बड़ी चूकः सिंधिया का काफिला छोड़ दूसरे वाहन की सुरक्षा में जुटी पुलिस, 14 पुलिसकर्मी सस्पेंड

major lapse in security: ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में चूक के मामले में पुलिस विभाग की बड़ी कार्रवाई...।

By: Manish Gite

Published: 21 Jun 2021, 04:08 PM IST

ग्वालियर। दिल्ली से सड़क मार्ग से आ रहे राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है। जब मध्यप्रदेश की मुरैना बार्डर पर लेने गया पायलट वाहन सिंधिया की जगह उनके जैसी ही अन्य वाहन की पायलेटिंग करने लगा। पुलिस को अपनी गलती का अहसास होता तब तक बहुत देर हो चुकी थी। पुलिस विभाग ने इस लापरवाही के लिए क्षेत्र के 14 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।

 

यह भी पढ़ेंः 400 कमरे वाले महल में रहते हैं सिंधिया, विश्व की ब्यूटीफुल वुमंस में शामिल रह चुकी हैं इनकी वाइफ

scindia.jpg

 

राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया रविवार रात को सड़क मार्ग से दिल्ली से ग्वालियर आए हैं। सिंधिया के काफिले में उनके अलावा एक और वाहन भी साथ था। मुरैना पुलिस सिंधिया और उनके साथ चल रही दूसरी गाड़ी को सुरक्षा में निरावली तक आई। उसके आगे की जिम्मेदारी ग्वालियर पुलिस की थी। इसके लिए पुलिस लाइन से पायलट और फॉलो वाहन उनके ग्वालियर पहुंचने से पहले निरावली पर पहुंच गए, लेकिन जब सिंधिया का वाहन निरावली पहुंचा तो मुरैना पुलिस की टीम से ग्वालियर पुलिस की पायलट टीम का तालमेल नहीं बैठ पाया।

 

यह भी पढ़ेंः भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बोली कोरोना को लेकर यह बात, देखें video

सिंधिया के वाहन के रंग की ही दूसरी गाड़ी हाईवे पर आ गई, तो सुरक्षाकर्मी गफलत में आ गए। ग्वालियर की टीम सिंधिया का वाहन छोड़ दूसरे वाहन के आगे-आगे दौड़ने लगी। कुछ मिनट बाद पायलट और फालोटीम को जब पता चला कि वे गलत गाड़ी की पायलटिंग कर रहे, तब तक सिंधिया का वाहन काफी आगे निकल गया था। तब तक पायलट और फॉलो टीम भटक गई।

 

हजीरा पुलिस ने संभाला मोर्चा

सिंधिया का वाहन बगैर पायलट और फालो गाड़ी के गुजरा तो वहां तैनात हजीरा पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया। हजीरा टीआई आलोक परिहार और उनकी टीम की नजर सिंधिया की गाड़ी पर पड़ी तो वे भी हैरान हो गए। जब पायलट और फालो वाहन नहीं दिखा तो परिवाह ने उनके वाहन की पायलटिंग संभाल ली। वे जयविलास पैलेस तक आगे-आगे गए।

 

यह भी पढ़ें: ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी सड़क पर गिरा, काफिला रोककर मदद करने पहुंचे सिंधिया

पुलिस विभाग में खलबली

बगैर पायलट और फालो वाहन के बारे में जब पुलिस महकमे को पता चला तो खलबली मच गई। इसके बाद बड़े अफसर भी सिंधिया के महल पहुंच गए थे। गौरतलब है कि 12 जून को भी सिंधिया ग्वालियर दौरे पर थे। जब वे दिल्ली जा रहे थे तभी गोला का मंदिर में एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने उनकी चलती कार को रोक दिया था और जबरन ज्ञापन सौंपा था।

Jyotiraditya Scindia
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned