पूर्वोत्तर में भाजपा को 14 सीटें मिली, सहयोगियों को तीन सीटें

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजीजू अपनी सीट बरकरार रख पाए हैं...

By: Prateek

Published: 23 May 2019, 10:07 PM IST

(गुवाहाटी): पूर्वोत्तर में भाजपा को अकेले 25 में से 14 सीटें हासिल हुई है। इनमें अकेले असम से नौ, अरुणाचल और त्रिपुरा से दो-दो शामिल है। मणिपुर से एक सीट हासिल हुई है जबकि भाजपा के सहयोगी एनपीपी को एक, नगालैंड की एनडीपीपी को एक और मिजो नेशनल फ्रंट को एक मिली है यानि राजग को पूर्वोत्तर में 25 में से 17 सीटें मिली है। एनपीएफ राजग में था। पर वह चुनाव के पहले निकल गया। उसे मणिपुर में एक सीट मिली है।

 

असम में भाजपा को पिछले लोकसभा चुनाव से दो सीटों का लाभ हुआ है। भाजपा को नौ सीटें मिली है। असम की सिलचर सीट से अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देब चुनाव हार गई है। वहीं एआईयूडीएफ को दो सीटों का नुकसान हुआ है। कांग्रेस अपनी तीन सीटों पर बरकरार रही है। वहीं कोकराझाड़ संसदीय सीट पर निर्दलीय नव कुमार शरणीया चुनाव जीते हैं।वहीं मेघालय की दो सीटों में एक एनपीपी और एक कांग्रेस के खाते में गई है। इसमें कोई बदलाव नहीं है। त्रिपुरा की दो सीटों पर भाजपा जीती है। पहले दोनों सीटें माकपा के पास थी।

 

अरुणाचल प्रदेश की दो सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की है। पहले एक सीट भाजपा के पास थी तो एक कांग्रेस के पास थी। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजीजू अपनी सीट बरकरार रख पाए हैं। मिजोरम की एक सीट पर मिजो नेशनल फ्रंट, नगालैंड की एक सीट पर कांग्रेस के के एल चिशी, सिक्किम की एक सीट पर सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चो, मणिपुर की दो सीटों पर एक में भाजपा और एक में एनपीएफ ने जीत दर्ज की है।

Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned