मिजोरम में जियोना का परिवार है विश्व में सबसे बड़ा, 38 बीवियों और 94 बच्चों के साथ रहता है चार मंजिले भवन में

मिजोरम में जियोना का परिवार है विश्व में सबसे बड़ा, 38 बीवियों और 94 बच्चों के साथ रहता है चार मंजिले भवन में
Ziona's family

| Publish: Jul, 23 2018 03:52:05 PM (IST) Guwahati, Assam, India

जियोना की 38 बीवियां और 94 बच्चे हैं। उसने मिजोरम के सर्चहिप जिले के चहूअंथर के खूबसूरत तलंगनुआम में अपना 74 वां जन्म दिन मनाया।

राजीव कुमार

गुवाहाटी। विश्व के सबसे बड़े परिवार के मुखिया के रुप में मिजोरम के जियोना को जाना जाता है। वह अब 74 साल के हो चुके हैं। जियोना की 38 बीवियां और 94 बच्चे हैं। उसने मिजोरम के सर्चहिप जिले के चहूअंथर के खूबसूरत तलंगनुआम में अपना 74 वां जन्म दिन मनाया। स्थानीय लोगों ने इस अवसर पर एक परेड चहूअंथर स्टेडियम तक निकाली। जियोना तीन हजार की आबादी के धार्मिक मत वाले संप्रदाय का मुखिया है। इस संप्रदाय को चना पावला कहा जाता है। इसमें अर्चना और नृत्य की अनूठी परपंरा है। परेड के बाद स्टेडियम में इनका प्रदर्शन किया गया। जियोना इस दौरान
स्टेडियम में मौजूद था। लेकिन वह खामोश रहा। समारोह के समापन के दौरान जियोना के घर के सामने घर के सभी सदस्यों की मौजूदगी में एक विशाल सामुदायिक भोज का आयोजन किया गया।

 

180 सदस्‍यों का एक साथ निवास


जियोना के घर को नई पीढ़ी का चहूअंथर रन या हवेली कहा जाता है। फिलहाल इस घर में 180 लोग रहते हैं। जियोना की पत्नी के अलावा उसके बच्चे और उनके बच्चे चार मंजिले भवन में रहते हैं। जन्म के बाद से उसके 10 बच्चे मर चुके हैं। इस घर में बहूएं, पौते-पौत्रियां रहती हैं। जियोना की एक पत्नी ने बताया कि कुछ बेटियां और पड़पौतियां गांव छोड़कर अन्यत्र विवाह कर चली गई है। इनमें अधिकांश एजल में रहती है। ये शादी के बाद भी धार्मिक विश्वास को बनाए रख रही हैं। चना पावला संप्रदाय को असल में खुआंगतुहा ने खुआंगतुहा पावल नाम से शुरु किया था। यह 1940 की बात है। प्रेस्बिटेरियन गिरजाघर के नेताओं के अनुरोध पर लुसाई हिल्स के ब्रिटिश प्रशासकों ने इस संप्रदाय के सदस्यों को बरतावंग इलाके से खदेड़ दिया था। तब संप्रदाय के लोग हमांगकावन गांव में चले आए।

 

पहली 15 तो अंतिम शादी 60 साल में


खुआंगतुहा की मौत के बाद उसके युवा भाई चना ने इसका नेतृत्व संभाला। चना की मौत के बाद संप्रदाय का नेतृत्व चना के भाई जियोना ने संभाला। उसके समर्थक जियोना को होतुपा(नेता) कहकर बुलाते हैं। उसका जन्म 21 जुलाई 1944 को हुआ था। उसने अपनी पहली पत्नी जथियांगी से 1959 में शादी की थी। तब जियोना की उम्र सिर्फ 15 साल थी। उसने दूसरी पत्नी के साथ 1968 में 24 साल की उम्र में शादी की। उसने अंतिम शादी 2004 में की। तब जियोना की उम्र 60 साल थी जबकि पत्नी 25 साल की थी। जियोना के बड़े बेटे ननपरलियाना की उम्र फिलहाल 58 साल है। उसकी दो पत्नियां और 13 बच्चे हैं। जियोना अपनी 38 पत्नियों को दो कमरे में रखता है जबकि उसका बड़ा बेटा अपनी दोनो पत्नियों को एक ही कमरे में रखता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned