Haryana Election 2019: कांग्रेस छोड़ने के बाद तंवर का अनोखा विरोध, सोशल प्रोफाइल को किया ब्लैक

Haryana Election 2019: कांग्रेस छोड़ने के बाद तंवर का अनोखा विरोध, सोशल प्रोफाइल को किया ब्लैक
Haryana Election 2019: कांग्रेस छोड़ने के बाद तंवर का अनोखा विरोध, सोशल प्रोफाइल को किया ब्लैक

Devkumar Singodiya | Updated: 06 Oct 2019, 05:59:21 PM (IST) Gurgaon, Gurgaon, Haryana, India

कांग्रेस से इस्तीफा देने के साथ ही अशोक तंवर ने विरोध की नई मुहिम छेड़ दी है। उन्होंने अपने फेसबुक और ट्वीटर पेज से सभी फोटो हटाकर काला कर दिया है।

गुरुग्राम. कांग्रेस छोडऩे वाले पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर ने सोशल मीडिया के माध्यम से रोष व्यक्त किया। अशोक तंवर के फेसबुक और ट्वीटर पेज पर जहां पहले सोनिया, राहुल और प्रियंका के हंसते मुस्कराते फोटो लगे थे, वहां रविवार को तंवर ने अपने ट्वीटर पेज से सभी फोटो हटा लिए। इतना ही नहीं उसे काला करके अपना विरोध भी दर्ज करवाया। उन्होंने समर्थकों और कार्यकर्ताओं का सम्मेलन भी किया। माना जा रहा है कि इसका सीधा नुकसान कांग्रेस को होगा।

गुरुग्राम, झज्जर और रोहतक में समर्थक किए एकजुट

तंवर के भंवर में हरियाणा कांग्रेस

टिकट आवंटन से नाराज अशोक तंवर ने शनिवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देकर अपनी राहें अलग कर ली। कांग्रेस हाईकमान तथा हुड्डा गुट इस मामले को खत्म मानकर शांत हो गया था वहीं अशोक तंवर ने रविवार से नया मोर्चा खोल दिया है। अशोक तंवर फील्ड में उतर आए और गुरुग्राम, झज्जर तथा रोहतक जिलों का दौरा कर समर्थकों को एकजुट किया। विधानसभा चुनाव तक वह प्रदेश में समर्थकों को लामबंद कर जनसभाएं करेंगे।

इस्तीफों का सिलसिला जारी

चुनावी सीजन में फिर शुरू हुआ नया विवाद


अशोक तंवर के समर्थन में रविवार को भी इस्तीफों का दौर जारी रहा। पृथला से सत्यवीर डागर, नवीन शर्मा, सुजीत भारद्वाज, पंकज डाबर, संतोष पांचाल समेत उन सभी नेताओं ने पद से इस्तीफे दे दिए, जिन्हें तंवर ने अपने कार्यकाल के दौरान विभिन्न प्रकोष्ठों की जिम्मेदारी सौंप रखी थी। पूरे प्रकरण पर हरियाणा कांग्रेस और हाईकमान अभी तक चुप है। हालांकि तंवर की कवायद को देखते हुए हुड्डा ने भी कार्यकर्ताओं को एकजुट किया।


कांग्रेस कार्यकर्ता आए दुविधा में

मतदान के दिन मतदाताओं को मिलेगी खास सुविधा


हरियाणा में कांग्रेस कार्यकर्ता एक बार फिर दुविधा में हैं। पिछले पांच साल तक भूपेंद्र सिंह हुड्डा और अशोक तंवर खुद को असली कांग्रेसी बताकर कार्यकर्ताओं में भ्रम की स्थिति पैदा करते रहे हैं। अब बदले हालातों में कार्यकर्ताओं को मनोबल पूरी तरह से टूट चुका है। अशोक तंवर तथा उनके समर्थक पिछले पांच साल तक फील्ड में रहने का हवाला देकर खुद को असली कांग्रेसी बता रहे हैं तो भूपेंद्र सिंह हुड्डा खुद को असली कांग्रेसी बता रहे हैं।

 

हरियाणा की अधिक खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें ...
पंजाब की अधिक खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें ...

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned