लक्ष्मण सिंह की प्रशासन को चुनौती : सुनवाई नहीं तो प्रशासन के खिलाफ जाएंगे कोर्ट

दो दिन पहले ही कलेक्टर आदि को लेकर की थी टिप्पणी, कुंभराज की किसान संघर्ष यात्रा में गूंजे लक्ष्मण सिंह

By: praveen mishra

Published: 07 Sep 2021, 12:33 AM IST

गुना। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के अनुज चांचौड़ा विधायक लक्ष्मण सिंह ने गुना प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल लिया है। दो दिन पूर्व ही उन्होंने मंच से किसानों के बीच यहां तक कह दिया था कि बेईमान अफसरों से मत डरना, यह प्रजातंत्र है, ये अधिकारी आपके नौकर हैं। लक्ष्मण सिंह ने अपने संबोधन में कलेक्टर को औकात में रहने तक की बात कह दी थी। इसी बीच सोमवार को कुंभराज में निकली किसान संघर्ष यात्रा में सात दिन में विद्युत समस्याओं का निराकरण न होने पर लक्ष्मण सिंह ने कहा कि वे अधिकारियों के खिलाफ कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। अधिकारियों की सीआर में लिखा जाएगा कि उनके ऊपर ये मुकदमा बना था। अदालत कहेगी कि आपके ऊपर ये मुकदमा चला था तो क्यों न तुम्हारा प्रमोशन रोक दिया जाए।
चांचौड़ा विधायक लक्ष्मण सिंह ने शनिवार को मधुसूदनगढ़ में पदयात्रा निकालने के बाद सोमवार को कुंभराज में किसान संघर्ष यात्रा निकाली। सानई से यह यात्रा शुरू होकर कुंभराज तहसील पहुंची, जहां आमसभा का आयोजन किया गया। इस दौरान विधायक सिंह ने कहा कि इलाके में नागरिकों को पेयजल नहीं मिल रहा है। पहले अधिकारी कहते थे कि बारिश नहीं हुई इसलिए पानी नहीं है। इस बार तो पार्वती लबालब भरी हुई है, फिर क्यों पानी का इंतजाम नहीं हो पा रहा।
उन्होंने कहा कि नगर परिषद ने करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार किया है, लेकिन हम एक भी बेईमान को छोडऩे वाले नहीं है। कांग्रेस ने सूची बना रखी है ऐसे अफसरों की। किसने कितना पैसा खाया है, हमें मालूम है। कुछ पर कार्रवाई करवा दी है, कुछ पर और होगी। नहीं तो हम अदालत में जाएंगे। उन्होंने कहा कि एक हफ्ते का समय दे रहे हैं, नहीं तो हम अदालत में जाने वाले हैं।जो प्रशासन इसकी जमीन उसके नाम कर देगा, लोगों के नामांतरण नहीं करेगा, नागरिकों को पेयजल की व्यवस्था नहीं करेगा, उसके खिलाफ कांग्रेस पार्टी अदालत में जाएगी।क्यों न तुम्हे सस्पेंड कर दिया जाए, यह अदालत कहेगी। अदालत न्याय करेगी। प्रशासन जनता की सेवा करने के किये होता है, जनता के ऊपर राज करने के लिए नहीं। प्रशासन को जनता के कहने से चलना पड़ेगा। नहीं तो फिर अंजाम भुगतने तैयार रहना।

praveen mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned