NRC: नाम नहीं तो 10 से मिलेंगे नोटिस, न्यायाधिकरण में करनी होगी अपील

NRC: राष्ट्रीय नागरिक पंजी ( NRC ) की अंतिम सूची के प्रकाशन के बाद अराजकता का माहौल दिख रहा है। पहले यह कहा जा रहा था कि सूची के प्रकाशन के बाद जिनके...

By: Nitin Bhal

Updated: 05 Sep 2019, 10:25 PM IST

गुवाहाटी (राजीव कुमार). राष्ट्रीय नागरिक पंजी ( NRC ) की अंतिम सूची के प्रकाशन के बाद अराजकता का माहौल दिख रहा है। पहले यह कहा जा रहा था कि सूची के प्रकाशन के बाद जिनके नाम नहीं रहेंगे उन्हें 2 सितंबर से विदेशी न्यायाधिकरणों में अपील करनी होगी। अब कहा जा रहा है कि 10 सितंबर से उन लोगों को ही नोटिस दिया जाएगा जिनके नाम सूची में नहीं हैं। इस नोटिस को पाने के बाद ही वे 120 दिनों के अंदर विदेशी न्यायाधिकरण में अपील कर पाएंगे। लेकिन अब तक दो सौ नए न्यायाधिकरण पूरी तरह तैयार नहीं हैं। कहा जा रहा है कि 1 अक्टूबर से ये काम करना शुरू करेंगे। पहले के जो 100 न्यायाधिकरण हैं उनमें से 79 में ही सदस्य हैं, बाकी में सदस्य नहीं हैं। नए सदस्यों की नियुक्ति प्रक्रिया अब तक पूरी नहीं हुई है। इसलिए नाम सूची में न रहने वाले लोगों को 1 अक्टूबर तक अपील के लिए इंतजार करना होगा। नए 221 सदस्यों की नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है। एक-दो दिन में इनका प्रशिक्षण शुरू होगा। 29-30 सितंबर तक इन्हें नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। एक अक्टूबर से वे अपने-अपने न्यायाधिकरण की जिम्मेदारी लेंगे।

मिलने लगेंगे नोटिस

NRC: नाम नहीं तो 10 से मिलेंगे नोटिस, न्यायाधिकरण में करनी होगी अपील

उधर, एनआरसी की अंतिम सूची में नाम न रहने वालों को जिला उपायुक्त, सर्कल अधिकारी के कार्यालय की ओर से नोटिस 10 सितंबर से मिलनी शुरू होगी। इस नोटिस के बाद ही वे न्यायाधिकरण में अपील कर सकेंगे। मालूम हो कि सरकार को नए एक हजार न्यायाधिकरण बनाने हैं। लेकिन वह फिलहाल दो सौ बना रही है। एनआरसी में नाम न रहने वाले 19 लाख से अधिक लोगों की अपील के लिए और अधिक जल्द ही नए न्यायाधिकरण बनाने होंगे। सरकार ने कहा है कि 200 बनने के बाद फिर वह नए 200 के लिए काम शुरू करेगी।

Show More
Nitin Bhal Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned