script150 people got attack in 5 days | कड़कड़ाती ठंड से जरा संभलकर रहें, 5 दिन में 150 को लोगों को आया अटैक, 6 की मौत | Patrika News

कड़कड़ाती ठंड से जरा संभलकर रहें, 5 दिन में 150 को लोगों को आया अटैक, 6 की मौत

-दिल के मरीजों पर सर्दी भारी
- अस्पतालों में हर दिन लगभग 30 मरीज हो रहे भर्ती

ग्वालियर

Updated: January 10, 2022 02:04:15 pm

ग्वालियर। शीतलहर के साथ हाड़ कंपा देने वाली ठंड अब जानलेवा होने लगी है। नये साल से तो बुरा हाल हो गया है। ऐसे में सबसे ज्यादा हार्ट अटैक या हार्ट की समस्या तेजी से बढ़ी है। पिछले पांच दिनों में ही हार्ट अटैक के मरीजों की संख्या 30 फीसदी तक बढ़ गई है। जेएएच सहित अन्य निजी अस्पतालों में हार्ट अटैक के पांच दिनों में ही 150 मरीज भर्ती हुए। इसके साथ ही छह मरीजों की मौत हो गई है।

11.jpg
heart attack

कार्डियोलॉजी में इस सीजन में ब्लड प्रेशर, हार्ट अटैक के नए मरीजों के साथ पुराने मरीज भी आ रहे हैं। इसमें सबसे ज्यादा युवा अवस्था के 20 से 40 वर्ष के लोग शामिल है। इसमें कई मरीज तो ऐसे भी आ रहे हैं। जिन्होंने काफी समय से दवा छोड़ दी है। वहीं अब जेएएच के कार्डियोलॉजी में तो मरीजों के भर्ती होने से पहले फॉर्म पर यह लिखवाया जा रहा है कि मरीज को पूर्व में कोरोना तो नहीं हुआ। अभी तक यहां आकर कई मरीज गलत जानकारी देकर इलाज करा लेते थे।

यह रखें सावधानी

- मॉर्निंग वॉक पर जल्दी न निकले, धूप निकलने के बाद ही ऊनी कपड़े पहनकर घर से निकले।
- खान पान का विशेष ध्यान रखे।
- हार्ट के मरीज हृदय रोग से बचने के लिए ब्लड प्रेशर, शुगर व कोलेस्ट्रॉल की नियमित जांच कराएं।
- अगर कोई भी समस्या आती है तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें, ताकि समस्या का समय पर समाधान हो सके।

ये हैं लक्षण

छाती में दर्द
'घबराहट होना
सांस लेने में तकलीफ होना
पसीना आना

यह सभी लक्षण हार्ट अटैक के होते के होते हैं। ऐसे में लोगों को तुरंत डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए। वहीं बीपी और ईसीजी करा लेना चाहिए। पुनीत रस्तोगी, विभागाध्यक्ष डॉ. कार्डियोलॉजी, जीआरएमसी का कहना है कि हार्ट के मरीजों को इस समय आवश्यकता है। अगर किसी को भी सांस लेने में परेशानी के साथ सीने में दर्द हो तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। पिछले पांच दिनों में मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ अस्पताल आने से पहले ही लगभग छह लोगों की मौत हुई हैं। वहीं डॉ. राम रावत, कार्डियोलॉजी जीआरएमसी का कहना है कि ठंड के मौसम में हार्ट के जों को विशेष रूप से खान-पान का ख्याल रखना चाहिए। अगर हार्ट संबंधी कोई भी समस्या होने पर डॉक्टर की सलाह लें।

हार्ट अटैक के दौरान व्यक्ति क्या करें-

- अगर किसी व्यक्ति को हार्ट अटैक के लक्षण नजर आते हैं तो उसे तुरंत अपने रिश्तेदार, पड़ोसी या एंबुलेंस को कॉल करना चाहिये।
- घर पर अकेले रहने की स्थिति में व्यक्ति को हमेशा अपने पास डिस्प्रिन की गोली रखना चाहिये।
- हार्ट अटैक की स्थिति में डिस्प्रिन की एक गोली को खा लेना चाहिये। ना हो तो पानी में घोल कर भी पी सकते हैं।
- अगर आप घर पर अकेले हैं तो किसी के सहारे के बीना चलने की कोशिश ना करें।
- खांसी ना आने पर भी जबरदस्ती खांसी करने की कोशिश करें।
- घर पर एक डिजिटल बीपी मशीन है, तो अपने बीपी की तुरंत जांच करें।
- अगर आपका बीपी सामान्य से कम है, तो अपने बिस्तर पर लेट जाएं।
- अगर बीपी सामान्य से ज्यादा है, तो आप अपनी जीभ के नीचे 5 मिलीग्राम सोरबिट्रेट रख लें

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.