hospital latest news : एक मात्र रेडियोलॉजिस्ट रिटायर, अस्पताल की व्यवस्थाएं गड़बड़ाई

hospital latest news :  एक मात्र रेडियोलॉजिस्ट रिटायर, अस्पताल की व्यवस्थाएं गड़बड़ाई

Narendra Kushwah | Updated: 02 Jul 2019, 01:51:45 PM (IST) Guna, Guna, Madhya Pradesh, India

महिलाएं बोलीं, डॉक्टर ने अन्य जांचें तो की लेकिन सोनोग्राफी नहीं लिखी
प्रबंधन बोला, व्यवस्था में लगे हुए हैं

गुना। जिला अस्पताल hospital के एक्सरे विभाग x - ray में पदस्थ एक मात्र रेडियोलॉजिस्ट Radiologist retired 30 जून को रिटायर हो गए हैं। जिससे अस्पताल की स्वास्थ्य सेवाएं hospital system deteriorated गड़बड़ा गई हैं। क्योंकि स्वास्थ्य महकमा समय रहते अस्पताल में अन्य रेडियोलॉजिस्ट की व्यवस्था नहीं कर सका है। जबकि पत्रिका ने 21 जून के अंक में खबर प्रकाशित कर शासन प्रशासन को समय रहते ही अलर्ट कर दिया था।

 

महिलाओं की सोनोग्राफी नहीं हो सकी
जानकारी के मुताबिक जिला अस्पताल के जिला शीघ्र हस्तक्षेप केंद्र (डीईआईसी) भवन में प्रति सोमवार व गुरुवार को एएनसी क्लीनिक संचालित होती है। जिसमें शहर सहित ग्रामीण अंचल की एक सैकड़ा गर्भवती महिलाएं आती हैं। इन महिलाओं की सामान्य जांचों के अलावा सोनोग्राफी भी की जाती है। लेकिन एक जुलाई को एएनसी क्लीनिक में आने वाली महिलाओं की सोनोग्राफी नहीं हो सकी।

 

महिलाओं ने बताया कि डॉक्टर का कहना था कि अभी सोनोग्राफी करने वाले डॉक्टर नहीं हैं इसलिए जांच नहीं लिख रहे हैं। हालांकि जब कुछ महिलाओं ने सोनोग्राफी लिखने के लिए कहा तो उनसे कह दिया गया कि आपको जरूरी है तो बाजार में करवा लें।

guna

अन्य बीमारी के मरीजों का क्या होगा
जिला अस्पताल के एक्सरे विभाग में पदस्थ एक मात्र रेडियोलॉजिस्ट डॉ सीताराम रघुवंशी के रिटायर होने से गर्भवती महिलाएं ही नहीं अन्य बीमारी के मरीजों के समक्ष जांच का गंभीर संकट खड़ा हो गया है। क्योंकि वर्तमान में जिले के किसी भी सरकारी अस्पताल में सोनोग्राफी जांच की कोई व्यवस्था नहीं है।


ऐसे में जिले भर से आने वाली आर्थिक रूप से कमजोर गर्भवती महिलाएं कहां जांच कराएंगी। क्योंकि यह जांच बाजार में बहुत महंगी है और गरीब परिवार के बूते की बात नहीं है। इसके अलावा इन दिनों जिला अस्पताल में पेट दर्द के मरीज बहुत आ रहे हैं। इनमें से अधिकांश को पथरी की शिकायत होती है लेकिन इसकी पुष्टि के लिए पहले अल्ट्रासाउंड जरूरी है, जो रेडियोलॉजिस्ट के बिना नहीं की जा सकती है।

व्यवस्था करने में इसलिए आ रही परेशानी
जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ एसके श्रीवास्तव का कहना है कि जब तक कि शासन से रेडियोलॉजिस्ट की कोई व्यवस्था नहीं हो जाती है तब तक हम आउट सोर्सिंग से व्यवस्था करने में लगे हैं ेलेकिन परेशानी यह आ रही है कि कोई भी सरकारी अस्पताल में सेवाएं देने के लिए आसानी से राजी नहीं हो रहा है। ऊपर से उन्हें वहां ज्यादा वेतन मिल रहा है। ऐसे में शासन से प्रयास कर रहे हैं कि रिटायर रेडियोलॉजिस्ट को ही यहां कंटीन्यू रखने की व्यवस्था कर दी जाए।

 

व्यवस्था करने में लगे हैं
जिला अस्पताल के एक्सरे विभाग में पदस्थ रेडियोलॉजिस्ट 30 जून को रिटायर हो चुके हैं। लेकिन अभी तक उनके स्थान पर शासन ने किसी अन्य रेडियोलॉजिस्ट की व्यवस्था नहीं की है। इससे मरीजों को परेशानी तो होगी लेकिन फिर भी गंभीर महिला मरीजों की सोनोग्राफी के लिए हमने मेटरनिटी विंग में पदस्थ स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ से बोला है। रेडियोलॉजिस्ट के लिए हम आउट सोर्सिंग से भी व्यवस्था करने में लगे हुए हैं।
डॉ एसके श्रीवास्तव, सीएस जिला अस्पताल गुना

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned