यहां कोरोना में कर्फ्यू का उल्लंघन कर शराब पार्टी करके फंस गए पुलिस अफसर

(Assam News ) असम पुलिस के अधिकारी लॉक डाउन मेें लगे कर्फ्यू का (Police officer violatied of corona curfew ) उल्लंघन करते हुए रात्रि को एक शराब पार्टी आयोजित (Polce officers liquor party ) करके फंस गए। अब इन अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की तलवार लटक रही है। देर रात्रि को ब्रह्मपुत्र में एक शिप पर आयोजित हुई इस पार्टी का खुलासा होने के बाद पुलिस विभाग की भारी बदनामी हो रही है।

By: Yogendra Yogi

Updated: 08 Jul 2020, 06:04 PM IST

गुवाहाटी(असम): (Assam News ) असम पुलिस के अधिकारी लॉक डाउन मेें लगे कर्फ्यू का (Police officer violatied of corona curfew ) उल्लंघन करते हुए रात्रि को एक शराब पार्टी आयोजित (Polce officers liquor party ) करके फंस गए। अब इन अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की तलवार लटक रही है। देर रात्रि को ब्रह्मपुत्र में एक शिप पर आयोजित हुई इस पार्टी का खुलासा होने के बाद पुलिस विभाग की भारी बदनामी हो रही है।

पार्टी में महिलाएं भी

इस पार्टी में महिलाएं भी शामिल थी। लॉक डाउन के नियमों को आम लोगों से पालन कराने वाले पुलिस अफसर खुद ही लॉक डाउन के कारण रात में लगे कर्फ्यू का उल्लंघन करते हुए मदिरा पार्टी कर रहे हैं। राज्य के मुख्य सचिव ने इस मामले में पुलिस कमिश्नर को जांच कर दोषी अधिकारियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

शराब पार्टी का वीडियो हो गया वायरल
दरअसल पुलिस अफसरों के ब्रह्मपुत्र में एक शिप पर कॉकटेल नाइट पार्टी को लेकर सोशल मीडिया पर एक वीडियो के वायरल होने के बाद सरकार हरकत में आई। इस वीडियो में दिखाया गया है कि पुलिस अधिकारी जाम उड़ा रहे हैं। वीडियो में पार्टी में महिलाएं भी दिखाई दे रही हैं। इन्हें पुलिस विभाग की बताया जा रहा है। अन्य महिलाएं पुलिस अधिकारियों के परिवार की बताई जा रही हैं। इस वीडियो के वायरल होते ही प्रशासनिक तंत्र में खलबली मच गई।

सीएस ने दिए कार्रवाई के निर्देश
इस प्रकरण की जानकारी मिलने के बाद मुख्य सचिव कुमार संजय कृष्णा ने पुलिस कमिश्नर को मामले की जांच करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने कहा कि जांच के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। मुख्य सचिव के लिखित निर्देशों में कहा गया है कि इस तरह की शराब पार्टी से पुलिस की छवि पर प्रतिकूल असर पड़ा है। यह आयोजन आपदा अधिनियम का उल्लंघन है। सरकार के आदेशों का पालन कराना पुलिस की जिम्मेदारी है। इसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जानी चाहिए।

असम में बढ़ रहा है संक्रमण
गौरतलब है कि गुवाहाटी में कोरोना के फैलाव के कारण कुछ शर्तों के साथ लॉक डाउन में छूट दी गई है। असम में कोरोना के कारण स्थिति बिगड़ती जा रही है। अकेले गुवाहाटी में पिछले एक सप्ताह में 3 हजार 165 नए कोरोना संक्रमण के मामले मिले हैं, जबकि पूरे असम में 4 हजार 789 मामले सामेन आएं हैं। गुवाहाटी में 588 टेस्ट पॉजिटिव आए हैं। पूरे राज्य में 814 पॉजिटिव मामले 7 जुलाई को मिले हैं। कोरोना संक्रमण से अब तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned