पुलिस टीम पर हमला : रेत माफिया ने कराया पथराव, वाहन फोड़ा

उकावद चौकी प्रभारी और पुलिस कर्मी को आई चोटें

आरोपी फरार, आरोपियों में दो महिलाएं भी शामिल

गुना। जिले की उकावद पुलिस चौकी अंतर्गत टेम नदी पर चल रहे अवैध उत्खनन करने वालों को बगैर खनिज विभाग के साथ न करके अकेले कार्रवाई करना दो पुलिस कर्मियों को महंगा पड़ा।

अवैध उत्खनन कर रहे लोगों ने लाठी-डंडे से हमला कर पथराव कर दिया। इसमें उन पुलिस कर्मियों को घातक चोटें आई हैं और हमलावरों ने पुलिस वाहन को भी तोड़ दिया। पुलिस ने नामजद हमलावरों के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों में दो महिलाएं भी शामिल हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मधुसूदनगढ़ थाने की उकावद पुलिस चौकी प्रभारी कुलदीप वेदपुलिया पुलिस कर्मी कुलदीप, गजेन्द्र सिंह, यशवंत सिंह और शिवेन्द्र के साथ एक स्थाई वारंटी की तामीली कराकर उसको पकडऩे पुलिस वाहन से नसीरपुर गांव गए थे। वहां से पुलिस टीम वापस लौट रही थी।

उनको खेजरा गांव के पास टेम नदी के पास रेत का अवैध उत्खनन होते दिखा। यहां से पांच-छह ट्रेक्टर ट्राली रेत से भरी हुई जाती दिखीं। इसको देखकर अवैध उत्खनन करने वाले माफिया नाराज हो गए। उनके नेतृत्व में पुलिस टीम पर अवैध उत्खनन करने वालों ने पथराव कर दिया।

बताया गया कि पथराव होते और लाठी-डंडे से मारपीट करते देख दो पुलिस कर्मी तो अपनी जान बचाकर इधर-उधर बचने के लिए भागते रहे। हमलावरों की चपेट में उकावद पुलिस चौकी प्रभारी कुलदीप मैथलिया और आरक्षक गजेन्द्र सिंह आ गए, जिनको हमलावरों ने लहुलूहान कर दिया। इसके साथ ही पथराव में उकावद पुलिस चौकी का वाहन भी टूट गया। इसके बाद हमलावर फरार हो गए।

उकावद पुलिस चौकी के अनुसार इस हमले में घायल चौकी प्रभारी और गजेन्द्र को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था। वहीं पुलिस ने हमलावर के रूप में अवैध उत्खनन करने वालों की शिना त की और हमलावर संतोष अहिरवार, हरीश अहिरवार, बद्री अहिरवार, भूरिया बाई और निशा बाई के खिलाफ भादंसं की धारा 353, 336, 145, 294, 427, 332 के तहत मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

खनिज विभाग को न सूचना दी और साथ में ले गए
शासन के नियम के अनुसार पुलिस को यदि कहीं अवैध उत्खनन की सूचना मिलती है तो पुलिस को इसकी सूचना खनिज विभाग को देना होगी। इस सूचना के साथ खनिज विभाग की टीम के साथ वहां जाकर छापामार कार्रवाई करना होगी।

मजेदार बात ये है कि टेम नदी पर होने वाले अवैध उत्खनन की जानकारी खनिज विभाग के पास कुछ समय पूर्व आ गई थी, जिस पर छापा मारकर कार्रवाई करने की तैयारी खनिज विभाग करने वाला था, इसी बीच पुलिस टीम ने अकेले ही वहां छापा मार दिया।

पूर्व में भी होते रहे हैं हमले
उधर चांचौड़ा में पूर्व में तत्कालीन एसडीएम दिव्यांग सिंह को रेत माफियाओं ने घेर लिया था। पुलिस ने नौ लोगों पर एफआईआर की थी।आरोन में पिछले दिनों खनिज विभाग और पुलिस की टीम को अवैध उत्खनन करने वालों ने घेर लिया था।

Show More
praveen mishra
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned