निजीकरण के विरोध में दूसरे दिन भी 200 शाखाएं रहीं बंद, 30 फीसदी एटीएम हुए खाली

- बैंककर्मियों की दो दिवसीय हड़ताल से 300 करोड़ के लेन-देन हुए प्रभावित, ग्राहकों को भी हुई परेशानी

By: Narendra Kuiya

Updated: 17 Mar 2021, 12:08 AM IST

ग्वालियर. शहर की सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों में मंगलवार को दूसरे दिन भी हड़ताल जारी रही। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के आव्हान पर की गई बैंक हड़ताल में सार्वजनिक क्षेत्र के 12 बैंकों की 200 शाखाओं के 3000 अधिकारी-कर्मचारी नो वर्क-नो पे के आधार पर शामिल हुए। बैंककर्मियों मुताबिक इस दो दिवसीय हड़ताल की वजह से शहर में करीब 300 करोड़ के लेन-देन प्रभावित हुए हैं। वहीं लगातार बैंकों के बंद रहने के कारण कई एटीएम भी खाली हो गए। कुछ में तकनीकी खामी आई तो बकायदा तख्ती भी चस्पा कर दी गई। हालांकि, बैंकों द्वारा ग्राहकों को हड़ताल के कारण असुविधा से बचने के लिए डिजिटल लेन-देन करने की सलाह दी गई थी। कई लोगों ने डिजिटल विकल्प के माध्यम से लेन-देन भी किया। जानकारी के मुताबिक करीब 30 फीसदी एटीएम पर रुपए खत्म हो गए थे। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस समेत बैंकों से जुड़े नौ अधिकारी-कर्मचारी संगठनों ने दो दिवसीय हड़ताल का आव्हान किया था। दूसरे दिन बैंककर्मियों ने प्रदर्शन के दौरान पोस्टर-बैनर के जरिए सरकारी नीतियों को गलत बताया।

एटीएम हुए खाली, कई व्यापारियों के चेक अटके
बैंक बंद रहने से ग्राहकों ने एटीएम के जरिए रकम निकाली। फिर भी मंगलवार को शहर के अधिकांश एटीएम खाली हो गए थे। हड़ताल के कारण कई व्यापारियों के चेक भी अटके रहे। कपड़ा कारोबारी अनिल अग्रवाल ने बताया कि शुक्रवार को बैंक में चेक क्लियर होने के लिए जमा किया था। मगर मंगलवार तक खाते में राशि नहीं आई। अब बुधवार शाम तक चेक की राशि जमा होने की उम्मीद है।

बुधवार को बैंकों में उमड़ेगी भीड़
चार दिन तक लगातार बैंकों के बंद रहने के बाद बुधवार 17 मार्च को सभी बैंकों में ग्राहकों की भीड़ उमडऩे की उम्मीद है। 13 मार्च को महीने का दूसरा शनिवार, 14 मार्च को रविवार और फिर सोमवार और मंगलवार को दो दिवसीय हड़ताल के चलते बैंक बंद रहे हैं।

डांस करते हुए प्रदर्शन में की नारेबाजी
हड़ताल के दूसरे दिन बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुबह 9.30 बजे फूलबाग स्थित बैंक ऑफ इंडिया की शाखा पर एकत्रित होकर प्रदर्शन प्रारंभ किया। बैंककर्मियों का ये प्रदर्शन दोपहर 12 बजे तक जारी रहा। इस दौरान महिला बैंककर्मियों ने ग्रुप बनाकर डांस करते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। प्रदर्शन के दौरान यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के संयोजक अवधेश अग्रवाल, भारतीय स्टेट बैंक कर्मचारी संघ ग्वालियर अंचल के उप महासचिव हेमंत गोस्वामी, हर्ष अरोरा, आरसी धनगर, अनूप सिंह राणा, अजय देवले, भरत शर्मा, अतुल प्रधान, सुनील हर्षे, रामस्वरूप, संजय रणदीव, अजय गुप्ता, नवीन व्यास, गोवर्धन शर्मा, हिमांशु सारस्वत, रितिका बघेल, निर्मला कुशवाह, मंजू भगत, रचना गोस्वामी, अंजली सक्सेना आदि मौजूद रहे।

Narendra Kuiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned