Action: कुशमौदा में 20 मकान तोड़े तीन बीघा जमीन मुक्त कराई

प्रशासन की कार्रवाई

By: Manoj vishwakarma

Updated: 03 Jan 2020, 11:30 AM IST

गुना. शहर को माफिया मुक्त बनाने के लिए प्रशासन ने नए साल में भी कार्रवाई की शुरुआत कर दी है। गुरुवार को एसडीएम शिवानी गर्ग और नायब तहसीलदार सोनू गुप्ता ने पुलिस बल के साथ कुशमौदा में २० मकानों को धराशाही करवा दिया है। इसके अलावा तीन बीघा जमीन को मुक्त करा दिया गया।

यहां करीब ३ करोड़ की भूमि से अतिक्रमण हटाया गया है। दरअसल, पटवारी हल्का नंबर ५९ में ५० बीघा जमीन पर लोगों ने अतिक्रमण कर लिया है। यहां कई लोगों ने पक्के निर्माण तक कर लिए थे। इसके अलावा कुछ लोगों ने फर्जी दस्तावेज बनाकर भूमि बेचने का भी काम किया है। इसके लिए प्रशासन ने जांच बैठा दी है। इसमें गड़बड़ी करने वाले कई लोग फंस सकते हैं। यह जमीन नपा के वार्ड २० में स्थित है। लोगों ने जमीन पर कब्जा कर प्लाट बेचने का काम शुरू कर दिया था। प्रशासन ने शहर में ये दूसरी बड़ी कार्रवाई की है। इससे पहले दिसंबर माह में गब्बू पारदी के कब्जे से ५० बीघा सरकारी जमीन को मुक्त कराया था। इस कार्रवाई के बाद प्रशासन की सख्ती दूसरे जमीन माफियाओं पर भी जल्द हो सकती है। प्रशासन इसके लिए तैयारी कर रहा है।

तारफेसिंग भी कराई

जमीन माफियाओं ने इस जमीन को बेचने के लिए दो-दो पांच बीघा पर तारफेंसिंग लगा ली है। इनमें कई लोगों को चिन्हित किया गया है। इसमें पिपरिया के गुड्डा महाराज का अतिक्रमण भी हटाया गया है।

गरीबों को दी गई 15 दिन की मोहलत

उधर, गरीबों को अपनी झोपड़ी हटाने एसडीएम गर्ग ने १५ दिन की मोहलत दी है। उन्होंने लोगों से कहा है कि वे १५ दिन में दूसरी आसरा देख लें, नहीं तो उनके कब्जे को हटा दिया जाएगा।

इधर, तीन साल से फरार वारंटी गिरफ्तार

गुना. जामनेर थाना पुलिस ने तीन साल से फरार स्थायी वारंटी को गिर तार कर लिया है। थाना प्रभारी एसआई कृपाल सिंह परिहार ने बताया कि आरोपी कमल सिंह पुत्र पन्नालाल भील निवासी ग्राम गजपुरा को मुखबिर से सूचना मिली थी कि आरोपी अपने घर से बस द्वारा जामनेर आने वाला है। सटीक सूचना पर पुलिस ने टीम ने वारंटी को बस स्टंैंड से गिर तार कर लिया। उल्लेखनीय है कि वारण्टी थाना जामनेर के वर्ष 2016 में झगडे के प्रकरण में फरार चल रहा था। पुलिस के मुताबिक उक्त स्थाई वारण्टी को गिर तार करने मे थाना प्रभारी कृपाल सिंह परिहार के अलावा सउनि मोकम सिंह, आरक्षक जितेन्द्र मीणा, सैनिक महिपाल सिंह की सराहनीय भूमिका रही।

Show More
Manoj vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned