचे जाने के मामले में जांच हो पाई थी कि इसी बीच जब्बार कॉलोनी में पार्क की भूमि बेचने का मामला सामने आया है। वहीं बमौरी बुजुर्ग में स्थित भूमि से निकलने वाले आम रास्ते को शहर के कारोबारियों ने बंद करने का प्रयास तेज कर दिया है। इसको लेकर ग्रामीणों मेंं गुस्सा दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कलेक्टर को दिए शिकायती पत्र में कहा कि हमारे आम रास्ते को बंद किया तो हम सभी ग्रामीण चक्काजाम करेंगे।
बिक गई पार्क की भूमि
उधर शहर के आशीर्वाद हॉस्पिटल के निकट स्थित हाजी जब्बार कॉलोनी में पार्क की जमीन बेचने का मामला सामने आया है। पार्क को भूमि को कथित रूप से बेचने के खिलाफ स्थानीय रहवासियों ने मंगलवार को कलेक्टोरेट पहुंचकर कार्रवाई की मांग की। दरअसल आशीर्वाद हॉस्पिटल के सामने हाजी कॉलोनी है। शिकायत के अनुसार उक्त कॉलोनी में टीसीपी से अनुमोदित नक्शा है। जिसमें पार्क की जमीन है। लेकिन उक्त पार्क की भूमि को हाजी अब्बार के पुत्र जावेद बेचने की कोशिश की जा रही है। रहवासियों के अनुसार इस पार्क की भूमि का नगर पालिका गुना द्वारा दो बार भूमि पूजन कराया गया है। वहीं पार्क को विकसित करने के लिए टेण्डर भी जारी किए गए थे। किन्तु पार्क का निर्माण नहीं कराया गया है। यह पार्क की उक्त भूमि सर्वे नं. 704 मिन वार्ड क्रमांक 16 में स्थित है। कॉलोनीवासियों ने कलेक्टर को दिए आवेदन में उक्त पार्क की जमीन बिकवाने से रोकने की मांग की है। वहीं बेचने एवं खरीदने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएं।
जमीन का खेल -हरिपुर में शासकीय और कैंट में गुनिया नदी की जमीन पर रातों-रात सत्ता से जुड़े नेताओं का कब्जा
जमीन का खेल -हरिपुर में शासकीय और कैंट में गुनिया नदी की जमीन पर रातों-रात सत्ता से जुड़े नेताओं का कब्जा

ये है बमौरी बुजुर्ग का मामला
कलेक्ट्रेट में आए ग्रामीणों के अनुसार उनके पुस्तैनी रास्ते से लगी जमीन को कॉलोनाईजर अखिलेश जैन, मुकेश राठौर, अनीष कुमार द्वारा क्रय की गई थी। जो उपरोक्त पुस्तैनी रास्ते से लगी है। इन कॉलोनाइजरों द्वाराउक्त पुस्तैनी रास्ते में गड्डे खोदकर रास्ते का बंद करने का प्रयास किया जा रहा। उन्होंने आरोप लगाते हुए बताया कि जब ग्रामीणजनों द्वारा उक्त रास्ते को बंद करने से मनाही की तो दबंग कॉलोनाईजरों द्वारा ग्रामीणजनों को झूठे प्रकरण फंसाने की धमकियां दी। इस संबंध में कलेक्टर को दिए आवेदन में ग्रामीणों ने बताया कि वह उक्त रास्ते का 50 वर्षों से अधिक समय से उपयोग करते आ रहे हैं। इस रास्ते से होकर चिंताहरण मंदिर तक दर्शन करने जाते हैं, परंतु अनावेदकगण के द्वारा उक्त रास्ते में दखल देकर रास्ता बंद करने का प्रयास किया जा रहा है। जिसके बाद ग्रामीणों ने आक्रोश है। इस मामले में कॉलोनाइजर मुकेश राठौर का कहना है कि उन्होंने वह जमीन खरीदी है, खरीदी हुई जमीन में से हम कैसे रास्ता दे दें डेढ़ बीघा जमीन हमारी खराब हो जाएगी।
एवन कॉलोनी की जांच करने के बाद रिपोर्ट तैयार
वहीं कुसमौदा स्थित एवन कॉलोनी में पार्क की भूमि को प्लॉट बताकर बेचने और कब्जा करने का मामला पिछले दिनों सामने आया था जिसको पत्रिका ने प्रमुखता से प्रकाशित किया था। पत्रिका की खबर को गंभीरता से लेकर कलेक्टर फ्रेंक नोबल ए ने गंभीरता से लिया और शहरी तहसीलदार को इस पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा था। तहसीलदार सिद्धार्थ भूषण शर्मा ने इस मामले की जांच कर अपनी रिपोर्ट कलेक्टर को दे दी है। खबर ये है कि इस जांच में वह जमीन पार्क की मानी है।
हरिपुर में रातों रात हुआ कब्जा
सूत्रों ने बताया कि हनुमान टेकरी के पीछे हरिपुर रोड पर कुछ समय पूर्व सिंधिया समर्थक भाजपा के दो नेताओं ने पच्चीस बीघा से अधिक भूमि पर कब्जा कर लिया है, उस जमीन को समतल भी करा दिया है। इसमें एक पटवारी की संदिग्ध भूमिका भी शामिल है। यह सरकारी भूमि प्लाटिँग के लिए देखने व खरीदने वालों का आना-जाना शुरू हो गया है। इसकी प्रारंभिक दर बीस से पच्चीस लाख रुपए बीघा बताई जा रही है। उधर कैंट क्षेत्र में भी भाजपा के दो नेताओं द्वारा गोविन्द गार्डन के पास भी गुनिया नदी को पाटकर जमीन काटकर प्लाटिंग की जा रही है। इन जमीनों को कब्जाने की शिकायत प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया तक की है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

सेना का 'मिनी डिफेंस एक्सपो' कोलकाता में 6 से 9 जुलाई के बीचGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'Women's T20 Challenge: वेलोसिटी ने सुपरनोवास को 7 विकेट से हरायानवजोत सिंह सिद्धू को जेल में मिलेगा स्पेशल खाना, कोर्ट ने दी अनुमतिSSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़प
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.