कोविड मामलों में लापरवाही बर्दाश्त से बाहर: अनिल विज

गुरुग्राम. देशभर में ऑक्सीजन संकट के बीच हरियाणा के गुरुग्राम और रेवाड़ी में कई लोगों को ऑक्सीजन न मिलने के चलते काल कवलित होने की खबर के बाद प्रदेश सरकार ने सख्त रवैया अपनाया है। ऐसे मामलों में संज्ञान लेते हुए हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने गुरुग्राम और रेवाड़ी में जांच के आदेश दे दिए हैं। विज ने कहा कि इस मामले में किसी की लापरवाही सामने आने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। कोविड मामलों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

By: Devkumar Singodiya

Published: 26 Apr 2021, 06:18 PM IST

दीपेंद्र हुड्डा द्वारा कोरोना संकट में दवा, बेड और ऑक्सीजन की कमी को लेकर सरकार पर आरोप लगाने पर विज ने पलटवार करते हुए कहा है कि दीपेंद्र हुड्डा नेगेटिव इंसान है। हरियाणा के सरकारी अस्पतालों में किसी तरह के संसाधनों की कमी नहीं है। विज ने कहा कि केवल प्राइवेट अस्पतालों में दिक्कत आ रही है। उन्होंने कहा कि हमारे पास डॉक्टर्स, दवाईयां, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर्स के इलावा रेमडिसीवर की भी कोई कमी नहीं है, क्योंकि हमने समय रहते इंतजाम कर लिया है। साथ ही कालाबाजारी रोकने के लिए भी पूरे इंतजाम किए गए हैं।

रणदीप सुरजेवाला द्वारा ट्वीट कर कोरोना वैक्सीन के टीके के अलग-अलग दामों पर भी सवाल खड़ा करने पर मंत्री उन्होंने कहा कि वैक्सीन के दाम कंपनी और केंद्र ने तय किए हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा में वैक्सीन की कमी नहीं आने दी जाएगी और 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन निशुल्क लगाई जाएगी।

हरियाणा में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों के मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि सरकार प्रदेश में जरूरत की जगहों पर अस्पताल बनाना चाहती है। खासतौर पर गुरुग्राम में सरकार अस्पताल स्थापित करना चाहती है। ऐसे में कई लोग 400 और 200 बेड के अस्पताल की व्यवस्था के लिए आगे भी आए हैं, लेकिन इन अस्पतालों के लिए सरकार को डॉक्टरों की जरूरत है। इनकी व्यवस्था होने पर अस्पताल शुरू करने मेें देरी नहीं होगी।

Devkumar Singodiya Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned