जिला अस्पताल में केक काटकर मनाया विश्व फार्मासिस्ट दिवस

सिविल सर्जन ने फूलमालाएं पहनाकर किया फार्मासिस्ट का सम्मान

By: Narendra Kushwah

Published: 26 Sep 2021, 12:39 AM IST

गुना। जिला चिकित्सालय में शनिवार को विश्व फार्मासिस्ट दिवस केक काटकर मनाया गया। इस अवसर पर जिला चिकित्सालय में कार्यरत सभी फार्मासिस्ट का सम्मान किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सिविल सर्जन डॉ. हर्षवर्धन जैन, डॉ. सुधीर राठौर, डॉ. अनिल विजयवर्गीय एवं डॉ शिल्पा टांटिया ने सभी फार्मासिस्ट का फूल माला पहनाकर स्वागत किया तथा फार्मासिस्ट के कार्य की सराहना की। इस मौके पर जिला चिकित्सालय में कार्यरत फार्मासिस्ट अंकुर जैन, सुधीर पाल, मनीष पंत, दिनेश बाथम, राजीव जेठवानी, रजीक अहमद सिद्दीकी, मकसूद बेग आदि का सम्मान कर उनको मिठाई खिलाकर सम्मान किया।
इस अवसर पर फार्मासिस्ट अंकुर जैन ने बताया कि इस्तांबुल, तुर्की में एफआईपी काउंसिल ने 25 सितंबर को 2009 में विश्व फार्मासिस्ट दिवस घोषित किया था। तभी से 25 सितंबर विश्व फार्मासिस्ट दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिवस विश्व के हर कोने में स्वास्थ्य को सुधारने, फार्मेसिस्ट की भूमिका को बढ़ावा देने और उनके सहयोग को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है। इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ. हर्षवर्धन जैन ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में फार्मासिस्ट एक महत्वपूर्ण किरदार निभाता है। स्वास्थ्य विभाग में सुधार करने में फार्मासिस्ट अपना अहम रोल अदा करते हैं। आज हम सभी स्वस्थ हैं तो इसके पीछे फार्मासिस्टों का भी अहम योगदान है। वहीं डॉ. सुधीर राठौर ने कहा कि हमारे स्वस्थ रहने और खुशहाल जीवन जीने में डॉक्टर के साथ-साथ फार्मासिस्ट का भी बड़ा रोल होता है। फार्मासिस्ट को केमिस्ट भी कहा जाता है यह ऐसा विशेषज्ञ होता है जिसे दवाइयों के बारे में संपूर्ण जानकारी होती है। यह दिवस मना कर हम उन सभी फार्मेसिस्टों को यह संदेश देते हैं कि वह हमारे लिए कितने महत्वपूर्ण हैं। वहीं वरिष्ठ फार्मसिस्ट रजीक अहमद सिद्दीकी ने कहा कि फार्मासिस्ट स्वास्थ्य विभाग की रीड की हड्डी है जिनके बगैर स्वास्थ्य सेवाएं चला पाना मुश्किल है ।

Narendra Kushwah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned