scriptthis time elections will depend on party and credibility for victory | इस बार के चुनाव में ताक पर रहेंगी विकास की बातें | Patrika News

इस बार के चुनाव में ताक पर रहेंगी विकास की बातें

- अध्यक्ष पद के दावेदार भी अपनी जीत के लिए ही जोड़-तोड़ और ताकत लगाएंगे

- मुद्दों की चर्चा नहीं, जीत के लिए पार्टी और साख पर निर्भर होंगे चुनाव

गुना

Published: June 09, 2022 06:19:02 pm

गुना। नगरीय निकायों के चुनाव जिस दिशा में जा रहे हैं, उससे साफ जाहिर है कि इस बार चुनावों में मुद्दों की भूमिका नगण्य रहेगी। शहर के विकास और सुविधाओं की बात कौन करेगा। जो हालात बन रहे हैं, उनसे स्पष्ट है कि अध्यक्ष पद के दावेदार भी केवल अपनी जीत के लिए ही जोड़-तोड़ और ताकत लगाएंगे। मुद्दों पर चर्चा तब होती जब पार्टी सीधे अध्यक्ष के लिए वोट मांगती।

mp_chunav_2022_1.png

यहां तो पार्षद बनने के लिए ही दावेदार वार्डों की नब्ज टटोलने में लगे हैं। गुना नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष पद की सीट सामान्य महिला के लिए सुरक्षित है। इसके अलावा कुंभराज, आरोन, चांचौड़ा-बीनागंज नगर परिषद, मधुसूदनगढ़ नगर परिषद में अलग-अलग वर्ग के लिए अध्यक्ष पद आरक्षित है। प्रत्याशी अपने-अपने टिकिट की जुगत में वरिष्ठ नेताओं के घर और कार्यालय पर चक्कर लगा रहे हैं।

भाजपा जहां एक और सर्वे कराकर तो कांग्रेस भी सर्वे के आधार पर नगरीय निकाय के चुनाव में पार्षद पद का टिकट देने की बात कर रही है। अभी तो इन दोनों दलों के पास पार्षद पद क दावेदारों के बायोडाटा पहुंच रहे हैं। नगरीय निकाय के चुनाव की घोषणा अनुसार 11 जून से नामांकन जमा करना शुरू होगा, इससे पहले दोनो दल अपने प्रत्याशी तय करना चाहेंगे, लेकिन कुछ वार्डों में घमासान की स्थिति बनने से इसमें देरी भी हो सकती है।

दोनों ही पार्टियों के सामने अध्यक्ष पद के काबिल व्यक्ति को सुरक्षित वार्ड से टिकट देकर जिताने की चुनौती होगी। चुनाव में मुद्दों की जगह इस बार पार्टी की साख दांव पर रहेगी। जनता समस्याओं को हल कराने किस पार्टी पर भरोसा करेगी, यह समझना मुश्किल होगा। पार्टी के साथ प्रत्याशी की साख भी दांव पर होगी। गुना नगर पालिका के लिए मतदान 6 जुलाई और दूसरे चरण में होने वाले आरोन, कुंभराज, चांचौड़ा, मधुसूदनगढ़ नगर परिषद के लिए 13 जुलाई को मतदान होगा।

मुद्दे जिन पर रहेगी जनता की नजर
: शहर में जिला मुख्यालय के अनुरूप विकास के साथ कई ऐसे काम हैं जिनको लोग पूरे होते देखना चाहते हैं। इनमें नगर की सभी प्रमुख सड़कों का चौड़ीकरण, नालियों और नालों का निर्माण प्रमुख है, ताकि हर सड़क और गली से आवागमन सुलभ और सफाई चाक चौबंद हो सके।

: सिंध एनीकट परियोजना के बाद भी शहर के सभी क्षेत्रों में सिंध का पानी नहीं पहुंच रहा।

: अवैध कॉलोनियों के जाल ने शहर की व्यवस्था को चौपट कर दिया है। मनमाने ढंग से बनी कॉलोनियों में निवासियों को न तो सुविधाएं मिल रही हैं और ना ही सुरक्षा। जनता चाहती है कि ऐसी कॉलोनियों पर नपा लगाम लगाए और जो कॉलोनियां बन गई हैं, उन्हें अपने हाथ लेकर समुचित विकास कराए।

: शहर के हर बाजार में अतिक्रण की चपेट है। जिससे सड़कें सकरी हो गई हैं।

: सब्जी बाजार व फल मंडी को दूसरी जगह शिफ्ट कराने की योजना कब आएगी।

: ट्रांसपोर्ट नगर पूरी तरह विकसित हो जाए और सड़क पर खराब वाहन और मिस्त्रियों की दुकानें ट्रांसपोर्ट नगर में शिफ्ट हो जाए।

: शहर में कहीं भी मल्टी लेवल पार्किंग न होना सबसे बड़ी समस्या है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.