हिंदू बंगालियों को असमिया से शादी करने पर मिलेगी आर्थिक मदद, दूरियां कम करने के प्रयास

Assam News: बोर्ड के चेयमैन आलोक कुमार घोष ने कहा कि अलग समुदाय में विवाह करने वाले दंपती (Financial Help To Hindu Bengali-Assamese Couple After Marriage) को अक्सर संपत्ति से बेदखल कर दिया (Assam News) जाता है। (Assam Government) इसके (Citizenship Amendment Act) अलावा (CAA)...

 

(गुवाहाटी,राजीव कुमार): असम में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के तहत हिंदू बांग्लादेशियों को बसाने का विरोध हो रहा है। ऐसे में हिंदू बंगालियों और असमिया लोगों के बीच खाई को पाटने के लिए राज्य का भाषाई अल्पसंख्यक विकास बोर्ड सामने आया है। उसने तो दोनों समुदायों के बीच सौहार्द का माहौल बनाने के लिए अंतरराज्यीय विवाह को बढ़ावा देने का फैसला किया है। इसके लिए चालीस हजार की आर्थिक मदद देने का भी ऐलान किया गया है।

यह भी पढ़ें: Video: चलती ट्रेन से गिरीं महिला, RPF जवान ने यूं बचाई जान


बोर्ड ने कहा है कि असम में रहने वाले बंगाली हिंदू दुल्हनें या दूल्हे असमिया दुल्हन या दूल्हे से शादी करते हैं तो उन्हें यह आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी। बोर्ड के चेयमैन आलोक कुमार घोष ने कहा कि अलग समुदाय में विवाह करने वाले दंपती को अक्सर संपत्ति से बेदखल कर दिया जाता है। इसके अलावा उनका सामाजिक रूप से बहिष्कार का भी सामना करना पड़ता है। हमारी कोशिश है कि इस तरह के दंपती को दुकान, ब्यूटी पार्लर खोलने के साथ ही खेती किसानी करने में भी मदद की जाए। इस प्रस्ताव को राज्य सरकार के समक्ष दो दिन पहले पेश किया गया था। इसके लिए एक वेबसाइट भी डिजाइन कर दी गई है, जहां पर बंगाली-असमिया हिंदू दंपती अपनी जानकारी ऑनलाइन पंजीकृत करा सकते हैं।

 

यह भी पढ़ें: असम सरकार बंद करेगी मदरसे और संस्कृत विद्यालय, इसे बताया फिजूल खर्ची

घोष ने दावा किया कि इस पहल से खुशहाली बढ़ेगी वहीं, अखिल असम अल्पसंख्यक छात्र संघ ने इसे विभाजनकारी बताया और बोर्ड पर धार्मिक ध्रुवीकरण का प्रयास करने का आरोप लगाया।अखिल असम बंगाली युवा छात्र संघ के अध्यक्ष सम्राट भुवाल ने कहा कि उनका संगठन बंगालियों और असमियों के बीच अविश्वास को दूर करने के लिए पहल करेगा।

असम की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: जलियांवाला बाग घूमने का प्लान बनाने से पहले पढ़ें यह ख़बर, नहीं तो होंगे निराश

CAA
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned