असम में तेल के कुए में लगी आग हुई बेकाबू, 2 मरे 6 घायल

(Assam News )तिनसुकिया जिले में 'ऑयल इंडिया' के (Oil India ) बागजान कुएं में (Fire in Indian Oil well ) लगी भीषण आग में दो दमकलकर्मियों की मौत (2 died in oil well fire ) हो गई। इस हादसे में छह लोग घायल हो गए। कुए में क्रूड ऑयल और गैस की भारती तादाद में मौजूदगी से अनुमान लगाया जा रहा है कि आग बुझाने मे कई महीनों का वक्त लग सकता है।

By: Yogendra Yogi

Published: 10 Jun 2020, 08:07 PM IST

गुवाहाटी(असम): (Assam News )तिनसुकिया जिले में 'ऑयल इंडिया' के (Oil India ) बागजान कुएं में (Fire in Indian Oil well ) लगी भीषण आग में दो दमकलकर्मियों की मौत (2 died in oil well fire ) हो गई। इस हादसे में छह लोग घायल हो गए। आग की लपटें आसमान तक उठना जारी हैं। कुए में क्रूड ऑयल और गैस की भारती तादाद में मौजूदगी से अनुमान लगाया जा रहा है कि आग बुझाने मे कई महीनों का वक्त लग सकता है। इसका दायरा काफी बढ़ गया है और करीब एक किलोमीटर के दायरे में सब कुछ खाक हो गया है। बागजन गैस का कुआं डिबू्र - सेखोवा राष्ट्रीय उद्यान के साथ सटा क्षेत्र है। इस आगजनी में गंभीर रूप से घायल 6 लोगों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करा गया है।

15 दिन से हो रहा था गैस रिसाव
गौरतलब है कि पिछले करीब पन्द्रह दिनों से तेल के कुए से गैस का रिसाव हो रहा था। गैस में हुए धमाके से समीप स्थित वन्यजीव क्षेत्र में डाल्फिन और दूसरी मछलियों की मौत हो गई थी। सिंगापुर से आए विशेषज्ञों की टीम ने कुए से निकली गैस को नियंत्रित करने के भी प्रयास किए, पर रिसाव इतना जबरदस्त था कि सफलता नहीं मिली। इसके बाद कुए में आग लग गई। आग इतनी भीषण है कि अभी तक कई किलोमीटर दूर से इसकी लपटे दिखाई दे रही हैं।

मृतकों की हुई पहचान
आग बुझाने गए दो दमकलकर्मियों के शव बरामद किए गए हैं। इनके शव पानी में मिले हैं। अनुमान है कि आग से बचने के लिए दोनों ने पानी में छलांग लगा दी। जिससे डूबने से उनकी मृत्यु हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मृत्यु के कारणों का खुलासा हो सकेगा। दोनों की पहचान दुरलोव गोगोई और टीकेश्वर गोहेन के रूप में की गई है और दोनों कंपनी के अग्निशमन विभाग में सहायक ऑपरेटर के पद पर कार्यरत थे।

गांवों की ओर बढ़ रही है आग
असम के पर्यावरण एवं वन मंत्री परिमल सुखाबैद्य के अनुसार आग पर काबू पाने की पूरी कोशिश जारी है, लेकिन आग अब तेजी से गांवों की ओर बढ़ रही है। इस घटना में 2 दमकल विभाग के कर्मचारियों की मौत हो गई है जबकि 6 लोग घायल हो गए हैं।

मुख्यमंत्री ने पीएम को दी जानकारी
मुख्यमंत्री कार्यालय के आधिकारिक बयान के मुताबिक सोनोवाल की प्रधानमंत्री मोदी के साथ टेलीफोन पर बातचीत हुई। उन्होंने घटना की ताजा स्थिति से अवगत कराया और आग के फैलने के बारे में जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आग घटना के पीडि़तों को हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया। प्रधानमंत्री को पेट्रोलियम मंत्रालय, ऑयल इंडिया लिमिटेड और राज्य सरकार की मशीनरी द्वारा उठाये गये आपात उपायों के बारे में भी बताया गया। मुख्यमंत्री सोनोवाल ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बात कर आग बुझाने के लिए भारतीय वायु सेना की सहायता मांगी है।

pm modi
Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned