कोरोना पर काबू के लिए बनाया जेल प्रशासन ने प्लान... पैरोल वापसी पर 300 बंदियों को मिलेगी जेल में एंट्री

पैरोल पर जेल से बाहर निकाले गए 600 बंदियों की वापसी की तारीख नजदीक आ रही है, इनमें तमाम बंदी ऐसे हैं जिनके घर कोरोना हॉटस्पॉट वाले इलाकों में हैं। एक साथ सभी बंदियों की वापसी से जेल में कोरोना संक्रमण...

ग्वालियर. पैरोल पर जेल से बाहर निकाले गए 600 बंदियों की वापसी की तारीख नजदीक आ रही है, इनमें तमाम बंदी ऐसे हैं जिनके घर कोरोना हॉटस्पॉट वाले इलाकों में हैं। एक साथ सभी बंदियों की वापसी से जेल में कोरोना संक्रमण का खतरा गहरा सकता है। इससे निजात के लिए जेल प्रशासन ने प्लान तैयार किया हैं कि सभी 600 बंदियों को एक साथ जेल में वापस नहीं लिया जाएगा। आधे बंदियों को जेल में लाया जाएगा और आधे बंदियों को अगले क्वार्टर की पैरोल दी जाएगी। इससे जेल में भीड़ नहीं बढ़ेगी। जिन बंदियों को जेल में दाखिला मिलेगा उन्हें 16 बाद फिर पैरोल देकर बाहर रखे गए बंदियों की वापसी की जाएगी। इससे जेल में बंदियों का एकदम इजाफा भी नहीं होगा और आइसोलेशन में बंदियों को रखना आसान भी होगा।
जेल अधीक्षक मनोज साहू ने बताया कि जेल में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए तमाम प्रयास किए जा रहे हैं। नए बंदियों की आमद जारी है। उन्हें आइसोलेशन वार्ड में रखा जाता है। उनकी कोरोना सैंपल की जांच रिपोर्ट आने के बाद बैरक में भेजा जाता है। कोरोना की वजह से जेल से करीब 600 बंदियों को पैरोल पर छोड़ा गया था। अब उनकी वापसी की तारीख 26 जुलाई से होना है। इसलिए बंदियों का इजाफा होगा। खुटका है कि जो बंदी आएंगे उनमें कोरोना संक्रमण नहीं हो। इसलिए वापस लौटने वाले बंदियों का कोरोना जांच के बाद ही जेल में दाखिल किया जाएगा। उन्हें भी जांच रिपोर्ट आने तक आइसोलेशन में रखा जाएगा।


इसके अलावा आधे-आधे का गणित
जेल प्रशासन ने तय किया है एक साथ सभी 600 बंदियों को पैरोल से वापस नहीं लेंगे। पहली खेप में सिर्फ 300 बंदियों को एंट्री दी जाएगी। इन बंदियों को 16 दिन जेल में रखा जाएगा। इस दौरान बाकी 300 बंदियों को अगले खेप की पैरोल दे दी जाएगी। यह अवधि 16 दिन की रहेगी। इन 16 दिन में जेल में लिए गए बंदियों रखा जाएगा। पैरोल बढ़ाकर बाहर रखे बंदियों की वापसी शुरू होती तब पहले दौर में वापस लिए गए बंदियों को अगले सत्र की पैरोल देकर घर भेजा जाएगा। इससे संतुलन सामान्य रहेगा।


जेल मुख्यालय को भेजा प्लान
जेल में कोरोना संक्रमण से बचने के लिए बनाया गया प्लान जेल मुख्यालय को भेजा गया है। अफसरों इसके हिसाब से बंदियों को जेल में वापस लेने की हरी झंडी भी दी है।

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned