सावधान ! सस्ते के लालच में फंस मत जाना...वरना...

फर्जी कागजात बनवाकर खाली प्लाट बेचते थे, गैंग गिरफ्तार।
मोहर, तहसील और फर्जी स्टांप की कुछ मोहर मिली।
तहसील के कर्मचारियों की जांच के लिए एसआईटी गठित।

गुरुग्राम. फर्जी कागजात बनवाकर खाली प्लाट बेचने वाली गैंग को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस तरह के अब तक 5 केस दर्ज हो चुके हैं। पुलिस को गैंग से फर्जी कागजात बनाने की मोहर, तहसील और फर्जी स्टांप की कुछ मोहर हाथ लगी है। अब तक के खुलासे में गैंग 50-60 करोड़ की कीमत वाले खाली प्लाट बेच चुकी हैं। गुरुग्राम पुलिस को मानना है कि इसमें तहसील के कर्मचारी भी शामिल हो सकते हैं। इसके लिए एसआईटी गठन कर जांच शुरू कर दी गई है।
ऐसे करते थे गड़बड़ी
पहले खाली प्लाट ढूंढते थे। फिर प्लॉट के कागजात निकलवाते और उसके आधार पर जमीन मालिक की फर्जी आईडी तैयार करते। इसमें फोटो इनके होते। नाम जमीन मालिकों के। बाद में ऐसे लोगों को तलाशते जो खाली प्लॉट खरीदने के इच्छुक हैं। उन्हें मजबूरी का हवाला देकर मार्केट रेट से कुछ कम दामों में रजिस्ट्री की बात कर तहसील में इन प्लॉट के मालिक बताकर प्लाट बेचकर भाग जाते थे।

Show More
satyendra porwal Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned