न डायवर्सन न अनुमति, खेती की जमीन पर होने लगा निर्माण कार्य

-मामला ग्राम पंचायत ऊमरी के पाटई क्षेत्र का,पटवारी मांगता रहा कागज, नहीं मिले

By: praveen mishra

Published: 16 Apr 2021, 11:53 PM IST

गुना। यदि आपकी अधिकारियों से सेंटिंग है या आप किसी प्रभावशाली नेता के सम्पर्क में हैं तो आप भी बगैर अनुमति और डायवर्सन के खेती की भूमि पर निर्माण कर सकते हैं। ऐसा ही एक मामला हाल ही में ग्राम पंचायत ऊमरी में पाटई क्षेत्र का आया है, जहां शहर के एक धनाढ्य व्यक्ति ने बगैर अनुमति और डायवर्सन के वहां प्लेटफार्म बनाने का काम शुरू कर दिया, ग्रामीण इस निर्माण को वेयर हाउस का बता रहे हैं। निर्माणकर्ता उपज रखने के लिए ऊंचा प्लेटफार्म बनाने की बात कह रहे हैं। ग्रामीण मुरम आदि के लिए बीलाबावड़ी क्षेत्र में अवैध उत्खनन के जरिए खनिज सामग्री बगैर रायल्टी के वहां आना बता रहे हैं। इस सबकी भनक संबंधित अधिकारियों को है, लेकिन कोई भी कार्रवाई करने का साहस नहीं कर पा रहा है।
ऐसे बन रहा है वेयर हाउस
ग्रामीणों के अनुसार ऊमरी ग्राम पंचायत के अधीन पाटई के पास कई बीघा जमीन का गुना के अरोरा परिवार ने सौदा किया है। यहां दूसरे पार्टनर ने वहां खेती की भूमि पर वेयर हाउस का निर्माण करा दिया है। उस जमीन का न तो डायवर्सन हुआ है न अनुमति ली गई है। नियमानुसार कोई भी निर्माण करने से पूर्व संबंधित संस्था से अनुमति लेना आवश्यक है। ऐसा यहां बिल्कुल नहीं हुआ है। पत्रिका टीम ने जब यहां चल रहे काम के दौरान संबंधित जिम्मेदार अधिकारियों से बातचीत की तो अलग-अलग बात सामने आई। कुछ ही देर में पटवारी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने जमीन मालिक से अनुमति व डायवर्सन के दस्तावेज मांगे।
पटवारी को नहीं बताए दस्तावेज
इस संबंध में पत्रिका ने जब ऊमरी ग्राम पंचायत के सचिव मनोज शर्मा से पूछा गया तो उनका कहना था कि वेयर हाउस तो बन रहा है, इसके लिए डायवर्सन या अनुमति ली होती तो हमारे पास रसीद बगैरह तो आती। हमसे कोई अनुमति नहीं ली है।पटवारी रोशन सिंह भील से इस संबंध में पूछा गया तो उनका कहना था कि हमें जानकारी नहीं हैं, हमें तो अभी नायब तहसीलदार साहब का फोन आया था तो हम यहां आए हैं, काम रुकवा रहे हैं। डायवर्सन व अनुमति के दस्तावेज मांगे हैं। पटवारी ने कहा कि हमने कई बार दस्तावेज मांगे, लेकिन उपलब्ध नहीं कराए। हमें लगता है कि कोई अनुमति नहीं हैं। जब नायब तहसीलदार रामशंकर सिंह से इस संबंध में पूछा तो उन्होंने बताया कि हमें अभी जानकारी मिली है हमने पटवारी को काम रुकवाने के लिए भेजा है। जबकि यह काम एक महीने से वहां चल रहा है। एक जिम्मेदार ने इस बात का भी खुलासा किया कि दूसरे जिम्मेदार ने मुझे बताया था कि एक बड़े अधिकारी ने बोला है कि काम चल रहा है उसे रोकना मत, चलने देना।
इनका कहना है
-मेरी जानकारी में नहीं है, इस मामले को मैं दिखवाती हूं, जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
अंकिता जैन एसडीएम गुना
-वेयर हाउस नहीं जो भी वहां उपज होगी, उसको रखवाने के लिए ऊंचा प्लेटफार्म बनवा रहे हैं, बाउन्डी वाल तैयार हो रही है। मुरम हमारे यहां रॉयल्टी देकर ही आ रही है।दस्तावेज की बात है तो मुझसे पटवारी ने मांगे ही नहीं हैं।हमें यह नहीं पता कि निर्माण कार्य कराने के लिए अनुमति लेना होती है।
योगेश अरोरा निर्माणकर्ता

praveen mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned