100 लिस्ट में 30 के नाम और नंबर गलत, 5 के रिपीट, कैसे हारेगा कोरोना

कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण को लेकर पहले दिन जितना उत्साह लोगों में देखने को मिला उतना सोमवार को नहीं दिखा। मुरार जिला अस्पताल में तो हालात ये हो गए कि 100 लोगों का टीकाकरण होना...

ग्वालियर. कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण को लेकर पहले दिन जितना उत्साह लोगों में देखने को मिला उतना सोमवार को नहीं दिखा। मुरार जिला अस्पताल में तो हालात ये हो गए कि 100 लोगों का टीकाकरण होना था, लेकिन इनमें से 30 स्वास्थ्य कर्मचारियों के नाम और मोबाइल नंबर तकनीकी कारण से सूची में गलत थे। इस कारण इन लोगों तक मैसेज नहीं पहुंच सका। वहीं इस सूची में पांच नाम दोहराए गए थे। इसके चलते 35 लोग इस वैक्सीन से वंचित रह गए। जेएएच में सुबह से ही डॉक्टरों ने अपनी रुचि दिखाते हुए वैक्सीन सेंटर तक पहुंचकर वैक्सीनेशन कराया। जिले में 400 में से मात्र 175 लोगों ने टीका लगवाया है।


डॉक्टरों ने कहा अभी हम दवा खा रहे है संभव नहीं है
मुरार जिला अस्पताल में सीनियर डॉक्टर भी वैक्सीन लगवाने के लिए सामने नहीं आ रहे है। पूर्व सीएमएचओ ने वैक्सीन लगवाने के लिए मना करते हुए कहा कि सिर में दर्द हो रहा है। इसकी दवा खा रहा हूं इसलिए अभी वैक्सीन लगवाना संभव नहीं है। वहीं तीन अन्य डॉक्टरों ने भी बहाने बनाते हुए कहा कि आज मुझे काफी चक्कर आ रहे हैं। वहीं दो डॉक्टरों ने बाहर होना बताया। इसके साथ ही अस्पताल में पदस्थ वार्ड वॉय और लेखा अधिकारी ने भी पुराना अटैक और बीमारी बताकर टीका अभी नहीं लगवाया है।


किसी ने बीमारी का तो किसी ने बाद में लगवाने को कहा
वैक्सीन लगवाने को लेकर अब डॉक्टरों के साथ स्वास्थ्य कर्मचारी भी तरह - तरह के बहाने बनाकर बचने का प्रयास कर रहे है। इसमें सबसे ज्यादा मुरार जिला अस्पताल के फ्रंट लाइन वॉरियर्स शामिल है। सोमवार को इसी के चलते जिला अस्पताल में 100 में से मात्र 29 लोगों को ही टीके लग सके।
जेएएच के डॉक्टर आगे आकर लगवा रहे वैक्सीन : जिले में सबसे ज्यादा अभी तक जेएएच में ही डॉक्टरों व अन्य स्टाफ ने वैक्सीन लगवाई है। यहां दो दिनों में 200 में से 143 लोग वैक्सीन लगवा चुके है। इसके साथ ही सोमवार को भी जेएएच के कई सीनियर प्रोफेसर व अन्य डॉक्टर वैक्सीन लगवाने पहुंचे।


100-100 को बुलाया, हाल ऐसा

जेएएच - 76
जिला अस्पताल- 29
डबरा - 20
भितरवार - 50

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned