scriptThis time the political equations will be visible in the wards | निकाय चुनाव 2022- राजनीतिक दिग्गजों के अरमानों पर फिरा पानी, अब दोनों दल के नेता तलाश रहे दूसरे वार्ड | Patrika News

निकाय चुनाव 2022- राजनीतिक दिग्गजों के अरमानों पर फिरा पानी, अब दोनों दल के नेता तलाश रहे दूसरे वार्ड

अध्यक्ष बनने के दावेदारों को पहले पार्षदी का चुनाव जीतना जरूरी

गुना

Updated: June 03, 2022 12:47:05 pm

गुना । Guna

गुना नगर पालिका के चुनाव का आरक्षण बीते रोज हो चुका है। वार्ड 1 से लेकर 37 तक अलग-अलग वर्ग के लिए आरक्षण हो चुके हैं। इस आरक्षण के बाद जो तस्वीर सामने आई है उसके अनुसार भाजपा और कांग्रेस के कई दिग्गजों के वार्ड आरक्षित हो गए हैं। इनमें कुछ तो ऐसे हैं जो बीते एक साल से पुन: पार्षद बनने की तैयारी में लगे थे।
guna_nagar_nigam_chunav.jpg
आरक्षण के बाद अध्यक्ष बनने की चाहत सबसे अधिक सिंधिया समर्थक भाजपा नेताओं में हैं। इनमें एक नेताजी तो ऐसे हैं जो बीते वर्षों में तीन चुनाव नगरीय निकाय का लड़ चुके हैं केवल एक चुनाव सन् 2004 में जीते थे। सन् 2008 के चुनाव में स्वयं और 2014 के चुनाव में उनकी पत्नी पार्षद पद का चुनाव हार चुकी हैं। इसके बाद भी वे अपने पुराने वार्ड नम्बर दो से पत्नी की और उससे सटे दूसरे वार्ड 4 से स्वयं टिकट के लिए प्रयासरत हैं।

इस बार वार्डों में बदले दिखेंगे राजनीतिक समीकरण
वार्ड-1 से पार्षद प्रसन्न शिशुपाल सिंह थीं, इस बार वार्ड सामान्य महिला हो गया है। टिकट मिला तो पुन: चुनाव लड़ सकती है।

वार्ड 2 से संध्या रघुवंशी 2014 में पार्षद बनी थीं, इस बार यह वार्ड सामान्य महिला के लिए आरक्षित हो गया है, यहां से दावेदार के रूप में तीन से चार लोगों के नाम सामने आए हैं। यहां से सिंधिया समर्थक अरविन्द गुप्ता की पत्नी सविता गुप्ता टिकट की अपने आपको दावेदार बता रही हैं, जबकि उनके पति अरविंद गुप्ता वार्ड चार से अपनी दावेदारी जता रहे हैं। इस बार निर्दलीय भी चुनाव मैदान में उतरने की तैयारी लग गए हैं। वहीं भाजपा और कांग्रेस से एक-एक वार्ड से तीन से लेकर छह दावेदार सक्रिय बने हुए हैं।

वार्ड-3 से रहे कांग्रेस पार्षद वीरेन्द्र शर्मा जो एक वर्ष से पुन: पार्षद बनने की चाहत में जनता से संपर्क बनाए हुए थे। अब उनका वार्ड ओबीसी महिला के लिए आरक्षित हो गया है, जिसकी वजह से शर्मा यहां से चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।

वार्ड 4 से वंदना मांडरे पार्षद थीं, उनका वार्ड सामान्य है, लेकिन वे इस बार अपना वार्ड बदलकर वार्ड 29 से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही हैं।

वार्ड-5 से भगवती संतोष साहू का वार्ड सामान्य महिला हो गया है।

वार्ड-6 से पार्षद सरिता गणेश ग्वाल थीं इस बार यह वार्ड सामान्य हो गया है, यहां से पुन: दावेदारी सरिता गणेश ग्वाल कर रही हैं।

वार्ड-7 से पार्षद रहीं मुन्नी देवी अशोक कुशवाह का वार्ड नए आरक्षण में सामान्य है। यहां से तीन से चार दावेदारों के नाम सामने आए हैं।

वार्ड 8 से रामवली ओझा पार्षद थे, उनका वार्ड सामान्य है, यहां से भाजपा और कांग्रेस से तीन-तीन नाम दावेदारों के रूप में सामने आ रहे हैं।

वार्ड 9 से उर्मिला अजय ओझा को वार्ड सामान्य होने से दुबारा चुनाव लड़ने का मौका मिल सकता है।
वार्ड 10 से पार्वती रामभरोसा ओझा का भी वार्ड नए आरक्षण में सामान्य है, जिससे वे भी पुन: चुनाव लड़ सकती हैं।

वार्ड 11 से खालिद बंटी पार्षद रहे, उनका वार्ड सामान्य हो गया है, वे भी चुनाव लड़ सकते हैं।
वार्ड 12 से पार्षद रहे प्रेम कुशवाह का वार्ड इस बार सामान्य महिला के लिए आरक्षित हो गया है। इस वजह से प्रेम तो दोबारा चुनाव नहीं लड़ पाएंगे, पार्टी उनकी पत्नी को चुनाव मैदान में उतार सकती है।
वार्ड 13 से कांग्रेस से पार्षद रहे दीपेश पाटनी का वार्ड ओबीसी महिला के लिए आरक्षित हो गया है। दीपेश ने दूसरे वार्ड से चुनाव लड़ने की तैयारी में जुट गए हैं।

वार्ड 14 से नीरू बृजेश शर्मा पार्षद रहीं। उनका वार्ड आरक्षण प्रक्रिया के बाद ओबीसी महिला के लिए आरक्षित हो गया है। जबकि नीरू बृजेश शर्मा को नपा अध्यक्ष पद का दावेदार बताया जा रहा है, वे अपने लिए सुरक्षित वार्ड की तलाश में लग गई हैं।
वार्ड 15 से नीतू महेन्द्र सिंह पार्षद रही हैं। इस बार महेन्द्र सिंह चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे, जबकि यह वार्ड ओबीसी के लिए आरक्षित हो गया है। महेन्द्र पार्षद बनने के लिए दूसरे वार्ड की तलाश में जुट गए हैं।
वार्ड 16 में गीता धाकड़ पार्षद रहीं, यह वार्ड आरक्षण के बाद सामान्य हो गया है। वार्ड से नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह सलूजा अपनी पत्नी कुलजीत या बहू शीना सलूजा को मैदान में उतार सकते हैं।
वार्ड 17 से आशा कैलाश धाकड़ पार्षद रहीं। यह वार्ड ओबीसी महिला के लिए आरक्षित है, यहां से आशा धाकड़ पुन: मैदान में उतर सकती हैं। वैसे इस वार्ड से तीन से चार नेता भाजपा की और से दावेदारी कर हैं।
वार्ड 18 से पार्षद रहे कविन्द्र चौहान का वार्ड ओबीसी के लिए आरक्षित हो गया है। कविन्द्र यहां से पुन: चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।

वार्ड 19 से अजब बाई लोधा पार्षद रहीं, उनका वार्ड सामान्य हो गया है, वे पुन: चुनाव लड़ सकती हैं।
वार्ड 20 से लक्ष्मी रमेश जाटव पुन: वार्ड एससी हो जाने पर चुनाव लड़ सकती हैं।

वार्ड 21 से मीराबाई पार्षद रहीं, यह वार्ड एससी हो गया है। मीराबाई चुनाव लड़ सकती हैं।

वार्ड 22 से राजू ओझा पार्षद थे, यह वार्ड सामान्य हो गया है। यहां से राजू ओझा के अलावा दो-तीन सिंधिया समर्थक और कांग्रेस के दो युवा नेता चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं।

वार्ड 23 से सुनील मालवीय पार्षद रहे, इस बार भी यह वार्ड एससी के लिए आरक्षित है, मालवीय इस वार्ड से अपने किसी परिजन को चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी कर रहे हैं। वैसे उनके ही समाज के दो अन्य नेता भी यहां से अपनी दावेदारी जता रहे हैं।

वार्ड 24 से पार्षद रहीं सोनम परिहार का वार्ड एससी महिला था, यह वार्ड पुन: एससी महिला है।

वार्ड 25 से पार्षद रहीं अंजना धर्मपाल जाट फिर चुनाव लड़ सकती हैं। वार्ड फिर ओबीसी महिला के लिए आरक्षित है।

वार्ड 26 से सुनीता रविन्द्र रघुवंशी का वार्ड सामान्य ही रहा है, यहां से रविन्द्र रघुवंशी स्वयं भी चुनाव मैदान में उतर सकते हैं या पुन: सुनीता को चुनाव मैदान में उतार सकते हैं।

वार्ड 27 से ममता नवीन चौधरी पार्षद रहीं, उनका वार्ड इस बार भी सामान्य है।

वार्ड 28 से प्रमोद घोसी पार्षद रहे, इस बार वे स्वयं चुनाव नहीं लड़ पाएगे, उनका वार्ड सामान्य महिला के लिए आरक्षित हो गया है।

वार्ड 29 राजू यादव का वार्ड सामान्य महिला के लिए आरक्षित हो गया है, यहां से वंदना प्रभाकर मांडरे का नाम पार्षद पद के दावेदारों के रूप में तेजी से चल पड़ा है।

वार्ड 30 फिर एसटी के लिए आरक्षित है। यहां से रमेश भील पार्षद रहे हैं।

इस बार आरक्षण की प्रक्रिया की वजह से सबसे ज्यादा परेशानी शिवपाल परमार, मृदुल शर्मा और महेन्द्र रघुवंशी उर्फ बिट्टू की बढ़ी है। उनके वार्ड आरक्षित हो गए हैं। शिवपाल परमार की माता ओमवती परमार वार्ड 31 से पार्षद रहीं, जो ओबीसी महिला के लिए आरक्षित हो गया है। वार्ड 32 से मनीष शर्मा पार्षद रहे उनके लिए इस बार भी पार्षद का चुनाव लड़ने का मौका है।

वार्ड 33 से पार्षद रामबाबू राठौर रहे उनका वार्ड सामान्य महिला के लिए आरक्षित हो गया है, रामबाबू स्वयं नहीं लड़ पाएंगे। वार्ड 34 से अविनाश पारोछिया को पुन: वार्ड आरक्षित होने से चुनाव लड़ सकते हैं। वार्ड 35 से मृदुल शर्मा गुड्डू का वार्ड ओबीसी के लिए आरक्षित हो गया है, वे यहां से चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। वार्ड 36 से महेन्द्र रघुवंशी बिट्टू भी वार्ड ओबीसी के लिए आरक्षित हो गया है। लक्ष्मण सिंह जाटव वार्ड 37 से पार्षद रहे हैं, उनका वार्ड अजा महिला के लिए आरक्षित हो गया है, इससे वे स्वयं चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: आदित्य ठाकरे ने एकनाथ शिंदे पर बोला हमला, कहा-सदन में बागी आंख नहीं मिला पाए; जनता का कैसे करेंगे सामना?296 किमी लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का शुभारंभ करने जालौन आएंगे पीएम मोदी और सीएम योगीMaharashtra: औरंगाबाद और उस्मानाबाद को नया नाम देने का मुद्दा विधानसभा में उठा, अबू आजमी ने उद्धव ठाकरे पर साधा निशाना, तो शिवसेना MLA ने दिया जवाबपश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के कोलकाता स्थित आवास में घुसा शख्स, गिरफ्तारपांच दिन बाद जयपुर में इंटरनेट हुआ शुरू, सीकर में फिर बंद कियामैं अलकायदा से बोल रहा हूं... मथुरा में किसको आया जान से मारने की धमकी वाला कॉल?7th Pay Commission: इन कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, 40,000 रुपए तक खाते में आएंगे पैसेओवैसी के गढ़ हैदराबाद में BJP का हिंदुत्व कार्ड, कैसे योगी की एंट्री से बदलेंगे समीकरण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.