व्यायाम शाला में लटकी मिली महिला की बॉडी,रिश्तेदारों को गुमराह करता रहा पति

व्यायाम शाला में लटकी मिली महिला की बॉडी,रिश्तेदारों को गुमराह करता रहा पति

monu sahu | Publish: Apr, 17 2018 04:56:14 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

व्यायाम शाला में लटकी मिली महिला की बॉडी,रिश्तेदारों को गुमराह करता रहा पति

ग्वालियर। अच्चुतानंद व्यायाम शाला के अंदर रजनी कुशवाह की रहस्यमय मौत हो गई। पति भोला कुशवाह ने बताया कि पत्नी ने चुपचाप शाला में बने गुरु निवास की खिड़की से बंद कमरों में घुसकर फांसी लगाई है। उसने पत्नी का शव फंदे पर लटका देखा तो उसे नीचे उतारा। रजनी के मायके वालों का आरोप है बेटी को भोला ने मारा है। दोपहर से भोला उन्हें फोन कर गुमराह कर रहा था कि रजनी घर से लापता है। उसे तलाशने का ढोंग भी किया। फिर शाम को बताया रजनी ने फांसी लगा ली है।

 

रामलाल कुशवाह ने बताया भांजी रजनी की शादी करीब १० साल पहले भोला कुशवाह निवासी अच्चुतानंद व्यायाम शाला से की थी। करीब ६ महीने पहले रजनी के बेटे रोहित (४) साल की भी मौत हो चुकी है। बेटे की मौत से रजनी दुखी थी,पति भोला उसे आए दिन तंग करता था। भोला काम धाम नहीं करता था। इसलिए घर में गरीबी के हालात थे। बेटी की परेशानी देखकर मायके पक्ष ने भोला को दुकान भी खुलवाई थी लेकिन फिर भी भोला की आदतें नहीं सुधरीं।

 

सोमवार को भोला ने ससुराल फोन कर कहा सुबह से रजनी लापता है तो मायके से लोग बेटी के घर पहुंचे। भोला सब को सागरताल ले गया,वहां से इधर उधर घुमाया। दोपहर तक रजनी का पता नहीं चला तो सोचा कि किसी परिचित के घर होगी। शाम तक वापस आ जाएगी। कुछ देर बाद भोला ने फोन कर बताया कि रजनी का शव फांसी पर लटका है। आशंका है कि भोला का दिन के वक्त रजनी से विवाद हुआ है। उसने पत्नी की हत्या कर उसके लापता होने और फांसी की कहानी बनाई है।

 

12 फीट ऊंचाई, बिना सहारे कैसे फांसी
रजनी के परिजन का कहना है भोला व्यायाम शाला के अंदर बंद कमरों में रजनी का शव फंदे पर लटका मिलना बता रहा है। उन कमरों की छत फर्श से करीब १२ फीट ऊंची है। वहां कोई सामान भी नहीं है। सब कमरे खाली पड़े हैं। रजनी किसी सहारा छत पर फंदा नहीं बना सकती जबकि भोला कह रहा है पत्नी ने दुपट्टे से फांसी लगाई है। दुपट्टा काट कर शव उतारा है। कपड़े का एक सिरा तो रजनी के गले में लिपटा मिला लेकिन कुंदे में कोई कपड़ा बंधा नहीं था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned