केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह व सोनोवाल की दिल्ली में बैठक, इन मुद्यों पर हुई चर्चा

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह व सोनोवाल की दिल्ली में बैठक, इन मुद्यों पर हुई चर्चा
cm

Prateek Saini | Publish: May, 20 2019 10:02:39 PM (IST) Guwahati, Kamrup Metropolitan, Assam, India

बैठक के अंत में मुख्यमंत्री सोनोवाल ने कहा कि असम की जनता अब शांति चाहती है...

(गुवाहाटी,राजीव कुमार): केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के साथ मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल की नयी दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक में गृहमंत्री के कार्यालय में एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। इस बैठक में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) की अंतिम सूची प्रकाशित होने के बाद की स्थिति और गुवाहाटी जू रोड में हुए ग्रेनेड विस्फोट के बारे में विस्तार से चर्चा की गई।


बैठक के अंत में मुख्यमंत्री सोनोवाल ने कहा कि असम की जनता अब शांति चाहती है। असम की जनता बम विस्फोट जैसी घटनाएं घटित हो ऐसा नहीं चाहती। राज्य की जनता शांति, समन्वय और भाईचारे के साथ रहना चाहती है। इसलिए ग्रेनेड विस्फोट की घटना की चहुंओर निंदा हुई। शांतिपूर्ण माहौल को विघ्नित करने वाले आतंकवादियों को सरकार कभी भी बख्शेगी नहीं। गुवाहाटी ग्रेनेड विस्फोट से जुड़े लोगों को पुलिस ने बेहत कम समय में गिरफ्तार किया है, जो प्रशांसनीय है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शांतिपूर्ण माहौल को कायम रखते हुए राज्य के विकास को त्वरित करना चाहती है। राज्य के शांति के माहौल को बिगाड़ने वाले तत्वों के खिलाफ सरकार कठोर कार्रवाई करेगी। सुप्रीम कोर्ट के दिशानेर्देशों के अनुसार 31 जुलाई को एनआरसी की अंतिम सूची प्रकाशित होगी। इसको लेकर केंद्रीय गृहमंत्री के साथ बातचीत की गयी है। अंतिम सूची के प्रकाशित होने के दौरान कोई अशांति न हो इसके लिए केंद्र व राज्य सरकार संयुक्त रूप से कदम उठा रही है।


मुख्यमंत्री ने आशा जताई कि प्रारूप और अंतिम प्रारूप के प्रकाशन के दौरान जिस तरह राज्य में शांति बनाये रखी उसी तरह अंतिम सूची के प्रकाशन के दौरान भी शांति बनाये रखेंगे। सबको इस प्रक्रिया में आस्था व्यक्त करते हुए सहयोग करना चाहिए। यह एक राष्ट्रीय जिम्मेदारी है। हम सभी को यह जिम्मेवारी निष्ठा के साथ पूरी करनी चाहिए। इस पूरी प्रक्रिया में कोई वैध नागरिक परेशान न हो इसकी जिम्मेवारी राज्य सरकार की है और सरकार इसे पूरा करेगी। सरकार स्वच्छता और ईमानदारी के साथ सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों के अनुसार इस पूरी प्रक्रिया को आगे बढ़ाने में सहयोग कर रही है। जनता भी इस दिशा में सकारात्मक दृष्टिकोण से सहयोग दें।


सोनोवाल ने कहा कि असम के लोगों के जानमाल की सुरक्षा सुनिश्चित करना सरकार की जिम्मेवारी है और सरकार वह कर रही है। यदि कोई असुविधा आये तो राज्य सरकार को अवगत कराएं। उन्होंने आगे कहा कि एनआरसी को तैयार करने की जिम्मेवारी राज्य समन्वयक की है, लेकिन इस बारे में जनता की समस्याओं को हल करने का प्रयास राज्य सरकार कर रही है। आगे भी राज्य सरकार इस तरह का सहयोग करती रहेगी। सोनोवाल ने कहा कि किसी वैध भारतीय नागरिक का नाम एनआरसी से न छूटे उसके लिए केंद्र व राज्य सरकार एनआरसी प्रबंधन को पूरा सहयोग दे रही है। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया कि भारतीय नागरिकों को एनआरसी को लेकर शंकित होने की आवश्यकता नहीं है। आज की इस बैठक में केंद्रीय गृह सचिव जीएस सैनी, राज्य के मुख्य सचिव आलोक कुमार, पुलिस महानिदेशक कुलधर सैकिया और एनआरसी के राज्य समन्वयक प्रतीक हाजेला समेत शीर्ष अधिकारी मौजूद थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned