असम में कुदरत का कहर जारी, भूस्खलन में 20 जिंदा दफन

( Assam News ) असम में लगातार हो रही बारिश ( Continue raining in Assam ) से हुए भूस्खलन के हादसे में 20 लोग ( 20 died in land slide ) जिंदा दफन हो गए। मृतक मुख्य रूप से दक्षिणी असम के बराक घाटी क्षेत्र के तीन अलग-अलग जिलों से बताए जा रहे हैं। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। मृतकों में एक अल्पसंख्यक परिवार पूरा (Miniority family died ) जमींदोज हो गया।

By: Yogendra Yogi

Updated: 02 Jun 2020, 04:28 PM IST

गुवाहाटी(असम): ( Assam News ) असम में लगातार हो रही बारिश ( Continue raining in Assam ) से हुए भूस्खलन के हादसे में 20 लोग ( 20 died in land slide ) जिंदा दफन हो गए। मृतक मुख्य रूप से दक्षिणी असम के बराक घाटी क्षेत्र के तीन अलग-अलग जिलों से बताए जा रहे हैं। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। इस क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है।

मृतकों में महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग

यह हादसा असम के तीन इलाकों में हुआ है। मृतकों में एक अल्पसंख्यक परिवार पूरा (Miniority family died ) जमींदोज हो गया। परिवार के सात सदस्यों की मौत हो गई। मरने वालों में महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग भी शामिल हैं। ये हादसे दक्षिणी असम के तीन जिलों कछार, हैलाकांडी और करीमगंज में हुए। इन हादसों में गंभीर रूप से घायल हुए 9 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सोते ही रह गए
इस दर्दनानक हादसे में मारे गए लोगों में से सात कैचर के जॉयपुर से, सात कैचर-हैलाकांडी से, और छह करीमगंज से हैं। मंगलवार तड़के जब लोग अपने घरों में सो रहे थे, उसी वक्त इस कुदरती आपदा ने झकझोर उन्हें रख दिया। भूस्खलन होने के दौरान वे भाग भी नहीं सके। लोगों के पूरे घर तबाह हो गए और पूरा परिवार मौके पर ही खत्म हो गया।

एक परिवार के 6 लोग दफन
हैलाकांडी जिले में भटाटबाजार गांव में सात लोगों की मौत हुई है। इन सात लोगों में से छह लोग एक ही परिवार के थे। दिल को झकझोर देने वाली बात यह है कि छह लोगों में से चार बच्चे थे। जब उनकी लाश मलबे से बाहर निकाली गई तो लोगों के दिल दहल गए।

3 परिवारों के 7 लोगों की मौत
कछार जिले के जॉयपुर थानांतर्गत कोलापुर गांव में सात लोग भूस्खलन का शिकार हुए। बताया जा रहा है कि मरने वाले तीन परिवारों के थे। मृतकों की पहचान ताजिमुद्दीन लस्कर, आलिया बेगम, अल्लमउद्दीन, आरिफ उद्दीन, अमुना बेगम, सोमुना बेगम और रहीमउद्दीन के रूप में हुई है। वे सभी एक ही परिवार से हैं। यहां पर घटना तड़के पांच बजे हुई और मरने वाले सभी उस दौरान अपने घरों में सो रहे थे। पहाड़ी का एक बड़ा हिस्सा टूटकर उनके घर के ऊपर गिरा और पलभर में घर मलबे में तब्दील हो गया।

पहाड़ी के मलबे में समा गए
बांग्लादेश बॉर्डर से जुड़े करीमगंज जिले के कालीगंज इलाके में छह लोग पहाड़ी के मलबे के नीचे दब गए। छह लोगों में पांच मृतक एक ही परिवार के थे। घटना के समय वे अपने घर में सो रहे थे, तभी घर समेत सभी लोग जिंदा दफन हो गए।

लगातार बारिश से भूस्खलन
बंगाल की खाड़ी से दक्षिण-पश्चिम हवाओं के तेज प्रवाह के कारण और अन्य भौगोलिक वजहों से असम में बहुत भारी बारिश हो रही है। ज्यादातर स्थानों पर भारी बारिश हो रही है। गौरतलब है कि पूर्वोत्तर भारत में अधिकतम बारिश मई में और उसके बाद जून में होती है।

Corona virus
Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned