वार्ड 25 के रहवासियों की सबसे बड़ी समस्या है रेलवे अंडर ब्रिज

वार्ड 25 के रहवासियों की सबसे बड़ी समस्या है रेलवे अंडर ब्रिज
स्वीकृति मिलने के 6 माह बाद भी शुरू नहीं हो सका सड़क, नाली का काम
7 हजार की आबादी वाले वार्ड में सफाई व्यवस्था मात्र 4 सफाईकर्मियों के भरोसे
पुलिया न बनने से जल निकासी में आ रही परेशानी

गुना. नगर के वार्ड क्रमांक-25 के रहवासियों के लिए सड़क, नाली व सफाई से ज्यादा गंभीर समस्या रेलवे का अंडर ब्रिज है। जिसमें पूरे 12 महीने तक पानी भरा रहने के कारण लोगों का आना जाना मुश्किल हो रहा है। वहीं वार्डों में बनी पुरानी सड़कें बेहद जर्जर हालत में पहुंच चुकी हैं। नालियों के भी बहुत बुरे हाल हैं। वार्ड के अधिकांश हिस्से में तो नालियां ही नहीं हैं। जिसके कारण घरों से निकला गंदा पानी खुले में बह रहा है। जिससे पूरे इलाके में गंदगी पनप रही है। वार्ड तक जाने वाले पहुंच मार्ग की स्थिति खराब होने के कारण नपा की डोर टू डोर कचरा कलेक्शन गाड़ी भी नियमित नहीं पहुंच पा रही है। यही वजह है कि खाली पड़े प्लाटों में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। वार्ड में जरूरी विकास कार्य लंबे समय से अटके हुए हैं।
जानकारी के मुताबिक शहर का वार्ड क्रमांक 25 बांसखेड़ी रेलवे अंडर ब्रिज के दूसरी साइड का हिस्सा कहलाता है। जिसमें रसीद कॉलोनी, मेडिकल बगीचा तथा श्रीराम कॉलोनी का कुछ हिस्सा शामिल है। क्षेत्रफल और जनसंख्या की दृष्टि से यह वार्ड काफी बड़ा है। जहां की सफाई व्यवस्था संभालने के लिए नपा ने मात्र 4 सफाईकर्मी ही उपलब्ध करवाए हैं। जबकि वार्ड का काफी हिस्सा खुला है, जहां लोग कचरा डंप कर रहे हैं। यह कचरा नपा के सफाई अमले द्वारा नियमित रूप से नहीं उठाया जा रहा है। वार्ड वासियों के मुताबिक घरों के आसपास नियमित सफाई न होने तथा कई दिनों तक कचरा पड़े रहने के कारण छोटे बच्चे बीमार पड़ रहे हैं। वार्ड में व्याप्त समस्याओं को लेकर जब पार्षद से पूछा गया तो उनका कहना था कि उन्होंने वार्ड में सड़क, नाली व पुलिया निर्माण के लिए परिषद् में दो बार प्रस्ताव रखे जिन्हें अध्यक्ष द्वारा नामंजूर कर दिए गए। इसके बाद फिर से मांगें रखीं जिन्हें परिषद् की बैठक में स्वीकार तो कर लिए गए लेकिन बजट न होने की बात कहकर काम 6 माह बाद भी शुरू नहीं कराए जा सके हंै।
-
इसलिए गंभीर समस्या बन गया है अंडर ब्रिज
शहर में कई जगह रेलवे अंडर ब्रिज हैं लेकिन बांसखेड़ी क्षेत्र का अंडर ब्रिज मात्र वार्डवासियों के लिए ही नहीं बल्कि हर उस शहरवासी के लिए गंभीर समस्या बना हुआ है जिसके लिए किसी न किसी काम से इस अंडर ब्रिज वाले मार्ग से होकर गुजरना पड़ता है। आमतौर पर रेलवे के अंडर ब्रिज बारिश के मौसम में ही परेशानी का कारण बनते हैं लेकिन बांसखेड़ी अंडर ब्रिज बारिश के बाद भी गंभीर समस्या बना हुआ है। इसकी मुख्य वजह आसपास के रिहायशी इलाके में जल निकासी के उचित प्रबंध न होना है। यही वजह है कि अंडर ब्रिज के आसपास रहने वाले लोगों के घरों से निकला पानी धीरे धीरे रिसकर अंडर ब्रिज में भर रहा है। यहां बता दें कि यह मामला रेलवे के जिला न्यायालय तक पहुंच चुका है। जिसमें नगर पालिका व स्थानीय रेलवे प्रशासन को अपना-अपना पक्ष रखना था। इससे पहले रेलवे स्पष्ट कर चुका है कि बारिश के दौरान ही पानी निकालने की जिम्मेदारी उसकी है। लेकिन इस समय नपा की लापरवाही की वजह से पानी भर रहा है।
-
ये हैं वार्ड 25 की प्रमुख समस्याएं
- वार्ड को जाने वाले पहुंच मार्ग की स्थिति खराब।
- रेलवे अंडर ब्रिज में पूरे समय पानी भरने से आवागमन बाधित रहता है। बारिश में तो लगभग यह मार्ग पूरी तरह से बंद ही हो जाता है।
- वार्ड में 10 सालों से सड़कें नहीं बनी हैं। मुख्य मार्ग ऊबड़ खाबड़ हालत में पहुंच चुके हैं।
- रसीद कॉलोनी व मेडिकल बगीचा क्षेत्र में पुलिया न बनने से जल निकासी प्रभवित हो रही है।
- वार्ड की अधिकांश गलियों में स्ट्रीट नहीं लगी हैं। शाम में होते ही अंधेरा छा जाता है।
-
जरा इनकी भी सुनो
वार्ड की सड़कें काफी पुरानी थी जो वर्तमान में चलने लायक भी नहीं बची हैं। आए दिन वाहन चालक गिरकर चोटिल हो रहे हैं। नालियां न बनने से घरों के आसपास गंदा पानी जमा हो रहा है।
विशाल रजक, नागरिक
-
रेलवे अंडर ब्रिज में पानी भरने की समस्या का हल नहीं हो पा रहा है। जिसके कारण
वार्ड के रहवासी ही नहीं अन्य काम से इस वार्ड में आने वाले लोग भी परेशान हैं।
विनोद, नागरिक
-
7 हजार आबादी वाले वार्ड में सफाई के लिए मात्र 4 सफाईकर्मी ही दिए गए हैं। बजट न होने की बात कहकर काफी विकास कार्य नपा ने अब तक शुरू नहीं कराए हैं। हमने जरूरी कार्यों के प्रस्ताव बनाकर दे दिए, स्वीकृति भी मिल चुकी है।
अंजना धर्मपाल जाट पार्षद, वार्ड-25
-
वार्ड क्रमांक 25
कुल आबादी : 7000
कुल मतदाता : 5000

Narendra Kushwah Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned