scriptWhat is the math of the electricity company, 28 thousand bills were ha | बिजली कंपनी का यह कैसा अंक गणित, उपभोक्ता को थमा दिया एक महीने का 28 हजार बिल | Patrika News

बिजली कंपनी का यह कैसा अंक गणित, उपभोक्ता को थमा दिया एक महीने का 28 हजार बिल

पिछले महीने आया था 81 रुपए
गर्मी उगलने लगी आग, पारा 42 के पार
- पंखा देने लगे गर्म हवा, कूलर का ही सहारा
- अघोषित मैराथन बिजली कटौती ने गर्मी का पारा और बढ़ाया

गुना

Published: April 28, 2022 12:25:42 am

गुना. इस समय कोई विभाग आम आदमी को परेशान कर रहा है तो वह है बिजली विभाग। इसकी कार्यप्रणाली ऐसी है कि शायद ही कोई परिवाार ऐसा हो जो इससे पीड़ित न हो। फिर चाहे बात बिजली वितरण व्यवस्था की हो या फिर बिल देने की। दोनों ही मामलों में बिजली कंपनी के अधिकारी-कर्मचारियों मनमानी पर उतारू हैं। जिस समय नागरिकों को सबसे ज्यादा बिजली की जरूरत है उसी समय अघोषित मैराथन बिजली कटौती कर जनता को परेशान किया जा रहा है। कंपनी के अधिकारियों का मनमाना रवैया यहीं तक सीमित नहीं है। विद्युत बिलों को देने में भी शासन के मापदंडों का पालन नहीं किया जा रहा है। इसके एक नहीं बल्कि दर्जनों उदाहरण अब तक सामने आ चुके हैं। जिनका दंश हजारों उपभोक्ता आज तक भुगत रहे हैं। उनकी न तो बिजली कंपनी के स्थानीय कार्यालय में सुनवाई हो रही है और न ही जिला स्तर पर। ऐसे में कई नागरिक तो उपभोक्ता फोरम की शरण लेने को विवश हो चुके हैं। लेकिन असली परेशानी उन गरीब व मध्यम वर्गीय परिवार की है जो बिल सुधार के लिए इतने ज्यादा कदम उठाने में सक्षम नहीं हैं।
-
इस उदाहरण से समझें बिजली कंपनी की कार्यप्रणाली
नाम : उदयराज
निवासी : घोसीपुरा गुना
विवरण : उपभोक्ता ने लिखित शिकायत में बताया है कि उसका फरवरी माह का बिल 81 रुपए आया था। जिसकी ड्यू डेट 23 मार्च थी। इस बिल को उसने 10 फरवरी को ही ऑनलाइन जमा कर दिया। जिसकी रसीद भी उसके पास मौजूद है। इसके बाद अप्रेल माह का जो बिल उसके पा आया उसकी राशि देखकर पैरों तले जमीन खिसक गई। क्योंकि यह राशि 500 या हजार रुपए नहीं बल्कि 28 हजार 129 रुपए थी। बिल को लेकर सीधे वह कंपनी के कार्यालय गया। बिल और जमा की गई रसीद दिखाकर अपनी समस्या बताई लेकिन अधिकारियों ने उसकी एक नहीं सुनी और कहा कि पहले यह बिल जमा कराओ तब ही आगे कुछ करेंगे। लेकिन उपभोक्ता का कहना था कि जब बिल ही गलत आया है तो फिर राशि जमा क्यों करवाई जा रही है। वैसे भी बिल की राशि इतनी नहीं है कि उसे आसानी से एक साथ जमा करा दिया जाए। सब कुछ कहने के बावजूद अधिकारियों कुछ सुनने को तैयार नहीं हैं। ऐसे रुखे व्यवहार के चलते उदयराज काफी परेशान हैं। क्योंकि आगामी बिल में फिर पुरानी राशि जुड़कर आ जाएगी। जब तक कि बिल की राशि समायोजित नहीं होगी तब तक वह बिल भी जमा नहीं कर पाएंगे। ऐसे में उपभोक्ता को समझ नहीं आ रहा कि आखिर वह किसके पास अपनी समस्या लेकर जाए।
-
रीडिंग से भी समझें बिल में गड़बड़ी
माह रीडिंग
मार्च 3.097
फरवरी 62
जनवरी 84
दिसंबर 99
नवंबर 86
अक्टूबर 729
-
गर्मी इतनी कि पंखे फेंक रहे गर्म हवा
अप्रेल माह में गर्मी पूरे शबाव पर आती जा रही है। जैसा कि मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया था कि 30 अप्रेल तक पारा 44 डिग्री तक पहुंच सकता है। यह संभावना वर्तमान में पड़ रही आग उगलती गर्मी को देखकर सही जान पड़ रही है। बुधवार को घर से बाहर निकलते ही गर्म हवाओं का सामना करना पड़ा। घरों के अंदर पंखा गर्म हवा फेंक रहे थे। ऐसे में लोगों को कूलर का सहारा लेना पड़ रहा है। लेकिन यहां भी लोगों के समक्ष जल संकट बड़ी बाधा बन रहा है।
-
बिजली की खपत बढ़ी, आपूर्ति घटी
भीषण गर्मी का दौर शुरू हो चुका है। जिसके साथ ही बिजली की खपत बढ़ती ही जा रही है। जो लोग अभी तक सिर्फ पंखे से ही काम चला रहे थे, वह अब कूलर भी चलाने लगे हैं। वहीं ऐसे लोगों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है जो गर्मी से बचने एयर कंडीशनर का उपयोग करने लगे हैं। यही वजह है कि एकाएक विद्युत खपत भी बढ़ गई है। ऐेसे समय में विद्युत आपूर्ति घटती जा रही है। बिजली कंपनी कभी फाल्ट तो कभी अघोषित कटौती कर बिजली बचाने का प्रयास कर रही है। उधर ग्रामीण क्षेत्र में मूंग की फसल में सिंचाई के लिए भी विद्युत का उपयोग बढ़ गया है।
बिजली कंपनी का यह कैसा अंक गणित, उपभोक्ता को थमा दिया एक महीने का 28 हजार बिल
बिजली कंपनी का यह कैसा अंक गणित, उपभोक्ता को थमा दिया एक महीने का 28 हजार बिल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.