नहीं बने तालाब तो सिंधिया भी कूदेंगे समर्थन में: संजू

Manoj Awasthi

Publish: Apr, 17 2018 12:55:44 PM (IST)

Guna, Madhya Pradesh, India
नहीं बने तालाब तो सिंधिया भी कूदेंगे समर्थन में: संजू

बमौरी विधानसभा में एक बार फिर तालाबों के निर्माण को लेकर भाजपा-कांग्रेस के बीच राजनीति शुरू हो गई है।

गुना. बमौरी विधानसभा में एक बार फिर तालाबों के निर्माण को लेकर भाजपा-कांग्रेस के बीच राजनीति शुरू हो गई है। यहां के कांग्रेस विधायक महेन्द्र सिंह सिसौदिया विभिन्न तालाबों के निर्माण को लेकर फतेहगढ़ में भूख हड़ताल पर बैठे। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र के कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी उनके समर्थन में 25 अप्रैल को धरने पर बैठेंगे। उधर भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य इंजीनियर ओएन शर्मा ने कहा कि जनता सब जानती है कि तालाबों का निर्माण कैसे स्वीकृत हुआ और कौन कराया।

विधायक सिसौदिया अब श्रेय लेने की राजनीति बंद करें, आगामी विधानसभा चुनाव में यहां की जनता कांग्रेस को पूरी तरह नकारने को तैयार है। बमौरी विधानसभा क्षेत्र में पेयजल संकट के समाधान के लिए विभिन्न तालाबों का निर्माण न कराए जाने के विरोध में कांग्रेस विधायक महेंद्र सिंह सिसोदिया ग्वाल टोरिया ,छतरपुरा पनहेटी के कुल 3 तालाबों की मांग को सोमवार को भूख हड़ताल पर बैठे। इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार को कोसते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में भाजपा की विगत 14 वर्षों से सरकार है जिसे हमने कई बार पानी की समस्या से अवगत कराया है।

लेकिन इसी क्षेत्र से मंत्री रहे, नेता और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इस ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया।जिससे यहां की जनता पानी के लिए आज काफी परेशान है। इस आंदोलन में बमौरी विधायक के साथ विट्ठल मीना, श्रवण धाकड़, मुरारी धाकड़, रामनाथ सिंह, जगताप सिंह, दीनदयाल नागर, सोनू राजपूत, अजमेरी खां आदि शामिल थे।

 


विधायक श्रेय की राजनीति बंद करें: शर्मा
भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य व बमौरी विधानसभा से टिकट के दावेदार इंजीनियर ओएन शर्मा ने इस मामले में बताया कि 18 अप्रैल 2०17 को कूनो-यात्रा के समापन कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर यहां आए थे। जिनसे यहां के ग्रामीण तोमर से मिले थे, जिन्होंने स्टॉप डेम बनवाने की मांग की थी। इस पर तोमर ने गुना के कलेक्टर राजेश जैन से पन्हेटी, ग्वाल टोरिया और छतरपुरिया में तालाब बनवाने के लिए प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए थे।

26 जनवरी 2०18 को प्रमुख अभियंता सिंचाई को भी पत्र भेजा था, जिसके तारत य में सिंचाई विभाग के अभियंताओं ने प्रस्ताव बनाकर भोपाल भेज दिया था। सीएम शिवराज सिंह चौहान और केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर के निर्देश के बाद तीनों परियोजनाओं के निर्माण की प्रक्रिया का कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि इसकी भनक मिलते ही बमौरी विधायक सिसौदिया उपवास की नौटंकी कर जनता को गुमराह करने एवं झूठा श्रेय लेने राजनीति कर रहे हैं। बमौरी क्षेत्र की जनता सब जानती है और इसका जवाब अगले विधानसभा चुनाव में देने को जनता तैयार है।

Ad Block is Banned