सावधान! चेहरे पर नहीं मास्क तो...जेब में रखना होगा पर्स। पढि़ए क्यों...

कोविड नियमों का उल्लंधन पर सकता है भारी
गुरुग्राम. कोरोना की नई गाइडलाइन को फॉलो नहीं करने वाले हो जाएं सावधान! अब आपको किसी भी चौराहे पर पुलिस का सामना करना पड़ सकता है और कोविड नियमों के उल्लंघन आपके स्वास्थ्य के साथ-साथ आपकी जेब पर भी भारी हो सकता है।

By: satyendra porwal

Published: 05 Apr 2021, 11:12 PM IST

लोग कोविड नियमों की पालना के साथ ही होंगे, अन्यथा नहीं
जिला गुरुग्राम में कोरोना की बढ़ती रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए सोमवार को उपायुक्त डॉ. यश गर्ग ने प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों की बैठक बुलाई। ठसमें उन्होंने कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर की पालना सभी जगह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों से स्पष्ट कहा कि जिला में अब कहीं भी लोग कोविड नियमों की पालना के साथ ही होंगे, अन्यथा नहीं होंगे। जिला में कहीं भी कोई कार्यक्रम होगा तो उपायुक्त से पूर्व अनुमति लेनी जरूरी है।
उपायुक्त गर्ग ने निर्देश दिए कि सार्वजनिक स्थलों की जांच में मास्क नहीं पहनने या सोशल डिस्टेंसिंग अर्थात 2 गज की दूरी नियम पालन नहीं करने वालों के चालान करें। उन्होंने कहा कि गुरुग्राम पुलिस प्रतिदिन कम से कम 1000 चालान करें और नगर निगम अधिकारी अपने हर जोन में कम से कम 100 चालान अवश्य करें।
सभी जगहों पर विशेषकर मार्केट और मॉल, बड़े अस्पतालों जहां भीड़ की संभावना है, वहां Óयादा चालान करें।
ऐसे बनाएं रणनीति
सभी एसडीएम अपने-अपने क्षेत्र में मैरिज पैलेस, फार्म हाउस तथा क्लब आदि में कार्यक्रमों का कैलेंडर प्राप्त करें। ऐसे स्थलों के प्रबंधकों और मालिकों की जिम्मेदारी होगी कि वे कार्यक्रमों की सूचना नजदीकी थाने में अवश्य देंगे। फिर आकस्मिक जांच करें व कहीं भी कोताही पाए जाने पर दोषियों के खिलाफ चालान करें।
कंटेनमेंट जोन के आदेश सख्ती से लागू करें। कहीं भी ढिलाई नजर नहीं आनी चाहिए। स्कूलों की चेकिंग और मॉनिटरिंग करें। अस्पतालों में पर्याप्त बेड व्यवस्था सुनिश्चित करें।
एक बार फिर दें सजगता का परिचय
रेवाड़ी. मास्क व परस्पर उचित दूरी की अनुपालना व 45 साल से अधिक आयु वर्ग के प्रत्येक व्यक्ति को वैक्सिनेशन आवश्यक है। डीसी यशेन्द्र सिंह ने आमजन से अपील की है कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए एक बार फिर से सजगता का परिचय देना होगा। छोटी-छोटी सावधानियां को अपनाकर हम स्वयं व दूसरों का कोरोना से बचाव कर सकते हैं। बहुत से लोग कोरोना को हलके में ले रहे हैं वे न तो मास्क लगा रहे हैं और न ही दूसरे उपायों व नियमोंं का पालन कर रहे हैं, जो बेहद नुकसानदायक कदम है। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर मास्क न लगाने वालों के चालान भी किए जा रहे हैं।

satyendra porwal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned