scriptSchool building could not be built, classes are held under the open sk | पैसा आने के बाद नहीं बन पाया स्कूल भवन, खुले आसमान के नीचे लगती हैं कक्षाएं | Patrika News

पैसा आने के बाद नहीं बन पाया स्कूल भवन, खुले आसमान के नीचे लगती हैं कक्षाएं

-मामला गोचापुरा गांव का,बच्चों को बैठने टाटपट्टी तक नहीं
नदी पार करके जाना पड़ता है बच्चों व स्टाप को, शिक्षिकाओं को कुर्सियां तक नसीब नहीं

गुना

Published: March 07, 2022 01:31:25 am

गुना/राघौगढ़। शिक्षा का स्तर सुधरे, हर स्कूल का स्वयं का भवन हो, बच्चों को पढऩे के लिए टाट पट्टी उपलब्ध हो, इसके लिए हर जिले के शिक्षा विभाग और ग्राम पंचायतों को पैसा दिया जा रहा है, लेकिन उस पैसे को अधिकारी, जनप्रतिनिधि अपने स्वार्थ के खातिर स्कूल भवन न बनवाकर दूसरे कामों में खर्च कर रहे हैं। जिससे बच्चों को पढऩे तक के लिए भवन तक उपलब्ध नहीं हो पा रहा है, ऐसा ही एक मामला राघौगढ़ जनपद पंचायत के गोचापुरा गांव का आया है, जहां शासन से आए पैसे को ठिकाने लगा दिया, स्कूल भवन अधूरा पड़ा हुआ है, जिससे बच्चों को खुले आसमान के नीचे पढऩा पड़ रहा और वहां पदस्थ दो शिक्षिकाएं भी जमीन पर बैठकर बच्चों को पढ़ाने के लिए मजबूर हैं।
ये है मामला
राघौगढ़ ब्लॉक में नदी के दूसरी तरफ गोचा आमल्या ग्राम पंचायत के अन्तर्गत गोचापुरा गांव बसा हुआ है। इस गांव में प्राइमरी स्कूल भवन बनने के लिए शासन की और से बज आया था, इस बजट का बंदरबाट हो गया, स्कूल भवन जो बनना था वह अधूरा रह गया। लंबे समय से स्कूल भवन के रूप में केवल दीवार खड़ी नजर आ रही है। इस विद्यालय का भवन न होने से खुले आसमान के नीचे एक नीम के पेड़ के नीचे बच्चे पढ़ते हुए मिले। इनमें अधिकतर बच्चे सहरिया-आदिवासी जिनको पढ़ाने आने वाली शिक्षिका अनुपमा शर्मा और सजन कंवर सिसौदिया को भी बैठने के लिए टेबिल कुर्सी नहीं मिली, वे जमीन पर बैठकर बच्चों को पढ़ा रही थीं।
शिक्षिकाओं की पीड़ा
यहां पढ़ाने वाली एक शिक्षिका ने बताया कि बैठने के लिए टेबिल-कुर्सी नहीं हैं, पानी की बोतल भी अपने घर से लाते हैं। शिक्षिका का कहना था कि हमें नदी पार करके बच्चों को पढ़ाने आना पड़ता है। कभी-कभी शराब पीए हुए लोगों से सामना होता है। इसके अलावा कई परेशानी है। जब उनसे स्कूल भवन के न बनने को लेकर पूछा गया तो उनका कहना था कि स्कूल भवन बनवाने के लिए हमने कई बार शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिखे, लेकिन भवन अभी तक नहीं बन पाया। स्कूल भवन न बन पाने को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी चन्द्रशेखर सिसौदिया से पूछा गया तो उनका कहना था कि यह मामला मेरे संज्ञान में आया है इस मामले को दिखवाता हूं और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ अवश्य कार्रवाई होगी।
गांव जाने का रास्ता कोई दूसरा नहीं
गांव जाने के लिए नदी पार करके जाने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं हैं। इस सहरिया-आदिवासी बाहुल्य में कोई बीमार हो जाए तो उसे अस्पताल पहुंचाने तक के लिए काफी परेशान होना पड़ता है।कई बार मांग करने के बाद भी इस नदी पर पुल नहीं बन पाया है।
पैसा आने के बाद नहीं बन पाया स्कूल भवन, खुले आसमान के नीचे लगती हैं कक्षाएं
पैसा आने के बाद नहीं बन पाया स्कूल भवन, खुले आसमान के नीचे लगती हैं कक्षाएं
पैसा आने के बाद नहीं बन पाया स्कूल भवन, खुले आसमान के नीचे लगती हैं कक्षाएं

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

जम्मू कश्मीरः बारामूला में जैश-ए-मोहम्मद के तीन पाकिस्तानी आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीदDelhi News Live Updates: दिल्‍ली में फैक्‍ट्री से 21 बाल मजदूर छुड़ाए गए, आरोपी फैक्ट्री मालिक की 6 फैक्ट्रियां सीलसुप्रीम कोर्ट में पूजा स्थल कानून के खिलाफ दायर की गई याचिका, संवैधानिक वैधता को चुनौतीTexas Shooting: अमरीकी राष्ट्रपति ने टेक्सास फायरिंग की घटना को बताया नरसंहार, बोले- दर्द को एक्शन में बदलने का वक्तजातीय जनगणना सहित कई मुद्दों को लेकर आज भारत बंद, जानिए कहां रहेगा इसका ज्यादा असरपंजाब CM Bhagwant Mann का एक और बड़ा फैसला, सरकारी नौकरियों के लिए पंजाबी भाषा है जरूरीकपिल सिब्बल समाजवादी पार्टी के टिकट से जाएंगे राज्यसभा, बताई कांग्रेस छोड़ने की वजहशिवसेना नेता यशवंत जाधव की बढ़ी मुश्किलें, ED ने जारी किया समन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.