मणिपुर में गहराया आर्थिक संकट, RBI ने लेनदेन और भुगतान पर लगाई अनिश्चितकालीन रोक

मणिपुर में गहराया आर्थिक संकट, RBI ने लेनदेन और भुगतान पर लगाई अनिश्चितकालीन रोक

Prateek Saini | Updated: 14 Jun 2019, 06:19:30 PM (IST) Guwahati, Kamrup Metropolitan, Assam, India

रिजर्व बैंक के फैसले से मणिपुर के सरकारी कर्मचारियों की तनख्वाह भी अटक गई है...

(इंफाल): मणिपुर में आर्थिक संकट गहराने के बाद भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने राज्य सरकार के हर तरह के लेनदेन और भुगतान पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। आरबीआई की असिस्टेंट मैनेजर अनिता कुमारी के हवाले से मणिपुर सरकार के साथ लेनदेन करनी वाली इम्फाल स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) को लिखे एक पत्र में कहा गया कि मणिपुर सरकार ने कोटे से अधिक ओवरड्राफ्ट कैश निकाल लिया है। इसके बाद सरकार के लेनदेन पर रोक लगा दी गई है। पत्र में लिखा है ऐसी स्थिति में तत्काल प्रभाव से इम्फाल स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, मणिपुर सरकार को दिए जा रहे सरकारी कैश को रोक दें। पूरे मामले पर संज्ञान लेते हुए मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह ने राज्य सरकार की सभी नियुक्तियों पर रोक लगा दी है। साथ ही मामले का जल्द से जल्द हल निकालने के लिए कैबिनेट और संबंधित बैंक अधिकारियों के साथ बैठक शुरू कर दी है। आपको बता दें कि रिजर्व बैंक के फैसले से मणिपुर के सरकारी कर्मचारियों की तनख्वाह भी अटक गई है। साथ ही राज्य में अचानक आर्थिक संकट खड़ा हो गया हैं।


रिजर्व बैंक की तरफ से मणिपुर सरकार के लेनदेन पर लगाई गई रोक अनिश्चितकालीन है। सरकार ने एक तिमाही में 36 दिन से ज्यादा तक ओवरड्रॉफ्ट सुविधा ली। इसके बाद आरबीआई की तरफ से स्टेट बैंक के चेयरमैन को चिट्ठी भेजी गई है। साथ ही आरबीआई ने राज्य सरकार के चेक, बिल क्लीयर नहीं करने का निर्देश भी दिया है। मणिपुर सरकार को 12 जून के बाद आरबीआई की ओर से कोई कैश निकासी सुविधा नहीं दी जाएगी। आमतौर पर निकासी सीमा ज्यादा होने पर अलर्ट आ जाता है, लेकिन चुनाव को देखते हुए रिजर्व बैंक ने रोक के लिए इंतजार किया। अब आरबीआई की तरफ से यह कदम उठाया गया है। आरबीआई की तरफ से लगी रोक को हटाने के लिए राज्य सरकार को वित्तीय हालत सुधारनी होगी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned