असम: टिकट न मिलने पर कांग्रेस के इन नेताओं ने लगाया टिकटों के बंटवारे में पैसों के लेन-देन का आरोप

मालूम हो कि कांग्रेस ने आज गुवाहाटी सीट से बबिता शर्मा, बरपेटा से विधायक अब्दुल खालेक, कोकराझाड़ से शब्द राभा और धुबड़ी से आबू ताहेर बेपारी को टिकट दिया है...

By: Prateek

Published: 29 Mar 2019, 09:27 PM IST

(गुवाहाटी,राजीव कुमार): असम में कांग्रेस के टिकट वंचित नेताओं ने आज आरोप लगाया कि टिकट देने में पैसों का लेन-देन हुआ है। तीसरे चरण के लिए कांग्रेस ने जैसे ही उम्मीदवारों के नामों का एलान किया तो टिकट की आस लगाने वाले तथा टिकट से वंचित नेताओं ने आरोप लगाना शुरू कर दिया।


गुवाहाटी संसदीय सीट से टिकट की आस लगाये बैठे बोलिन बरदलै ने कहा कि मैं 2001 से टिकट का प्रयास कर रहा हूं। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी ने मुझे टिकट देने की बात कही थी। पिछले एक साल से मैं गुवाहाटी संसदीय सीट के अधीन आने वाले विधानसभा क्षेत्रों में काम कर रहा था। लेकिन आज निराशा हाथ लगी। मुझे लगता है कि टिकट के लिए पैसों का लेन-देन होता है। मैं तो पैसे देने वालों में से नहीं।


उधर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता द्विजेन शर्मा ने कहा कि मैं तीन साल से मंगलदै संसदीय सीट में काम कर रहा था। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा ने मुझसे कहा था कि आपको ही टिकट मिलेगा। पैसा इकट्ठा करिए। लेकिन मंगदलै में दूसरे को टिकट दे दिया गया। फिर मैं गुवाहाटी संसदीय सीट के लिए आशावादी था। लेकिन वह भी नहीं दी गई। मैं यहां रहता हूं। अब सुना जा रहा है कि टिकट देने में पैसों का लेन-देन हुआ है।


वहीं प्रदेश की पूर्व महिला कांग्रेस अध्यक्ष शहनाज यास्मीन ने कहा कि उन्हें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा ने बरपेटा सीट के लिए काम करने को कहा। उन्होंने कहा था कि पढ़ी लिखी महिला को बरपेटा सीट से टिकट दिया जाएगा। लेकिन अब टिकट न देने के लिए कहा गया कि उस सीट पर महिला का काम नहीं है। यह बेहद दुखद स्थिति है। मालूम हो कि कांग्रेस ने आज गुवाहाटी सीट से बबिता शर्मा, बरपेटा से विधायक अब्दुल खालेक, कोकराझाड़ से शब्द राभा और धुबड़ी से आबू ताहेर बेपारी को टिकट दिया है।

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned