लक्ष्य पाने मेहनत, लगन की जरूरत

जिलेभर में बुधवार का राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस का किया आयोजन, न्यायाधीशों ने दी न्याय की जानकारी

By:

Published: 09 Nov 2016, 11:23 PM IST


गुना/राघौगढ़. छात्रों को अपने लक्ष्य हासिल करने मेहनत और लगन की जरूरत है। ताकि होनहार छात्र ऊंचाई पर पहुंचकर समाज और देश की सेवा कर सकें। यह बात बुधवार को राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस पर न्यायधीशों ने कही। शहर के अलावा आरोन, राघौगढ़ और चांचौड़ा में शिविर के साथ प्रतियोगिताएं रखी गईं।

शहर जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष  संजीव दत्ता के आतिथ्य में राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस के उपलक्ष्य में शहर के एक निजी स्कूल में विधिक साक्षरता कार्यक्रम एवं निबंध स्पर्धा का आयोजन किया। 'राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का राष्ट्र के लिए योगदानÓ विषय पर निबंध स्पर्धा रखी। इसमें 95 छात्रों ने भाग लिया। अदिति शर्मा ने प्रथम, संजना सोनी ने द्वितीय और यशस्वी जैन ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। सिमरन शर्मा ने प्रथम, मानस गुप्ता ने द्वितीय और रोमिका धाकड़ ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। डीजे दत्ता ने प्रमाण पत्र सहित प्रथम स्थान पाने वाले को 250 रुपए, द्वितीय स्थान पाने वाले को 150 और तृतीय स्थान के विद्यार्थी को 100 रुपए का पुरस्कार दिया। इस दौरान न्यायधीश संजय कुमार गुप्ता, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण राजेश शर्मा, कोर्ट मैनेजर एपीएस बग्गा मौजूद थे।

राघौगढ़ में विधिक साक्षरता शिविर
राघौगढ़. राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस के अवसर पर राघौगढ़ न्यायालय द्वारा हिंदूपत पब्लिक स्कूल और उत्कृष्ट स्कूल में आयोजित विधिक साक्षरता शिविर के दौरान वरिष्ठ न्यायाधीश पीएस कैमेथिया ने स्कूली छात्र-छात्राओं के बीच कानूनी पाठ पढ़ाते हुए कहा कि छात्रों को अपने लक्ष्य के लिए मेहनत और लगन की जरूरत है। ताकि होनहार छात्र ऊंचाईयों पर पहुंचकर समाज और देश की सेवा कर सकें। बुधवार को राष्ट्रीय विधिक सेवा की वर्षगांठ पर हिंदूपत पब्लिक स्कूल में आयोजित विधिक साक्षरता शिविर में वरिष्ठ न्यायाधीश पीएस कैमेथिया, न्यायाधीष रविंद्र गुप्ता ने स्कूली छात्र-छात्राओं को मोटर व्हीकल एक्ट, सामान खरीदी के बिल सहित अन्य कानूनी नियम समझाते हुए बच्चों से अपने लक्ष्य को हासिल करने का आह्वान किया।

 इस दौरान उन्होंने प्रतिभाशाली तीन छात्रों को पुरस्कृत किया। इस मौके पर विद्यालय के प्राचार्य अजयसिंह राठौर एवं विद्यालय की शिक्षक, शिक्षिकाएं और छात्र-छात्राऐं मौजूद थे। शासकीय उत्कृष्ट स्कूल में न्यायाधीश पीएस कैमेथिया ने छात्रों के बीच कहा कि शिक्षा में गुरु की भूमिका महत्वपूर्ण मानी जाती है। छात्रों को उच्च शिक्षा हांसिल करके अपनी मंजिल हांसिल करना जरूरी है। उन्होंने छात्रों के बीच विश्वास जताया कि विद्यालय में ऐसे छात्र भी है जो इंजीनियर, डॉक्टर के पदों पर पहुंचने के लक्ष्य को लेकर पढ़ाई कर रहे हैं। इस दौरान न्यायाधीश रविंद्र गुप्ता ने भी छात्रों को कानूनी जानकारियों से संबोधित किया। शिविर के दौरान ब्लॉक शिक्षा अधिकारी एवं प्राचार्य सुरेशचंद आर्य, वीरेंद्र कुमार सेन, गोपालकृष्ण शर्मा एवं गोपालकृष्ण सक्सेना आदि ने अपने विचार व्यक्त किए। न्यायाधीशों ने निबंध प्रतियोगिता के विजेता तीन छात्रों को पुरस्कार भी दिए। इस दौरान बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं और स्कूल स्टाफ उपस्थित रहा।

चांचौड़ा के माडल स्कूल में लगाया शिविर
चांचौड़ा. शासकीय माडल स्कूल चांचौड़ा में न्याय विभाग द्वारा विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया। इसमें महात्मा गांधी के सपना का भारत विषय पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें प्राथम स्थान खुशी गुप्ता, द्वितीय स्थान प्रमोद शर्मा, तृतीय स्थान हिंमाशु विश्वकर्मा ने प्राप्त किया। प्रतियोगिता के बाद न्यायधीशों द्वारा छात्रों को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में जिला एवं अपर सत्र न्यायधीश विजय सिंह कावछा, व्यवहार न्यायधीश विवेक चंदेल, सिविल न्यायधीश आशीष कुमार मथौरिया आदि उपस्थित रहे। इस दौरान छात्र-छात्राओं को विधिक जानकारी दी गई एवं छात्रों के रोचक सवालों के जबाव भी दिए।
Show More

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned