हरियाणा विधानसभा चुनाव: मतदान के दिन सवा लाख मतदाताओं को मिलेगी खास सुविधा

हरियाणा में एक लाख 36 हजार मतदाताओं को मतदान केन्द्र ( Polling Booth ) तक पहुंचाने के लिए वाहन सुविधा उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी रिटर्निंग अधिकारी ( Returning Officer ) की होगी।

चंडीगढ़. चुनाव आयोग ( Election Commision ) ने दिव्यांग मतदाताओं ( Disabled Voters ) को मतदान केंद्र तक पहुंचाने के लिए वाहन सुविधा उपलब्ध करवाने का फैसला किया है। इसे दिव्यांग मतदाता की मांग पर ही उपलब्ध करवाया जाएगा। माना जा रहा है कि पूर्व में हुए मतदान के दौरान दिव्यांग मतदाताओं की वोट प्रतिशतता में कमी का मुख्य कारण मतदान केंद्र तक आसान पहुंच नहीं रही है। इससे राजनीतिक दलों ( Political Party ) की दिव्यांग मतदाताओं को मतदान केंद्र तक पहुंचाने की प्रलोभित करने की नीति को भी हतोत्साहित किया जाएगा।

निर्वाचन आयोग ने दिए निर्देश

राज्य निर्वाचन आयोग ने जिला निर्वाचन अधिकारियों को भेजे गए पत्र में निर्देश जारी किए है कि वह अपने अधिकार क्षेत्र में तैनात चुनाव अधिकारियों के माध्यम से दिव्यांग मतदाताओं को चिन्हित करें। चुनाव आयोग के रेकार्ड के अनुसार हरियाणा में इसी साल हुए लोकसभा चुनाव के दौरान दिव्यांग मतदाताओं की संख्या एक लाख थी जो विधानसभा में बढ़कर एक लाख 36 हजार तक पहुंच चुकी है।

रिटर्निंग अधिकारी की होगी जिम्मेदारी

बहुत से दिव्यांग मतदाता ऐसे हैं जिन्हें मतदान केंद्र तक पहुंचने में दिक्कत रहती है। ऐसे मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करे इसके लिए आयोग ने तैयारी शुरू कर दी है। संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. इन्द्रजीत के अनुसार कोई भी दिव्यांग मतदाता वाहन सुविधा चाहता है तो उसे घर से मतदान केंद्र तक लाने और वापस छोडऩे की जिम्मेदारी संबंधित रिटर्निंग ऑफिसर की होगा।

Show More
Devkumar Singodiya
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned