मैरिज गार्डनों के बाहर लगाएं हाई डेफीनेशन कैमरे, रखें 15 दिनों की रिकॉर्डिंग

मैरिज गार्डनों के बाहर लगाएं हाई डेफीनेशन कैमरे, रखें 15 दिनों की रिकॉर्डिंग

Yogendra Sen | Publish: Feb, 15 2018 02:58:58 PM (IST) Guna, Madhya Pradesh, India

मैरिज गार्डन संचालकों को तीसरा नोटिस, वारदातों की होगी जवाबदेही

गुना। कैंट थाना क्षेत्र में संचालित होने वाले सभी मैरिज गार्डनों को पुलिस ने तीसरी बार नोटिस जारी किए हैं। इसमें कहा गया है कि मैरिज गार्डन संचालक जल्द से जल्द अपने-अपने संस्थानों के बाहर हाई डेफीनेशन कैमरे लगाएं और इनमें कम से कम 15 दिनों की रिकॉर्डिंग होना सुनिश्चित किया जाए। इतना ही नहीं यदि किसी गार्डन के बाहर से बाईक चोरी या अन्य कोई वारदात होती है तो इससे भी गार्डन संचालक पल्ला नहीं झाड़ सकते हैं।

मैरिज गार्डनों के बाहर से लगातार सामने आ रही बाईक चोरी और अन्य वारदातों की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए यह कदम उठाया गया है। इससे पहले एसपी निमिष अग्रवाल ने भी कम से कम अवधि में मैरिज गार्डन संचालकों को कैमरे लगवाने के लिए नोटिस भिजवाए थे। इनमें से ज्यादातर संचालकों ने अभी तक कैमरे नहीं लगवाए हैं। टीआई आशीष सप्रे ने बताया कि एसपी के निर्देश पर तीसरी बार कैंट क्षेत्र में संचालित होने वाले मैरिज गार्डनों में कैमरे लगाने के लिए नोटिस दिया गया है। इसका जवाब देने के लिए भी सात दिनों की समय-सीमा निर्धारित की गई है। जवाब नहीं मिलने पर गार्डन संचालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

वारदातों पर लगाया जा सकेगा अंकुश
मैरिज गार्डनों के बाहर और अंदर वारदातों पर अंकुश लगाने के लिए कैंट क्षेत्र के सभी मैरिज गार्डन एवं होटल संचालकों को नोटिस जारी कर संस्थान में हाई डेफीनेशन कैमरे लगाने को कहा है ताकि उन कैमरो से पार्टी मे आने जाने वाले लोगों, उनके वाहनों एवं आम रास्ते पर निगाह रखी जा सके। ये कैमरे नाइट विजन, हाई डेफीनेशन के और 15 दिन बैकअप वाले हों ताकि दोषियों की पहचान की जा सके।

पहले भी दो बार दे चुके हैं नोटिस
संस्थान संचालकों को दो नाोटिस देने पर तीसरी बार नोटिस के जरिए कैंट पुलिस थाने ने 7 दिवस की मोहलत देकर सभी से इस संबंध मे लिखित जानकारी मांगी है। सप्रे के अनुसार संचालक अपने स्तर पर कैमरे लगाने एवं बाहर खड़े वाहनों की सुरक्षा के लिए गार्ड की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है इसके साथ ही डीजे रात्रि दस बजे के बाद बजता मिला तो डीजे जब्त कर संबंधित संचालक के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned