scriptMawth rain increased winter, Rabi crop got nectar | मावठ की बारिश ने बढ़ाई सर्दी, रबी फसल को मिला अमृत | Patrika News

मावठ की बारिश ने बढ़ाई सर्दी, रबी फसल को मिला अमृत

नहीं हुए सूर्यनारायण के दर्शन, ठंड से बचने अलाव तापते नजर आए लोग
मंगलवार को हुई 13.2 मिमी बारिश, अधिकतम तापमान 17.4 व न्यूनतम 12.4 रहा
अगले 5 दिन बादल छाए रहेंगे, हल्की वर्षा होने की भी संभावना

गुना

Published: December 29, 2021 02:12:40 pm

गुना. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार मंगलवार को मावठ की बारिश हुई।सुबह उठते ही लोगों को हर जगह पानी-पानी नजर आया। सड़क और गड्ढों में इतना ज्यादा पानी था कि बारिश के मौसम जैसा एहसास हो रहा था।मावठ की यह बारिश एक ओर जहां फसलों के लिए बहुत ही लाभदायक है तो वहीं आमजन के लिए बढ़ती सर्दी ने परेशानी पैदा कर दी है। अचानक हुई बारिश ने लोगों को घरों में कैद रहने को मजबूर कर दिया। जिसका असर शहर के बाजार में देखने को मिला। दोपहर 12 बजे तक दुकानों पर ग्राहक नहीं पहुंचे थे। जहां देखो वहां लोग अलाव तापते ही नजर आए।दिन में ज्यादातर समय धूप न निकलने से लोगों को पूरे समय तेज ठंड का एहसास होता रहा।मौसम विभाग ने 13.2 मिमी बारिश दर्ज की गई।
जानकारी के मुताबिक 19 दिसंबर को जिले का तापमन 2.6 डिग्री दर्ज किया गया था।मौसम विभाग के रिकार्ड के अनुसार 20 साल में यह दूसरी बार ऐसा मौका था जब इतना कम तापमान रहा। इसके बाद अगले दिन पारा 4.4 डिग्री दर्ज हुआ। 23 दिसंबर तक न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे रहा।यह स्थिति 5 दिन बाद बदली और न्यूनतम तापमान 11.8 डिग्री पर पहुंच गया। वहीं अधिकतम तापमान 24.4 डिग्री दर्ज किया गया। इस दौरान दिन में भी अच्छी धूप निकली जिससे लोगों को कड़कड़ाती सर्दी से काफी हद तक राहत मिल गई थी। लेकिन 27-28 दिसंबर की रात के बाद अचानक से मौसम ने करवट ले ली। रात और अलसुबह हुई बारिश ने एक बार फिर तेज सर्दी बढ़ा दी है।जिसके कारण कई लोगों ने बाहर जाने का कार्यक्रम तक स्थगित कर दिया है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 17.4 तथा न्यूनतम12.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
-
मावठ की बारिश ने बढ़ाई सर्दी, रबी फसल को मिला अमृत
मावठ की बारिश ने बढ़ाई सर्दी, रबी फसल को मिला अमृत

अगले 5 दिन न्यूनतम तापमान 5-9 डिग्री रहेगा
मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार आगामी 5 दिनों के दौरान आंशिक रूप से बादल छाए रहने की संभावना है। साथ ही हल्की वर्षा होने की संभावना है। अधिकतम तापमान 18 -23 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 5-9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा सकता है। हवा में अधिकतम सापेक्ष आद्रता 6 8 -96 तथा न्यूनतम 45-6 8 प्रतिशत रह सकती है। हवा की गति 11 से 16 किमी प्रति घंटा रहने की संभावना है।
-
फसलों के लिए सलाह
कृषि विभाग ने किसानों को सलाह दी है कि यदि सरसों के पौध की निचली पत्तियों में रोग दिखाई पड़े तो मेटरएक्सिल एक ग्राम प्रति लीटर पानी के साथ छिड़काव करें। यदि आवश्यक हो तो 10-12 दिनों के बाद यह प्रक्रिया दोहराना जाना चाहिए। बादल छाए रहने और रात का तापमान कम होने से सरसों में माहू का प्रकोप बढ़ सकता है। माहू की घटना के नियंत्रण के लिए थियोमेटन 25 ईसी 8 मिली प्रति 10 लीटर पानी या डाइमेथोएट 30 ईसी 10 मिली प्रति 10 लीटर पानी का छिड़काव करें।मौसम की स्थिति को देखते हुए मटर की फसल में तना मक्खी और पत्ती सुरंगक कीट का प्रकोप दिखाई देने की संभावना है। इसकी रोकथाम के लिए इमामेक्टिन बेंजोएट 5 प्रतिशत एसजी 200 ग्राम प्रति हेक्टेयर की दर से 500 से 6 00 लीटर पानी में घोल बनाकर छिड़काव करें।
-
मावठ की बारिश रबी फसल के लिए अमृत
कृषि विभाग के अनुसार मंगलवार को हुई मावठ की बारिश रबी की सभी फसलों के लिए बेहद लाभदायक है। क्योंकि इस समय फसल जिस स्टेज पर है, उसे पानी की बहुत ज्यादा जरूरत है। इस हल्की बारिश से पौधे की बढ़वार में मदद मिलेगी। इन दिनों किसान रात भर जागकर फसलों में पानी दे रहा था। ऐसे में उसे हाड़ कंपा देने वाली ठंड का सामना भी करना पड़ रहा था। लेकिन अब मावठ की बारिश के बाद काफी हद तक किसानों को राहत मिली है।
-
इनकी बढ़ी परेशानी
मावठ की बारिश एक ओर जहां किसान वर्ग के लिए खुशी लेकर आई तो वहीं बुजुर्ग व बच्चों की परेशानी बढ़ा दी। खासकर सड़क किनारे फुटपाथ पर सोने वालों की। वे जब रात में सो रहे थे तब अचानक हुईबारिश से उनके कपड़े गीले हो गए।चूंकि उनके पास इससे बचने के लिए कोई विकल्प नहीं था। अब ऐसे में बिना कपड़े के यह लोग कैसे बढ़ती सर्दी का सामना कर सकेंगे। चिंता की बात यह भी है कि प्रशासन ने जो रैन बसेरा बनाए हैं उनका लाभ भी इन्हें नहीं मिल पा रहा है। क्योंकि उसमें रहने के लिए आधार कार्ड का होना भी जरूरी है। जो इनके पास नहीं है।इसके अलावा बच्चों और बुजुर्गों की इम्युनिटी पावर कम होती है जिन्हें इस ठंड से बचना बेहद जरूरी है।
-
दिन भर आती जाती रही लाइट
मंगलवार को शहर भर में बिजली वितरण की स्थिति काफी खराब रही।सुबह से ही शहर के कई इलाकों में बिजली गायब रही।जिससे पेयजल सप्लाई प्रभावित रही। हनुमान चौराहा का सिग्नल काफी देर तक बंद रहा। बिजली कंपनी ने बताया कि कई जगह से फाल्ट की शिकायतें आई हैं जिन्हें ठीक करने में अमला लगा हुआ है।
-
जर्जर सड़कों पर आवागमन हुआ मुश्किल
बारिश के बाद एक बार फिर शहर की जर्जर सड़कों ने परेशानी बढ़ा दी है। क्योंकि गहरे गड्ढों में पानी भरने की वजह से वाहन चालकों को यह नजर नहीं आ रहे हैं। ऐसे में वाहन दुर्घटनाओं की संभावना ज्यादा बढ़ गईहै। प्रमुख मार्गों से लेकर रिहायशी इलाकों में ऐसी जगहों पर पानी भर गया जहां जल निकासी की व्यवस्था नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

India-Central Asia Summit: सुरक्षा और स्थिरता के लिए सहयोग जरूरी, भारत-मध्य एशिया समिट में बोले पीएम मोदीAir India : 69 साल बाद फिर TATA के हाथ में एयर इंडिया की कमानयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Election 2022: भाजपा सरकार ने नौजवानों को सिर्फ लाठीचार्ज और बेरोजगारी का अभिशाप दिया है: अखिलेश यादवतमिलनाडु सरकार का बड़ा फैसला, खत्म होगा नाईट कर्फ्यू और 1 फरवरी से खुलेंगे सभी स्कूल और कॉलेजपीएम नरेंद्र मोदी कल करेंगे नेशनल कैडेट कॉर्प्स की रैली को संभोधित, दिल्ली के करियप्पा ग्राउंड में होगा कार्यक्रम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.